नई दिल्ली मैराथन 2022: ओलंपियन नितेंद्र रावत और उनके साथियों के लिए एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स में क्वालीफाई करने का अंतिम मौका

नई दिल्ली मैराथन के सातवें संस्करण का आयोजन रविवार को होगा। इसकी शुरुआत जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में होगी।

लेखक रौशन प्रकाश वर्मा
फोटो क्रेडिट 2010 Getty Images

रविवार को होने वाली नई दिल्ली मैराथन 2022, भारतीय मैराथन धावकों को इस साल के एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए भारतीय एथलेटिक्स महासंघ के क्वालीफाइंग मानकों को पूरा करने का अंतिम मौका देगी।

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (AFI) के क्वालीफाइंग मानकों को पूरा करने से एथलीटों को दो चतुष्कोणीय इवेंट के लिए भारतीय टीम में जगह बनाने का एक अच्छा मौका मिलेगा। 

जुलाई-अगस्त में बर्मिंघम में होने वाले कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए क्वालीफाइंग मानक समय पुरुषों और महिलाओं के लिए क्रमश: 2:18:40 और 2:38:19 सेकेंड है। वहीं, सितंबर में चीन के हांगझोऊ में आयोजित एशियन गेम्स के लिए क्वालीफाइंग मानक पुरुषों और महिलाओं के लिए क्रमशः 2:18:48 और 2:39.28 सेकेंड हैं।

नई दिल्ली मैराथन 2022 में पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए चार अलग-अलग श्रेणियां होंगी- फुल मैराथन, हाफ मैराथन, 10k रन और 5k रन।

राजधानी दिल्ली के प्रतिष्ठित जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में सीमित धावकों के साथ शुरु होगा और वहीं खत्म भी होगा। शौकिया धावक भी इवेंट के ऐप के माध्यम से वर्चुअल रन में भाग ले सकते हैं और अपने प्रमाण पत्र अर्जित करने के लिए 2 अप्रैल तक अपना रन पूरा कर सकते हैं।

भाग लेने वाले पुरुष धावकों में, रियो ओलंपियन नितेंद्र सिंह रावत, अनीश थापा मगर, बेलियप्पा एबी और अर्जुन प्रधान पर देश और दर्शकों की नजरें होंगी। 

साउथ एशियन गेम्स के पूर्व मैराथन चैंपियन रावत ने हाल ही में अक्टूबर में बोस्टन मैराथन में 2:22:01 का समय के साथ रन पूरा किया था और वे इस प्रतिष्ठित मीट में सबसे तेज भारतीय बने थे। उनका व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ 2:15:18 है।

प्रधान और बेलियप्पा दोनों अच्छी फॉर्म में हैं और उन्होंने इस साल की शुरुआत में ढाका मैराथन के दौरान क्रमश: 2:20:06 और 2:20:14 का व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।

वहीं, अनीश थापा जो कि पहले मुख्य रूप से हाफ-मैराथनर रहे हैं, उन्होंने हाल ही में खुद को फुल मैराथन रन में शामिल कर लिया है। 

महिलाओं की शीर्ष धावकों में, पिछले साल की रजत पदक विजेता ज्योति गावटे, प्राची गोडबोले, डिस्केट डोल्मा, जिग्मेट डोलमा और त्सेटन डोलकर इस इवेंट में बड़े नाम होंगे। 

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (AFI) द्वारा नेशनल मैराथन चैंपियनशिप के रूप में मान्यता प्राप्त नई दिल्ली मैराथन का ये सातवां संस्करण है। 

2021 के पिछले संस्करण में, श्रीनु बुगाथा (2:14:58) ने नितेंद्र सिंह रावत से आगे रहते हुए पुरुषों के पूर्ण मैराथन दौड़ में जीत दर्ज की थी। वहीं, महिलाओं की ओर से सुधा सिंह (2:43:41) ने जीत दर्ज की थी। उन्होंने ज्योति गावटे को 15 सेकंड के अंतर से हराया था।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स