विश्व एथलेटिक्स अंडर-20 मीट में अमित खत्री ने रचा इतिहास, 10,000 मीटर रेस वॉक में जीता रजत पदत

आखिरी स्टेज से पहले अंतिम लैप में अमित खत्री दौड़ में आगे थे। वूमेंस 400 मीटर में प्रिया एच मोहन चौथे स्थान पर रहीं।

लेखक शिखा राजपूत
फोटो क्रेडिट Athletics Federation of India

शनिवार को भारत के अमित खत्री (Amit Khatri) ने केन्या के नैरोबी में हो रहे वर्ल्ड एथलेटिक्स अंडर-20 चैंपियनशिप में मेंस 10,000 मीटर रेस में रजत पदक जीता।

 पहले दिन 4x400 मीटर मिक्स्ड रिले में कांस्य पदक जीतने के बाद यह भारत का दूसरा पदक है।

अमित खत्री ने 42:17.94 समय के साथ केन्या के स्वर्ण पदक विजेता हेरिस्टोन वान्योनी (Heristone Wanyonyi) से सात सेकेंड से हार गए। जबकि स्पेन के पॉल मैक्ग्रा (Paul McGrath) ने कांस्य पदक जीता है।

आखिरी स्टेज में 17 वर्षीय भारतीय रेस वॉकर 600 मीटर आगे चल रहे थे, लेकिन वान्योनी (Wanyonyi) ने अमित खत्री को पीछे करने के लिए अपनी स्पीड बढ़ा दी और स्वर्ण पदक पर कब्जा कर लिया।

वहीं वूमेंस 400 मीटर में प्रिया एच मोहन (Priya H Mohan) कांस्य पदक से चूक गईं । वह अपने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ 52.77 सेकेंड के साथ चौथे स्थान पर रहीं। इससे पहले उन्होंने मिक्स्ड 4x400 मीटर रिले टीम के साथ कांस्य पदक जीता था।

नाइजीरिया की इमाओबोंग उको (Imaobong Uko) ने वूमेंस 400 मीटर में स्वर्ण पदक जीता। वहीं पोलैंड की कोर्नेलिया लेसिविज़ (Kornelia Lesiewicz) ने रजत और केन्या की सिल्विया चेलंगट (Sylvia Chelangat) ने कांस्य पदक जीता। फाइनल में तीनों ने अपना व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ समय निर्धारित किया।

वूमेंस 10,000 मीटर रेस में बलजीत कौर (Baljeet Kaur) 48:58.17 के व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ समय के साथ सातवें स्थान पर रहीं।

मैक्सिको की सोफिया रोड्रिग्ज (Sofia Rodriguez) वूमेंस 10,000 मीटर रेस वॉक में अंडर-20 विश्व चैंपियन बन गई हैं, वहीं फ्रांस की मैले बिरे-हेस्लूस (Maele Bire-Heslous) ने रजत और चेक रिपब्लिक की एलिस्का मार्टिंकोवा (Eliska Martinkova) ने कांस्य पदक जीता।

मेंस 4×400 मीटर रिले की हीट में अब्दुल रशीद (Abdul Rasheed), सुमित चहल (Sumit Chahal), कपिल (Kapil) और बरथ श्रीधर (Barath Sridhar) की भारतीय रिले टीम छठे स्थान पर रही। टीम ने इस सीजन में उनकी पहली रेस में 3:10.62 का समय हासिल किया।

केवल आठ टीमों ने फाइनल में प्रवेश किया था। 11 रिले टीमों में भारतीय टीम का समय सबसे धीमा था। कांस्य विजेता कपिल और बरथ श्रीधर मिक्स्ड 4x400 मीटर रिले टीम का हिस्सा थे।

मेंस 400 मीटर हर्डल रेस के दूसरे सेमीफाइनल में 19 वर्षीय रोहन कांबले (Rohan Kamble) 52.88 सेकेंड के समय के साथ सातवें स्थान पर रहे।

उन्होंने ओवर ऑल 18वें स्थान के लिए काफी अच्छा प्रदर्शन किया था। इसके फाइनल में केवल आठ एथलीट ही आगे बढ़ें।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स