इंटरनेशनल वूमेंस डे 2022 – मिलिए Sini Pyy से: बीजिंग 2022 पैरालंपियन दो मोर्चों पर बदल रही हैं स्थिरता का चेहरा

फिनलैंड के स्नो ट्रैक्स से लेकर IPC की वूमेन इन स्पोर्ट कमेटी तक, जब बात स्थिरता और महिला विकलांगता के अधिकारों के लिए संघर्ष करने की आती है तो Sini Pyy किसी भी परिस्थिति का सामना कर सकती हैं।

लेखक शिखा राजपूत

बीजिंग 2022 के लिए बदलाव का समर्थन करने वाली पैरा नॉर्डिक स्कीयर Sini Pyy कभी नहीं रूक सकती हैं।

विकलांगता के अधिकार, लैंगिक समानता और जलवायु परिवर्तन ये सभी कारण हैं। जिनपर 29 वर्षीय Finn एक बेहतर और समान दुनिया बनाने के लिए पैरा-एथलीट के रूप में अपने मंच का उपयोग लोगों का ध्यान आकर्षित करने की कोशिश कर रही हैं।

इस साल के इंटरनेशनल वूमेंस डे (IWD) की थीम "एक स्थायी कल के लिए आज की लैंगिक समानता" है। इस थीम को ध्यान में रखते हुए सभी के लिए एक अधिक स्थायी भविष्य सुनिश्चित करने के लिए जलवायु के प्रभारी का नेतृत्व करने वाली उल्लेखनीय महिला के बारे में जानिए।

प्योंगचांग 2018 पैरालंपिक समापन समारोह में सिनी पाय को वांग यूं दाई अचीवमेंट अवार्ड मिला
फोटो क्रेडिट 2018 Getty Images

Pyy उत्तरी फिनलैंड के एक शहर रोवानीमी में पली-बढ़ी। उनकी खिड़की के बाहर की दुनिया अक्टूबर के बाद विंटर वंडरलैंड की तरह नजर आती थी।

युवा Finn उस समय स्की के करीब आई, जब वह चल सकती थी। और उनका जीवन कार दुर्घटना के बाद रीढ़ की हड्डी में लगी चोट के कारण बदल गया। तीन बार की पैरालंपियन के लिए बाहर का प्यार कभी कम नहीं हुआ, भले ही उनके रास्ते में कितनी ही मुश्किलें आई हो, उन्होंने इसका आनंद लिया:

Pyy ने Paralympic.org को एक इंटरव्यू में कहा, "जब आप अपने पिता के साथ शिकार करते हुए बड़े होते हैं और स्की ट्रिप पर जाते हैं, मूल रूप से हमेशा बाहर रहते हैं, तो यह आपका हिस्सा बन जाता है और यह कुछ ऐसा है जो आपको हमेशा चाहिए । "

"मैंने अपने पूरे जीवन में स्कीइंग की है। मुझे बाहर रहना पसंद है और जब मैं व्हीलचेयर पर बैठी तो यही एक चीज थी, जो मैं मिस कर रही थी। व्हीलचेयर के साथ बाहर जाना कठिन है, विशेष रूप से प्रकृति में और जब मुझे अपना पहला सीट स्की मिला, तो मुझे एहसास हुआ कि यह फिर से संभव है। ”

2012 में जब Pyy ने पैरा नॉर्डिक स्कीइंग शुरू किया, तो उन्होंने खुद को अपने आस-पास के वातावरण के साथ फिर से जोड़ने की कोशिश की और वह इसमें सफल रहीं। बर्फीले जंगलों में वापस आने पर उनकी खुशी जल्द ही उनके खेल के परिणामों में नजर आई।

उन्होंने उसी साल फिनलैंड का प्रतिनिधित्व करते हुए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पदार्पण किया और फिर दो साल बाद सोची 2014 पैरालंपिक गेम्स में अपनी जगह बनाई।

लेकिन जैसे-जैसे सीजन बीतते गए Finn ने अपने आस-पास के वातावरण में बदलाव देखना शुरू कर दिया। कभी सर्दियां बर्फबारी से भरपूर तो कभी कम थीं। जब लैपलैंड यूनिवर्सटी में उनकी पॉलिटिकल साइंस की डिग्री ने आर्कटिक क्षेत्र में रहने वाले लोगों की वास्तविकताओं के लिए अपनी आंखें खोलीं और स्वदेशी आबादी पर पर्यावरण के महत्व को समझा। Pyy समझ गईं कि वह और उनके समुदाय के लोग जलवायु परिवर्तन की वास्तविकता में जी रहे हैं:

Pyy ने Paralympic.org को आगे बताया, "हमारे पास कम बर्फ के साथ सर्दियां थीं और इस साल हमने दिसंबर तक ठीक से स्की नहीं की।" 

"हमारे पास पहले स्नो ट्रैक खुले थे, लेकिन प्राकृतिक बर्फ बहुत देर से गिरी और यह पागल करने वाला है क्योंकि मुझे याद है कि जब मैं एक बच्ची थी, तब हमारे पास बेहतरीन सर्दियां थीं और वे बहुत लंबी थीं। हम इस बदलाव को पहले से ही देख रहे हैं और निश्चित रूप से आप जितना अधिक साउथ में जाएंगे, यह उतना ही अधिक मुश्किल होगा।"

एक पैरा-एथलीट के रूप में, जो प्रतिस्पर्धा करने के लिए दुनिया की यात्रा करते हैं। Pyy ने अपनी जीवन शैली पर खुद को चुनौती दी और जाना कैसे वह व्यक्तिगत रूप से जलवायु को नुकसान पहुंचाने में योगदान दे रही थी। 

"एक विंटर एथलीट के लिए जलवायु परिवर्तन पहले से ही एक मुश्किल चीज है: यदि बर्फ नहीं है, तो रेस को रद्द या स्थगित करना होगा," Finn ने लैपलैंड स्टूडेंट मैगजीन को साझा किया। "हालांकि, ऐसे खेल खेलने के तरीके हैं जो पर्यावरण को नुकसान नहीं पहुंचाते हैं।

Pyy ने बताया, "कपड़ों को लंबे समय तक इस्तेमाल किया जा सकता है और उन्हें रिसाइकल किया जा सकता है।" "हमने एक नए स्लेज के निर्माण में रिसाइकल सामग्री के इस्तेमाल का भी पता लगाया है। मैं जब भी संभव हो ट्रेन से यात्रा करने की कोशिश करती हूं और टेक्नोलॉजी का लाभ उठाती हूं: उदाहरण के लिए आज कई मीटिंग्स को स्काइप से आसानी से किया जाता है।"

Pyy ने प्रोटेक्ट आवर विंटर्स (POW) में शामिल होकर जलवायु परिवर्तन से लड़ने में मदद करने की अपनी प्रतिबद्धताओं को दोगुना कर दिया है। आउटडोर क्लाइमेट एक्शन चैरिटी लोगों को प्रभावी जलवायु समर्थक बनने का अधिकार देती है, जो जलवायु परिवर्तन के लिए समाधान बताने में मदद कर सकते हैं।

वह एक एंबेसडर के रूप में चैरिटी में शामिल हुईं हैं और उम्मीद करती हैं कि वह अपने पैरालंपिक प्लेटफॉर्म को POW के लिए अपने काम के साथ जोड़ दें। इससे दूसरों को भी हमारी दुनिया के सामने सबसे महत्वपूर्ण मुद्दों में से एक में खुद को पूरी तरह से जानने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके।

और पहले से ही उनकी बातों पर लोग ध्यान दे रहे हैं।

Pyy बीजिंग 2022 में प्रतिस्पर्धा करने वाले पांच पैरालंपियनों में से एक थीं, जिन्हें प्रतिस्पर्धा करने के लिए 'एथलीट फॉर गुड' कार्यक्रम के अनुदान से सम्मानित किया गया था। यह P&G IPC और अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति के साथ एक संयुक्त पहल थी।

सिट स्कीयर को यूएसडी 400,000 का अनुदान मिला, जिसका उपयोग POW की शिक्षा प्रोग्रामिंग को बढ़ाने में मदद के लिए किया जाएगा।

सोची 2014 पैरालंपिक शीतकालीन खेलों में एक्शन में सिनी पाय
फोटो क्रेडिट 2014 Getty Images

एक स्थायी दुनिया के लिए पैरा स्कीयर Pyy की लड़ाई के समर्थन के काम से जुड़ी हुई है।

एक जलवायु परिवर्तन कैंपेनर होने के अलावा Finn विकलांगता अधिकारों और विशेष रूप से महिलाओं के अधिकारों को बढ़ावा देने के काम में भी शामिल हैं।

प्योंगचांग 2018 में Pyy वांग यूं दाई अचीवमेंट अवार्ड प्राप्त करने वाले दो एथलीटों में से एक थे। यह सम्मान किसी भी महिला या पुरुष एथलीट को दिया जाता है, जो खेलों की भावना और पैरालंपिक मूल्यों का सबसे अच्छा प्रतिनिधित्व करता है।

पैरा नॉर्डिक स्कीयर को फिनलैंड की राष्ट्रीय पैरालंपिक समिति के लिए पहली एथलीट काउंसिंल की स्थापना में उनकी भूमिका के लिए पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। Pyy के कारण फिनिश पैरा एथलीट मेंस और वूमेंस पैरालंपिक इस मूवमेंट को अपनी आवाज उठा सकते हैं और इसके भविष्य को बेहतर कर सकते हैं।

Pyy एथलीट कमीशन में काम करने के साथ-साथ IPC की वूमेन इन स्पोर्ट कमेटी की सदस्य भी हैं।

पैरालंपिक मूवमेंट में महिलाओं की कम भागीदारी के बारे में कई बार सोचने के बाद पैरालंपिक खेल में लैंगिक समानता के मुद्दों पर IPC को सलाह देने के लिए समिति की स्थापना की गई थी।

Pyy सहित छह निर्वाचित सदस्य साल में एक बार मिलते हैं, जिसमें महिला पैरा एथलीटों के प्रवेश में समस्याओं और ओवरऑल भागीदारी को बढ़ाने की पहल सहित कई जेंडर से जुड़े मुद्दों पर चर्चा की जाती है।

प्रशिक्षण और प्रतिस्पर्धा के बीच यह Finn को व्यस्त रखता है, लेकिन उनके पास इसका कोई अन्य तरीका नहीं होगा:

"दिव्यांग महिलाओं को मौका देना मेरे लिए महत्वपूर्ण है," उन्होंने लैपलैंड स्टूडेंट मैगजीन को जारी रखा। "मेरे लिए खेल वह तरीका है जिससे मैं बदलाव कर सकती हूं और अपनी आवाज लोगों तक पहुंचा सकती हूं।"

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स