अपनी भाषा को सेलेक्ट करें
Loading...
MC Mary

एमसी मैरी कॉम

भारत
टीमभारत
बॉक्सिंगबॉक्सिंग
ओलंपिक मेडल
1b
भाग लेना2
पहला प्रतिभागीलंदन 2012
जन्म का साल1983
सोशल मीडिया

बायोग्राफी

एमसी मैरी कॉम एक ऐसी महिला खिलाड़ी हैं, जिन्होंने अपने प्रदर्शन से भारत का नाम रोशन किया है। इसमें कोई शक नहीं है कि वो इस धरती की सबसे दिलचस्प एथलीटों में से एक हैं। हालांकि आप सभी को मालूम होगा कि उनके जीवन पर पहले ही एक फीचर फिल्म बन चुकी हैं। मैरी कॉम की यह कहानी बेहद अनूठी है। हिंदुस्तान के एक गरीब परिवार में जन्मी मैरी कॉम का जीवन संर्घषपूर्ण रहा है। अपने परिवार की मदद करने के लिए वह उनके साथ काम करती थीं।

मगर, इस बीच मैरी के मन में कुछ चल रहा था, वो कुछ खास करना चाहती थी, लेकिन परिवार इसके लिए राजी नहीं था, आखिरकार परिवार के खिलाफ जाकर मैरी कॉम ने बड़ा कदम उठाया और वो शहर चली गई, वहां एक स्थानीय कोच को राजी करने के बाद बॉक्सिंग को उन्होंने अपने करियर के तौर पर चुन लिया, और इसके बाद मैरीकॉम ने चैंपियन बनने की ठान ली।

साल 2001 में महिला बॉक्सिंग की दुनिया में कदम रखने के बाद उन्होंने सभी आठ एआईबीए विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में पदक हासिल किए, जिसमें छह स्वर्ण, एक रजत और एक कांस्य जो उन्होंने आखिर में 2019 में जीता था, एक फ्लाईवेट बॉक्सर के तौर पर मैरी एआईबीए विश्व रैंकिंग में नंबर 1 पर पहुंची। आपको बताना चाहेंगे कि 2012 लंदन ओलंपिक खेलों में प्रतिस्पर्धा करते हुए निकोला एडम्स से हारने के बाद मैरी कॉम ने कांस्य पदक हासिल किया था।

"कभी हार मत मानना, क्योंकि जिंदगी आपको हमेशा दोबारा मौका देती है"

ओलंपिक रिजल्ट

Athlete Olympic Results Content

You May Like