टोक्यो 2020 के अच्छे प्रदर्शन के बाद, स्कॉटिश ओपन गोल्फ में अदिती अशोक ने किया निराश

भारतीय गोल्फर और दो बार की ओलंपियन ने दो राउंड में 11-अंडर 155 का स्कोर हासिल किया जिसकी वजह से वो कट हासिल करने से चूक गई।जबकि त्वेसा मलिक टी-45 पर रही।

लेखक प्रभात दुबे
फोटो क्रेडिट Stuart Franklin/ Getty Images

लेडीज यूरोपियन टूर (एलईटी) और लेडीज प्रोफेशनल गोल्फ एसोसिएशन (एलपीजीए) द्वारा सह-स्वीकृत स्कॉटिश ओपन गोल्फ टूर्नामेंट में भारत की अदिति अशोक (Aditi Ashok) आखिरी सप्ताह में कट बनाने से चूक गईं।

टोक्यो ओलंपिक के बाद अदिती अपनी पहली प्रतियोगिता में हिस्सा ले रही थी. जहां वह लपदक के करीब पहुंच गई थी। बता दें कि टोक्यो 2020 के प्रदर्शन के बाद अदिती 200 से 154 की रैंकिंग पर पहुंच गई है।

डंबर्नी गोल्फ लिंक्स पर खेलते हुए भारतीय गोल्फर अपने फॉर्म में नहीं दिखाई दी। 23 साल की अदिती ने शुक्रवार को 11-अंडर 155 (77,78) का कार्ड बनाकर टाई-132 को पूरा किया, जो दो ओवर के 146 के हाफ्वे मार्क से काफी कम हैे

दो बार की विजेता थाईलैंड की अरिया जुतानुगर्न (Ariya Jutanugarn) ने हाफ्वे स्टेज में तीन शॉट से बढ़त बना ली। जबकि 25 साल की जुतानुगर्न का संयुक्त स्कोर नौ अंडर 135 (69, 66) स्कोर लीडरबोर्ड पर बनाया।

अदिति अशोक ने पहले राउंड में पांच-ओवर 77 का स्कोर हासिल किया। इस दौरान उन्होंने आगे के नौ होल के प्रदर्शन के दौरान तीन बोगी की और दूसरे राउंड में वापसी के दौरान उन्हीं नौ होल के प्रदर्शन में चार बोगी की। इस प्रदर्शन के चलते शुक्रवार को स्कॉटिश ओपन में वह अपनी पकड़ बनाने में नाकाम रहीं।

इस बीच, प्रतियोगिता में हिस्सा ले रही दूसरी भारतीय खिलाड़ी त्वेसा मलिक (Tvesa Malik) ने दूसरे दौर में बराबरी का स्कोर बनाया और कट में जगह बनाई। त्वेसा को टाई में-45वें स्थान पर रखा गया है।

शुरुआती दौर में एक-अंडर 73 के स्कोर के साथ 25 साल की त्वेसा मलिक को कम स्कोरिंग इवेंट में अच्छी स्थिति में ला दिया था। लीडरबोर्ड पर उनका एक ओवर का कुल स्कोर 145 (73, 72) रहा।

बता दें कि त्वेसा पिछले महीने गैंट लेडीज ओपन में टाई सेकेंड पर रहीं।