मलेशिया ओपन बैडमिंटन: पीवी सिंधु और एचएस प्रणॉय ने क्वार्टर फाइनल में बनाई जगह

पीवी सिंधु ने दुनिया की 20वें नंबर की थाई शटलर फिट्टायापोर्न चायवान को हराकर क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह बनाने में सफल हुईं। 

लेखक रौशन प्रकाश वर्मा
फोटो क्रेडिट 2021 Getty Images

कुआलालंपुर में चल रहे मलेशिया ओपन 2022 के महिला एकल स्पर्धा में गुरुवार को पूर्व विश्व चैंपियन और भारत की दिग्गज शटलर पीवी सिंधु ने जीत दर्ज करते हुए क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है। सातवीं वरीयता प्राप्त पीवी सिंधु ने BWF सुपर 750 बैडमिंटन स्पर्धा के दूसरे दौर में थाईलैंड की फिट्टायापोर्न चायवान को हराया।

वहीं, पुरुष एकल मुकाबले में एच एस प्रणॉय ने दुनिया के चौथे नंबर के शटलर चाउ टिएन चेन को हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने में सफल हुए।

बैडमिंटन विश्व रैंकिंग में सातवें स्थान पर काबिज पीवी सिंधु ने गैर वरीयता प्राप्त थाईलैंड की फिट्टायापोर्न चायवान को 57 मिनट तक चले मुकाबले में 19-21, 21-9, 21-14 से मात दी।

चायवान ने मुकाबला शुरु होने के साथ ही भारतीय शटलर पर दबाव बनाना शुरु किया और लगातार पहले गेम में अपनी बढ़त बनाए रखी। हालांकि, ब्रेक के बाद चायवान ने कुछ गलतियां की, जिसका फायदा उठाते हुए सिंधु ने वापसी की और 19-18 के स्कोर के साथ एक अंक की बढ़त हासिल की।

लेकिन, इसके बाद चायवान ने फिर से गेम को अपने नियंत्रण में करते हुए लगातार तीन अंक हासिल किए और पहला गेम अपने नाम कर लिया।

दूसरे गेम में पीवी सिंधु ने बेहतरीन वापसी की। हालांकि, उन्हें थाईलैंड की शटलर से कई बार कड़ी चुनौती मिली, लेकिन उन्होंने चायवान को बढ़त हासिल करने का कोई मौका नहीं दिया और दूसरे गेम में 21-9 के अंतर से जबरदस्त जीत हासिल की।

तीसरे गेम में भी सिंधु ने अपनी लय को बरकरार रखा और 21-14 से गेम को अपने नाम करते हुए क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह पक्की कर ली।

बता दें कि, यह दोनों खिलाड़ियों के बीच अब तक का पहला मुकाबला था।

क्वार्टर फाइनल में, पीवी सिंधु का मुकाबला चीनी ताइपे की ताई जु यिंग के खिलाफ होगा। यिंग के खिलाफ सिंधु का प्रदर्शन अब तक निराशाजनक ही रहा है। दोनों शटलर 19 बार एक-दूसरे के आमने-सामने हुए हैं जिसमें से 14 बार भारतीय शटलर को निराशा हाथ लगी है जबकि पांच बार उन्होंने जीत दर्ज की है।

दुनिया की दूसरे नंबर की शटलर ताई जु यिंग ने टोक्यो 2020 ओलंपिक के सेमीफाइनल में भी पीवी सिंधु को हराया था।

दिन के एक अन्य मुकाबले में एच एस प्रणॉय ने शानदार प्रदर्शन करते हुए चीनी ताइपे के शटलर को सीधे सेटों में 21-15, 21-17 से हराया। वर्ल्ड टूर सुपर 750 इवेंट के क्वार्टर फाइनल में प्रणॉय का मुकाबला इंडोनेशिया के जोनाथन क्रिस्टी के खिलाफ होगा।

मलेशिया ओपन बैडमिंटन में गुरुवार को एकल प्रतिस्पर्धा में पारुपल्ली कश्यप की चुनौती समाप्त हो गई। राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता पारुपल्ली कश्यप को तीन बार के जूनियर विश्व चैंपियन थाईलैंड के कुनलावुत विटिडसर्न के खिलाफ 21-19, 21-10 से हार का सामना करना पड़ा।

कश्यप की हार के बाद भारत की ओर से अब इस प्रतियोगिता में सिर्फ पीवी सिंधु और एच एस प्रणॉय ही एकल ड्रॉ में बचे हैं। 

सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की शीर्ष भारतीय पुरुष युगल जोड़ी ने दूसरे राउंड से पहले प्रतियोगिता से अपना नाम वापस ले लिया। उनका मुकाबला मलेशिया के गोह से फी और नूर इज़ुद्दीन की जोड़ी के खिलाफ होना था।

सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी को अचानक मांसपेशियों में खिंचाव की समस्या आ गई। इसी वजह से, आगामी राष्ट्रमंडल खेल 2022 को देखते हुए उनके कोचों ने उन्हें प्रतियोगिता से नाम वापस लेने की सलाह दी। बता दें कि राष्ट्रमंडल खेलों की शुरुआत 28 जुलाई से होनी है।

महिला युगल में भारत की श्रीवेद्या गुरजादा और उनकी अमेरिकी जोड़ीदार इशिका जायसवाल, इंडोनेशिया की फेबी वेलेंसिया द्विजयंती गनी और रिबका सुगियार्तो के खिलाफ 21-12, 21-8 से हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गईं हैं।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स