भारत के राष्ट्रपति से ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट नीरज चोपड़ा को मिला खेल रत्न पुरस्कार

नीरज चोपड़ा सम्मान पाने वाले 12 खेल रत्न पुरस्कार विजेताओं में शामिल थे। इस दौरान अर्जुन और द्रोणाचार्य पुरस्कार भी बांटे गए।

लेखक सतीश त्रिपाठी
फोटो क्रेडिट Twitter/President of India

भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को नई दिल्ली में खेल पुरस्कार से सम्मानित खिलाड़ियों को पुरस्कार वितरित किए। जहां ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा और टोक्यो 2020 पैरालंपिक स्वर्ण पदक विजेता अवनी लेखारा, सुमित अंतिल और प्रमोद भगत को मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार दिया गया।

आपको बता दें कि राष्ट्रीय खेल पुरस्कार भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद द्वारा भारत की राजधानी दिल्ली में राष्ट्रपति के आधिकारिक निवास राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक समारोह में दिए गए।

टोक्यो 2020 पदक विजेता रवि कुमार दहिया, पीआर श्रीजेश, मनप्रीत सिंह और लवलीना बोरगोहेन ने भी भारत के राष्ट्रपति से अपने खेल रत्न पुरस्कार प्राप्त किए। 

वहीं, भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज खेल रत्न पाने वाली पहली महिला भारतीय क्रिकेटर बनीं। इसके साथ ही सुनील छेत्री सम्मान पाने वाले पहले फुटबॉल खिलाड़ी बने।

इस दौरान कुल मिलाकर 12 खिलाड़ियों को भारत के सर्वोच्च खेल पुरस्कार खेल रत्न से सम्मानित किया गया।

ओलंपियन सिमरनजीत कौर, वंदना कटारिया, भवानी देवी, टोक्यो 2020 पदक विजेता रूपिंदर पाल सिंह, हरमनप्रीत सिंह और टोक्यो पैरालंपिक पदक विजेता निषाद कुमार अर्जुन पुरस्कार प्राप्त करने वाले 35 एथलीटों में शामिल थे। इसके अलावा शीर्ष 12 कोचों को द्रोणाचार्य पुरस्कार दिए गए।

पुरस्कार समारोह पारंपरिक रूप से 29 अगस्त यानी राष्ट्रीय खेल दिवस पर आयोजित किया जाता है। लेकिन इस साल सितंबर में संपन्न हुए टोक्यो ओलंपिक और पैरालंपिक में प्रतिस्पर्धा करने वाले एथलीटों को शामिल करने के लिए इसे स्थगित कर दिया गया था।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स