वर्ल्ड एथलेटिक्स अंडर-20 मीट: 4x400 मीटर मिक्स्ड रिले में भारत की कांस्य पदक से शुरुआत

भारतीय चौकड़ी बराथ श्रीधर, प्रिया एच मोहन, सुमी और कपिल ने 3:20.60 समय के साथ चैंपियन नाइजीरिया और पोलैंड को पीछे किया।

लेखक शिखा राजपूत
फोटो क्रेडिट Nitin Arya/ Athletics Federation of India

बुधवार को केन्या के नैरोबी में भारतीय 4x400 मीटर मिक्स्ड रिले टीम ने वर्ल्ड एथलेटिक्स अंडर-20  चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता।

फाइनल में जगह बनाने के लिए टीम ने सुबह की हीट में शानदार प्रदर्शन किया। बरथ श्रीधर (Barath Sridhar), प्रिया एच मोहन (Priya H Mohan), सुमी (Summy) और कपिल (Kapil) की भारतीय चौकड़ी ने अपने प्रदर्शन के आधार पर तीसरे स्थान के लिए 3:20.60 का समय निकाला।

नाइजीरिया ने 3:19.70 समय के साथ स्वर्ण पदक जीता, जबकि पोलैंड ने 3:19.80 में रजत पदक जीता, जिसने इस इवेंट से एज ग्रुप मीट में अपनी शुरुआत की।

इस बीच कासरानी स्टेडियम में खास दिन का समापन प्रिया एच मोहन ने वूमेंस 400 मीटर फाइनल के लिए क्वालीफाई करके किया।

सुबह के सत्र में 4x400 मीटर मिक्स्ड रिले हीट के बाद इंडिविजुअल हीट मोमेंट्स में प्रतिस्पर्धा करते हुए 18 वर्षीय प्रिया एच मोहन ने 53.79 सेकेंड का समय निकालते हुए तीसरा स्थान हासिल किया।

हालांकि केवल शीर्ष दो को ही फाइनल में सीधे प्रवेश की अनुमति थी, जिसमें प्रिया एच मोहन की तेज गति ने उन्हें पदक की दौड़ में बनाए रखा और दो गैर-प्रत्यक्ष प्रविष्टियों में से एक हासिल करने में मदद की।

वर्ल्ड एथलेटिक्स अंडर- 20 चैंपियनशिप में फाइनल में जगह बनाने वाले भारतीय जैवलिन थ्रोअर अजय राज सिंह राणा (Ajai Raj Singh Rana) और जय कुमार (Jay Kumar) थे।

19 वर्षीय अजय राज सिंह राणा ने इस महीने की शुरुआत में 19वीं नेशनल फेडरेशन कप जूनियर (अंडर- 20) एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 74.75 मीटर का व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ हासिल किया था, अजय ने 71.05 मीटर थ्रो के साथ फाइनल में अपनी जगह पक्की की थी। इस थ्रो की वजह से उन्हें ओवर ऑल स्टैंडिंग में छठा स्थान प्राप्त हुआ।

इसी बीच जय कुमार ने फाइनल में जगह बनाने के लिए 70.34 मीटर के प्रयास के साथ सातवां स्थान हासिल किया।

मेंस जैवलिन थ्रो में क्वालीफिकेशन मार्क 73 मीटर निर्धारित किया गया था, सिर्फ चार एथलीट ही इस मुकाम पर पहुंच सकें। फाइनल के लिए क्वालीफाइंग राउंड में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वालों ने इसे निर्धारित किया था।

मीट के पहले दिन अमनदीप सिंह धालीवाल (Amandeep Singh Dhaliwal) ने मेंस शॉटपुट में फाइनल के लिए क्वालीफाई किया।

क्वालीफिकेशन स्टेज में 19 वर्षीय अमनदीप ने 11वें स्थान पर बने रहने के लिए लोहे की गेंद को 17.92 मीटर दूर फेंका। इस इवेंट के लिए क्वालीफिकेशन मार्क 19.20 मीटर निर्धारित किया गया था।

क्वालीफिकेशन स्टेज में खराब प्रदर्शन के कारण हैमर थ्रोअर विपिन कुमार (Vipin Kumar) बाहर हो गए। विपिन ने 63.17 मीटर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया, जिसने उन्हें 24 प्रतिस्पर्धी एथलीटों में 20 वें स्थान पर रखा।

कोविड -19 से संबंधित चिंताओं के कारण संयुक्त राज्य अमेरिका, ग्रेट ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, जापान और जर्मनी वर्ल्ड एथलेटिक्स अंडर- 20 चैंपियनशिप से बाहर हो गए हैं।