सुनील छेत्री ने की मेसी के गोलों की बराबरी, भारत ने‌ जीता आठवां SAFF चैंपियनशिप का खिताब

सुनील छेत्री, सुरेश सिंह और सहल अब्दुल समद ने फाइनल में नेपाल के खिलाफ भारत के लिए गोल कर 3-0 से जीत दिलाई।

लेखक विवेक कुमार सिंह
फोटो क्रेडिट AIFF

शनिवार को मालदीव के माले में नेशनल फुटबॉल स्टेडियम में सुनील छेत्री (Sunil Chhetri) ने भारतीय फुटबॉल टीम को SAFF चैंपियनशिप 2021(SAFF Championship 2021) का खिताब दिलाया, भारतीय कप्तान ने अपना 80वां अंतरराष्ट्रीय गोल किया। भारत ने फाइनल में नेपाल को 3-0 से हराया।

इस दौरान उन्होंने अर्जेंटीना के दिग्गज लियोनेल मेसी (Lionel Messi) के अंतरराष्ट्रीय गोलों की बराबरी करते हुए संयुक्त रूप से सक्रिय खिलाड़ियों में सबसे अधिक गोल करने का खिताब फिर से हासिल कर लिया। पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो (Cristiano Ronaldo) 115 गोल के साथ सूची में सबसे ऊपर हैं।

मिडफील्डर सुरेश सिंह (Suresh Singh) और सहल अब्दुल समद (Sahal Abdul Samad) ने भी जीत में अहम योगदान दिया, उन्होंने एक-एक गोल किए और भारत को आठवां SAFF चैम्पियनशिप का खिताब दिलाने में मदद की। इसके साथ ही इतिहास में भारत ने SAFF चैम्पियनशिप का खिताब सबसे अधिक‌ बार अपने नाम कर लिया।

भारतीय फुटबॉल टीम के मुख्य कोच इगोर स्टिमैक (Igor Stimac) ने निलंबित सुभाशीष बोस (Subhashish Bose) और चोटिल ब्रैंडन फर्नांडीस के स्थान पर चिंगलेनसाना सिंह (Chinglensana Singh) और अनिरुद्ध थापा (Anirudh Thapa) को फाइनल के लिए टीम में शामिल किया।

भारत ने मोहम्मद यासिर और अनिरुद्ध थापा के साथ अच्छी शुरुआत की लेकिन मैच नेपाल के गोलकीपर किरण लिम्बु ने चार मिनट में दो शानदार बचाव किया।

भारत ने खेल की गति को नियंत्रित किया और पहले हाफ में अपना दबदबा कायम रखा, लेकिन बारिश के कारण गोल करने में विफल रहा जिससे खिलाड़ियों के लिए मुश्किलें बढ़ गईं।

सुनील छेत्री को पहले हाफ में देर से मौका मिला लेकिन वो गोल पोस्ट में गेंद नहीं डाल पाए।

हालांकि, जब दूसरे हाफ में चार मिनट बचे थे, तब भारत के कप्तान बॉक्स में घुस गए और प्रीतम कोटल से मिले क्रॉस को गोल में तब्दील कर भारत को बढ़त दिलाई।

अगले ही मिनट में सुरेश सिंह को मोहम्मद यासिर से बेहतरीन गेंद मिली,  जो कभी भारत के सबसे खतरनाक खिलाड़ी‌‌ हुआ करते थे। सुरेश सिंह ने मौका नहीं गंवाया और भारत के लिए दूसरा गोल कर दिया। 

2-0 की बढ़त ने भारत को अपने पहले SAFF फाइनल में खेलने वाली नेपाल की टीम के खिलाफ स्थिति मजबूत कर ली। ब्लू टाइगर्स ने कुछ और मौके बनाए लेकिन सुनील छेत्री और अनिरुद्ध थापा दोनों बढ़त नहीं बना सके।

मैच के अंतिम मिनट में सब्स्टीट्यूट सहल अब्दुल समद ने स्ट्राइकर मनवीर सिंह की जगह ली और गेंद पर कब्जा कर लिया। गोल तक पहुंचने से पहले उन्होंने नेपाल के डिफेंडर्स को खूब छकाया और गोल कर भारत की जीत पर मुहर लगा‌ दिया।

फाइनल में भारतीय टीम का जोरदार प्रदर्शन देखने को मिला। बैक-टू-बैक ड्रॉ के साथ अपने अभियान की शुरुआत करने के बाद 2021 SAFF चैंपियनशिप में उनकी लगातार तीसरी जीत थी।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स