राफेल नडाल बनाम नोवाक जोकोविच: जानिए उनके बीच के रोमांचक मुकाबले

राफेल नडाल और नोवाक जोकोविच 59 मुकाबलों में आमने-सामने हुए हैं, जहां जोकोविच ने 30, तो नडाल ने 29 मैच जीते हैं।

लेखक ओलंपिक
फोटो क्रेडिट Getty Images

राफेल नडाल और नोवाक जोकोविच के बीच हमेशा टेनिस कोर्ट में कांटे की टक्कर देखने को मिलती है।

नडाल और जोकोविच के बीच रिकॉर्ड 59 मुकाबले खेले गए हैं, जिसमें नोवाक जोकोविच ने 30 और राफेल नडाल ने 29 मुकाबलों में जीत हासिल की है।

हालांकि, 14 बार के फ्रेंच ओपन चैंपियन नडाल क्लेकोर्ट मेजर में अच्छी खासी बढ़त रखते हैं। जोकोविच ने रोलैंड गैरोस में अपने आठ मुकाबलों में से केवल दो में जीत हासिल की है और स्पैनियार्ड से 8-20 से पीछे रह गए हैं।

पिछली बार वे 2021 में फ्रेंच ओपन के क्वार्टर फाइनल में भिड़े थे, तब नडाल 6-2, 4-6, 6-2, 7(7)-6(4) से विजेता रहे थे।

जोकोविच उन दो खिलाड़ियों में से एक हैं, जिन्होंने फ्रेंच ओपन में नडाल को हराया था। दूसरे खिलाड़ी रॉबिन सोडरलिंग हैं।

आइए, एक नजर उनके पांच सर्वश्रेष्ठ ग्रैंड स्लैम मैचों पर डालते हैं

2012 ऑस्ट्रेलियन ओपन फाइनल

इस टूर्नामेंट में नोवाक जोकोविच ने राफेल नडाल को 5-7, 6-4, 6-2, 6-7(5), 7-5 से हराया।

हम जानते हैं कि राफेल नडाल और नोवाक जोकोविच काफी लंबे समय तक खेल सकते हैं और 2012 के ऑस्ट्रेलियन ओपन ने इसे साबित कर दिया। दो महान प्रतिद्वंद्वियों ने एक-दूसरे को पांच उछलकूद भरे सेटों में थका दिया।

हालांकि, जोकोविच पांच घंटे और 53 मिनट तक चले सबसे लंबे ग्रैंड स्लैम फाइनल (टाई-ब्रेक) में 5-7, 6-4, 6-2, 6-7 (5), 7-5 से विजेता रहे। इसने मैट्स विलेंडर और इवान लेंडल के बीच 1988 यूएस ओपन के फाइनल में चार घंटे और 54 मिनट तक चले मुकाबले का रिकॉर्ड तोड़ दिया।

जोकोविच ने निर्णायक सेट में 2-4 से पिछड़कर जीत का दावा किया और नडाल पर अपनी जीत का सिलसिला बढ़ाकर सात कर दिया। यह लगातार तीसरा ग्रैंड स्लैम फाइनल था, जिसे जोकोविच ने नडाल के खिलाफ जीता था।

2012 की ऑस्ट्रेलियन ओपन जीत जोकोविच के लिए बेहद सफल सीज़न के बाद मिली थी। उन्होंने 2011 में पुरुषों के टेनिस में नडाल-रोजर फेडरर के एकाधिकार को खत्म करने के लिए चार में से तीन मेजर जीते थे।*

2012 ऑस्ट्रेलियाई ओपन ट्रॉफी के साथ नोवाक जोकोविक।
फोटो क्रेडिट 2012 Getty Images

2013 फ्रेंच ओपन सेमीफाइनल

इस मुकाबले में राफेल नडाल ने नोवाक जोकोविच को 6-4, 3-6, 6-1, 6-7 (3), 9-7 से हराया।

जैसे ही उनका जबरदस्त मुकाबला क्ले कोर्ट में शिफ्ट हुआ, तो नडाल सबसे आगे थे और चौथे सेट में स्पैनियार्ड 6-5 से जीत से दो अंक दूर थे।

हालांकि, जोकोविच ने फ्रेंच ओपन ट्रॉफी पर कब्जा करने के लिए नडाल की सर्विस को तोड़ दिया और मैच को निर्णायक दौर में पहुंचाने के लिए बाद के टाई-ब्रेकर को जीत लिया। नडाल ने मोंटे कार्लो मास्टर्स फाइनल में सर्बियन को सीधे सेटों में हराकर क्ले कोर्ट पर एक और सफलता जोड़ी।

87 मिनट तक चले नाटकीय पांचवें सेट में नडाल ने 2-4 से पिछड़ने के बाद 9-7 से जीत हासिल की और अपने आठवें फ्रेंच ओपन फाइनल में पहुंचे।

नडाल ने चार घंटे 37 मिनट तक चले मैच के बाद कहा, "जब मैं मैच के लिए हवा के खिलाफ सर्विस कर रहा था, तो मुझे पता था कि यह कठिन होने वाला है, क्योंकि मुश्किल क्षणों में वह हमेशा एक बार गेंद अंदर डालता है।"

"मैं मुकाबले के लिए तैयार था और 4-3 पर थोड़ा भाग्य ने साथ दिया था। ऑस्ट्रेलिया में 2012 में भी ऐसा ही था, लेकिन वह जीत गया। हर कोई जानता है कि नोवाक जुझारू है। इसलिए यह एक विशेष खेल है।"

2013 फ्रेंच ओपन सेमीफाइनल में जीत हासिल करने के बाद जश्न मनाते राफेल नडाल।
फोटो क्रेडिट 2013 Getty Images

2018 विंबलडन सेमीफाइनल

इस मुकाबले में नोवाक जोकोविच ने राफेल नडाल को 6-4, 3-6, 7-6(9), 3-6, 10-8 से हराया।

2018 विंबलडन सेमीफाइनल में नडाल पर जीत ने गुमनाम हो चुके जोकोविच को फिर से सुर्खियों में ला दिया।

जोकोविच कोहनी की सर्जरी के कारण 2017 सीज़न के दूसरे भाग से चूक गए थे और 2018 में पहले दो मेजर में अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन से बहुत दूर दिख रहे थे। उन्हें ऑस्ट्रेलियन ओपन में दक्षिण कोरियाई युवा ह्योन चुंग ने हराया था और फ्रेंच ओपन में इटली के मार्को सेचिनाटो से हार गए थे। सर्बियन दुनिया के टॉप-20 खिलाड़ियों की सूची से भी बाहर हो गये।

उस साल विंबलडन में वो ब्रिटेन के काइल एडमंड और जापान के केई निशिकोरी से मिलने वाली मुश्किल चुनौती से बच गए थे, लेकिन ग्रैंड स्लैम सेमीफाइनल में उनके सामने नेट के दूसरी तरफ नडाल थे। ऐसे में जोकोविच वापस अपने पुराने खतरनाक मोड में आ गए।

सर्वियन ने विंबलडन के कोर्ट पर नडाल के खिलाफ लंबी और दिलचस्प रैलियां कीं। जॉन इस्नर और केविन एंडरसन के बीच छह घंटे से अधिक समय तक चले पहले सेमीफाइनल के साथ, नडाल-जोकोविच की भिड़ंत शुक्रवार को सर्बियन के दो सेटों से एक के आगे रुक गई।

दोनों खिलाड़ियों ने 73 विनर्स को हिट किया और उच्च-गुणवत्ता, उच्च-ऑक्टेन प्रहार में केवल 42 अप्रत्याशित त्रुटियां कीं। जोकोविच ने निर्णायक मुकाबले में पांच ब्रेक प्वाइंट बचाकर पांच घंटे 15 मिनट के बाद 10-8 का स्कोर बनाया। उस साल सर्बियन ने विंबलडन खिताब जीता, 2016 फ्रेंच ओपन के बाद यह उनका पहला मेजर था।

2015 रोलैंड गैरोस क्वार्टर फाइनल

इस मुकाबले में नोवाक जोकोविच ने राफेल नडाल को 7-5, 6-3, 6-1 से हराया।

2009 के बाद यह पहला मौका था, जब रॉबिन सोडरलिंग ने नडाल को परेशान किया था। इस कारण अब तक पहली बार स्पैनियार्ड फ्रेंच ओपन में हार गया।

संभवत: अपने करियर में पहली बार नडाल को उस साल क्ले कोर्ट पर हार का सामना करना पड़ा था। वोरोलैंड गैरोस में क्ले की उपाधि के बिना और केवल आत्मविश्वास की एक इच्छा के साथ आया था।

जब दोनों क्वार्टर फाइनल में उतरे, तो जोकोविच, स्पैनियार्ड के कमजोर प्रदर्शन पर हावी हो गए। पेरिस में स्लैम जीतने की उम्मीद में जोकोविच ने पहले सेट में 4-0 की बढ़त बना ली। हालांकि, नडाल ने 4-4 से वापसी की, जोकोविच ने 67 मिनट में शुरुआती सेट 7-5 से जीत लिया और फिर मैच पर कब्जा कर लिया।

नडाल के फोरहैंड ने उस दिन केवल तीन विनर्स अर्जित किए थे। जोकोविच ने दो घंटे और 26 मिनट में जीत हासिल की। हालांकि, ऐसा लग रहा था कि जोकोविच आखिरकार इस साल अपने खाते में रोलैंड गैरोस का खिताब जोड़ देंगे। उड़ान के रंगों के साथ सबसे कठिन परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद, ऐसा नहीं हो सका था।

फाइनल में उन्हें स्विट्जरलैंड के स्टेन वावरिंका ने चार सेटों में हराया था।

2014 फ्रेंच ओपन फाइनल

इस मुकाबले में राफेल नडाल ने नोवाक जोकोविच को 3-6, 7-5, 6-2, 6-4 से हराया।

नडाल ने 2014 फ्रेंच ओपन के फाइनल में 3-6, 7-5, 6-2, 6-4 से जीत के साथ जोकोविच की चार मैचों की जीत का सिलसिला खत्म किया।

इस जीत से स्पैनियार्ड, ग्रैंड स्लैम इवेंट में नौ खिताब जीतने वाले इतिहास के पहले खिलाड़ी बन गए और इसने उन्हें समग्र मेजर तालिका (14) में अमेरिकी महान खिलाड़ी पीट सम्प्रास के साथ बराबरी पर पहुंचा दिया।

हालांकि, जोकोविच ने शुरुआती सेट में जीत दर्ज की थी, लेकिन नडाल दूसरे सेट में दमदार वापसी की। पेरिस में करीब 27 डिग्री सेल्सियस की तेज गर्मी सर्बियन को ज्यादा प्रभावित करती है। जोकोविच 5-6 के स्कोर पर सेट में बने रहने के लिए सर्विस कर रहे थे। उन्होंने एक डबल फॉल्ट किया और फोरहैंड से चूककर नडाल को एक सेट पॉइंट दे दिया और पीछे हो गए।

जोकोविच ने धूप में मुकाबला करना जारी रखा और अगले दो सेटों में बाहर हो गए। नडाल की खिताबी जीत ने उनकी नंबर 1 रैंकिंग को बरकरार रखा।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स