स्टॉकहोम डायमंड लीग: नीरज चोपड़ा ने तोड़ा राष्ट्रीय रिकॉर्ड, 89.94 मी का किया थ्रो 

इस महीने नीरज चोपड़ा ने दूसरी बार राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ा है और वह स्टॉकहोम में दूसरे स्थान पर रहे। उनके सभी छह थ्रो मान्य थे, जिनमें चार थ्रो 85 मीटर से अधिक के थे।

लेखक शिखा राजपूत
फोटो क्रेडिट 2021 Getty Images

ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता नीरज चोपड़ा ने गुरुवार को स्वीडन में आयोजित स्टॉकहोम डायमंड लीग 2022 में दूसरा स्थान हासिल किया और एक बार फिर राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ दिया।

नीरज चोपड़ा के 89.94 मीटर के पहले थ्रो ने उनके 89.30 मीटर के अपने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ रिकॉर्ड को तोड़ने में मदद की। ये रिकॉर्ड इस महीने की शुरुआत में फिनलैंड में हुए पावो नुरमी गेम्स में दर्ज किया गया था। भारतीय जैवलिन थ्रोअर 90 मीटर के थ्रो से सिर्फ छह सेंटीमीटर पीछे रह गए।

नीरज चोपड़ा ने कहा, "आज मुझे काफी अच्छा महसूस हो रहा है और पहले थ्रो के बाद मुझे लगा कि मैं आज 90 मीटर से भी अधिक का थ्रो कर सकता हूं। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। इस साल मैं कई प्रतियोगिताओं में हिस्सा लूंगा और कोशिश जारी रखूंगा। मैं 90 मीटर के बहुत करीब हूं और मैं इसे इस साल जरूर हासिल कर सकता हूं।"

भारतीय जैवलिन थ्रोअर ने कहा, "यह सच है कि मैं आज रात नहीं जीता, लेकिन मुझे बहुत अच्छा लग रहा है क्योंकि मैंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।"

ग्रेनेडा के विश्व चैंपियन एंडरसन पीटर्स ने अपने तीसरे प्रयास में 90.31 मीटर का थ्रो किया, जो उन्हें शीर्ष स्थान पर पहुंचाने के लिए काफी था। इसी के साथ उन्होंने प्रतियोगिता का 16 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ दिया।

पीटर्स ने कहा, "मैं वास्तव में फिट नहीं हूं। मुझे पीठ में चोट लगी है। यह धीरे-धीरे बेहतर हो रहा है लेकिन मुझे उम्मीद है कि जल्द ही मैं फिर से पहले की तरह प्रतिस्पर्धा करुंगा।"

एंडरसन पीटर्स ने कहा, "90 मीटर थ्रो करना वास्तव में बहुत ही अच्छा था, मैं नीरज से 90 मीटर का थ्रो करने के लिए बहुत प्रेरित था। क्योंकि उन्होंने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ और राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ प्रतियोगिता की शुरुआत की थी और यह बेहतर शुरुआत के लिए बहुत शानदार था।"

दुनिया के चौथे नंबर पर काबिज जर्मनी के जूलियन वेबर 89.08 मीटर के थ्रो के साथ तीसरे स्थान पर रहे। 2016 डायमंड लीग चैंपियन जैकब वाडलेज चौथे स्थान पर रहे। उन्हें जूलियन ने अपने पेनल्टीमेट थ्रो (आखिरी से पहले) के साथ पछाड़ दिया।

रिकॉर्ड तोड़ने वाले पहले थ्रो के बाद नीरज चोपड़ा ने अपने बाद के प्रयासों में 84.37 मीटर, 87.46 मीटर, 84.77 मीटर और 86.67 मीटर का थ्रो किया और वह शीर्ष तीन एथलीटों में से एक थे, जिन्होंने अपने छठे प्रयास के दम पर पोडियम पर शीर्ष स्थान पर जगह बनाई।

हालांकि, 24 वर्षीय भारतीय जैवलिन स्टार अपने आखिरी प्रयास में सिर्फ 86.84 मीटर का थ्रो कर सके और वह एंडरसन पीटर्स से पीछे रह गए।

डायमंड लीग में नीरज चोपड़ा ने आठवीं बार प्रतिस्पर्धा की और मीट में उन्होंने पहली बार शीर्ष-तीन में जगह बनाई।

स्टॉकहोम में नीरज चोपड़ा दूसरे स्थान पर जगह हासिल करने के लिए सात अंक अर्जित किए और डायमंड लीग की क्वालिफिकेशन स्टैंडिंग में चौथे स्थान पर रहे।

सितंबर में सभी क्वालिफिकेशन मीट के अंत में शीर्ष छह एथलीट ज्यूरिख में डायमंड लीग फाइनल में प्रतिस्पर्धा करेंगे।

नीरज चोपड़ा ने इस महीने की शुरुआत में टोक्यो 2020 के बाद प्रभावशाली वापसी की। 86.69 मीटर थ्रो के साथ कुओर्टेन गेम्स में स्वर्ण पदक जीतने से पहले पावो नुरमी गेम्स में रजत पदक हासिल किया था, जिसमें उन्होंने 89.30 मीटर थ्रो के साथ राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ा था।

स्टॉकहोम डायमंड लीग जुलाई में विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप और राष्ट्रमंडल खेल से पहले नीरज चोपड़ा की यह आखिरी प्रतियोगिता थी।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स