बीजिंग 2022 खेलों में आइस हॉकी में इन सुपरस्टार्स पर रखें नजर

4 फरवरी, 2022 से शुरू होने वाले बीजिंग खेलों के साथ, सबसे लोकप्रिय शीतकालीन खेल - आइस हॉकी एक बार फिर सभी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करेगा। हालांकि इस प्रतियोगिता में केवल दो मेडल इवेंट्स होंगी, फिर भी यह प्रशंसकों को अंत तक इससे जोड़े रखने का वादा करती है।

फोटो क्रेडिट Getty Images

इस लेख में हम देखेंगे कि पुरुष और महिला दोनों आइस हॉकी टीमों में शीर्ष सुपरस्टार कौन हैं जिनके चमकने की उम्मीद है। हम इसके इतिहास के बारे में भी जानेंगे और आप इसका शेड्यूल भी यहां देख सकते हैं।

ओलंपिक में आइस हॉकी

आइस हॉकी की शुरुआत 19वीं सदी की शुरुआत में कनाडा में हुई थी और यह बेल्जियम के एंटवर्प में 1920 के ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में पुरुषों की प्रतियोगिता के साथ ओलंपिक कार्यक्रम का हिस्सा पहली बार बना था। फिर यह खेल 1924 में फ्रांस के शैमॉनिक्स में उद्घाटन शीतकालीन खेलों में शीतकालीन ओलंपिक कार्यक्रम का हिस्सा बन गया था।

कनाडा ने शीतकालीन ओलंपिक में आइस हॉकी में 13 स्वर्ण सहित कुल 22 पदक जीतकर अपना दबदबा कायम रखा। इतना ही नहीं कनाडा ने पहले सात शीतकालीन खेलों में से छह में स्वर्ण पदक भी जीता था; लेकिन उनका प्रभुत्व सोवियत संघ द्वारा कोर्तिना में 1956 के खेलों में समाप्त हो गया, जिसके बाद सोवियत संघ ने अगले नौ खेलों में से सात में पुरुषों का टूर्नामेंट जीता। लेक प्लासिड में 1980 के खेलों में, अमेरिका ने सोवियत संघ को हराया और उस मैच को 'द मिरेकल ऑन आइस' के नाम से जाना गया।

इस बीच, 1998 नागानो शीतकालीन ओलंपिक खेलों में महिला टूर्नामेंट को पहली बार जोड़ा गया था, और इस आयोजन में भी कनाडा का वर्चस्व रहा है, उन्होंने संभावित छह में से चार स्वर्ण अभी तक अपने नाम किए हैं। वहीं दूसरे नंबर पर संयुक्त राज्य अमेरिका रहा है, जिन्होंने दो बार प्रतियोगिता जीती है (दोनों बार फाइनल में कनाडा को हराया है)।

शीर्ष पुरस्कार के शीर्ष दावेदार

ओलंपिक हॉकी में एनएचएल सुपरस्टार्स की संभावित वापसी के साथ, खेल के प्रशंसक अब बीजिंग 2022 में इसका आनंद लेने के लिए तैयार हैं। वहीं नौ बार स्वर्ण पदक जीत चुका कनाडा पुरुषों और महिलाओं की प्रतियोगिता दोनों में शीर्ष पुरस्कार के लिए पसंदीदा रहेगा।

दो बार के शीतकालीन ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता और तीन बार के स्टैनली कप चैंपियन, Sidney Crosby और एडमॉन्टन ऑयलर्स के कप्तान, Connor McDavid के बीजिंग खेलों 2022 में कनाडा की टीम का हिस्सा होने की संभावना है।

अब चूंकि कनाडा और यूएसए को जर्मनी और पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के साथ एक ही ग्रुप (ग्रुप ए) में रखा गया है, हम एक शानदार मैच और कुछ मनोरंजन की उम्मीद कर सकते हैं। अमेरिका से, शिकागो ब्लैकहॉक्स के राइट विंगर और 2010 के रजत पदक विजेता Patrick Kane और टोरंटो मेपल लीफ्स सेंटर Auston Matthews पर नजर जरूर रखें।

उनके अलावा, प्योंगचांग के रजत पदक विजेता जर्मनी भी स्वर्ण पदक के लिए चुनौती पेश करेगा। एडमोंटन ऑयलर्स के सेंटर Leon Draisaitl जैसे हमलावरों के साथ, जर्मनी, कनाडा और यूएसए जैसे चैंपियंस के लिए खतरा पैदा कर सकता है।

महिलाओं की प्रतियोगिता में, हम दो चैंपियन टीमों कनाडा और यूएसए के बीच एक और स्वर्ण पदक मैच देखने की उम्मीद करते हैं। 1998 के बाद से, जब महिला आइस हॉकी प्रतियोगिता ने अपनी शुरुआत की, कनाडा और संयुक्त राज्य अमेरिका अधिकांश फाइनल में एक दूसरे के खिलाफ रहे हैं। एकमात्र अपवाद 2006 टोरिनो गेम्स फाइनल था जहां कनाडा और स्वीडन का सामना हुआ और कनाडा ने उन्हें 4-1 से हराया था।

हालांकि कनाडा तीन बार स्वर्ण पदक विजेता है, अमेरिकी टीम, जिसने 2018 में स्वर्ण पदक जीता था, से उम्मीद की जाती है कि वह Hilary Knight, Brianna Decker और Kendall Coyne Schofield जैसी अपनी टीमों में कुछ बड़े नामों के साथ बीजिंग 2022 में अपने खिताब को डिफेंड कर पाएंगी।

जबकि कनाडा की टीम में तीन बार की ओलंपिक पदक विजेता Marie-Philip Poulin, 2018 की रजत पदक विजेता Sarah Nurse और दो बार की ओलंपिक पदक विजेता Jocelyne Larocque जैसे खिलाड़ी शामिल होंगे।

बीजिंग 2022 में ओलंपिक आइस हॉकी कार्यक्रम

आइस हॉकी प्रतियोगिता 3 फरवरी से 20 फरवरी 2022 तक होगी।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स