टोक्यो में कुश्ती के सेमीफाइनल में बजरंग पुनिया का हो सकता है हाजी अलीयेव या डौलेट नियाजबेकोव से सामना

राउंड ऑफ 16 में भारतीय पहलवान बजरंग पुनिया के अभियान की शुरुआत किर्गिस्तान के एर्नाजर अकमातालिवे के खिलाफ मुकाबले से होगी।

लेखक शिखा राजपूत
फोटो क्रेडिट Getty Images

शुक्रवार को टोक्यो ओलंपिक में भारतीय पहलवान बजरंग पुनिया Bajrang Punia का मुकाबला किर्गिस्तान के एर्नाजर अकमातालिवे (Ernazar Akmataliev) से होगा।

पुरुषों की 65 किग्रा फ्रीस्टाइल कुश्ती में दूसरी वरीयता प्राप्त बजरंग पुनिया ओलंपिक में डेब्यू कर रहे हैं, और उन्हें टोक्यो 2020 में भारत के लिए पदक का दावेदार माना जा रहा है।

बजरंग पुनिया दो बार के एशियाई चैंपियन हैं और उन्होंने विश्व चैंपियनशिप में रजत पदक जीता है।

बजरंग, अगर अपनी शुरुआती बाउट जीत जाते हैं तो आगे उनका सामना या तो एशियाई चैंपियनशिप के कांस्य-पदक विजेता ईरान के मोर्टेजा घियासी (Morteza Ghiasi) से होगा, या फिर 70 किग्रा वर्ग में पूर्व अफ्रीकी चैंपियन ट्यूनीशिया के हैथेम दखलौई (Haithem Dakhlaoui) से उनकी टक्कर हो सकती है।

दोनों मुकाबलों में बजरंग पुनिया की जीत की उम्मीद है, और उनकी असली चुनौती सेमीफाइनल में होगी।

भारतीय पहलवान अजरबैजान के हाजी अलीयेव (Haji Aliyev) से भिड़ सकते हैं, जो 57 किग्रा में रियो 2016 के कांस्य पदक विजेता और 61 किग्रा में तीन बार के विश्व चैंपियन हैं।

सेमीफाइनल में बजरंग पुनिया के लिए एक और संभावित प्रतिद्वंद्वी से टक्कर हो सकती है, कजाकिस्तान के दौलेट नियाजकेबोव (Daulet Niyazkebov) जो विश्व चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता और 2018 एशियाई चैंपियन है।

एक अन्य भारतीय पहलवान सीमा अंतिल (Seema Antil) शुक्रवार को अपने पहले ओलंपिक में महिलाओं की 50 किग्रा फ्रीस्टाइल के राउंड ऑफ 16 में ट्यूनीशिया की सारा हमदी (Sarra Hamdi) से मुकाबला करेंगी।

अगर वह बाउट जीत जाती है, तो भारतीय पहलवान क्वार्टर फाइनल में शीर्ष वरीयता प्राप्त मारिया स्टैडनिकी (Mariya Stadnik) से भिड़ेंगी। मारिया तीन बार की ओलंपिक पदक विजेता और 2019 विश्व चैंपियन हैं।

पुरुषों के 65 किग्रा और महिलाओं की 50 किग्रा फ्रीस्टाइल कुश्ती के सेमीफाइनल तक के राउंड ऑफ 16 का दौर शुक्रवार को होगा, जिसमें रेपेचेज, कांस्य मैच और फाइनल शनिवार को होगा।