"मैं और क्या कर सकता हूं" - शोमा उनो ने फिगर स्केटिंग को लगभग क्यों छोड़ दिया?

वह प्योंगचांग 2018 शीतकालीन ओलंपिक के रजत पदक विजेता हैं, इसके साथ ही वर्ल्ड चैंपियनशिप में दो रजत पदक हासिल कर चुके हैं और दो बार ग्रां प्री फाइनल में उपविजेता रहे हैं। अब वह "स्केटिंग में लीडिंग मैन" बनना चाहते हैं। खेल से लगभग दूर होने के बाद, जापानी स्टार ने बीजिंग 2022 खेलों में पोडियम के शीर्ष पर पहुंचने की कोशिश करने के लिए कोचिंग की तरफ झुकाव किया। उनो ने एक खास इंटरव्यू में कई चीजों पर अपनी राय दी।

"मैं और क्या कर सकता हूं" - शोमा उनो ने फिगर स्केटिंग को लगभग क्यों छोड़ दिया?

वह प्योंगचांग 2018 शीतकालीन ओलंपिक के रजत पदक विजेता हैं, इसके साथ ही वर्ल्ड चैंपियनशिप में दो रजत पदक हासिल कर चुके हैं और दो बार ग्रां प्री फाइनल में उपविजेता रहे हैं। अब वह "स्केटिंग में लीडिंग मैन" बनना चाहते हैं। खेल से लगभग दूर होने के बाद, जापानी स्टार ने बीजिंग 2022 खेलों में पोडियम के शीर्ष पर पहुंचने की कोशिश करने के लिए कोचिंग की तरफ झुकाव किया। उनो ने एक खास इंटरव्यू में कई चीजों पर अपनी राय दी।