कॉमनवेल्थ गेम्स 2018: गोल्ड कोस्ट में भारत ने कुल 26 गोल्ड मेडल अपने नाम किए, यहां देखें भारत की पदक सूची

भारत कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में 66 पदक हासिल करते हुए तीसरे स्थान पर रहा था। भारत की ओर से टेबल टेनिस स्टार मनिका बत्रा ने अकेले चार पदक अपने नाम किए थे।

लेखक रौशन कुमार
फोटो क्रेडिट 2018 Getty Images

कॉमनवेल्थ गेम्स (CWG) में भारत ने पिछले दो दशकों में बेहतरीन प्रदर्शन किया है।

नई दिल्ली में साल 2010 में आयोजित हुए CWG में भारत ने कुल 110 पदक जीते थे। पदक के मामले में भारत का यह सबसे सफल कॉमनवेल्थ गेम्स रहा था। जबकि ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित हुए साल 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने एक गैरमेजबान देश में होते हुए शानदरा प्रदर्शन दर्ज किया था।

साल 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के शूटिंग दल ने 16 मेडल जीते थे।

16 वर्ष की उम्र में मनु भाकर ने डेब्यू करते हुए उम्दा प्रदर्शन किया था और 10 मीटर एयर पिस्टल इवेंट में गोल्ड मेडल अपने नाम किया था।

एक अन्य भारतीय शूटर अनीश भानवाला 15 साल की उम्र में कॉमनवेल्थ गेम्स में सबसे कम उम्र के भारतीय गोल्ड मेडल विजेता बने। उन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स में रिकॉर्ड बनाते हुए मेंस 25 मीटर रैपिड फायर पिस्टल में शीर्ष स्थान हासिल किया था।

भारतीय पहलवानों ने पांच गोल्ड, तीन सिल्वर और चार ब्रांज के साथ कुल 12 मेडल जीते, तो वहीं भारतीय मुक्केबाजों ने तीन गोल्ड, तीन सिल्वर और तीन ब्रांज के साथ कुल नौ पदक हासिल किए थे।

कुश्ती मैट पर बजरंग पुनिया, विनेश फोगाट और साक्षी मलिक और बॉक्सिंग रिंग में मैरी कॉम, विकास कृष्ण और अमित पंघाल जैसे बड़े भारतीय एथलीटों ने भी मेडल जीता था। 

इस बीच, भारतीय टेबल टेनिस टीम ने भी कॉमनवेल्थ गेम्स में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए आठ पदक जीते थे।

यंगस्टर मनिका बत्रा ने काफी सुर्खियां बटोरी थीं, उन्होंने वूमेंस सिग्लस और वूमेंस टीम इवेंट में गोल्ड मेडल के साथ हर इवेंट में पदक हासिल किया था। चार मेडल के साथ मनिका CWG 2018 में सबसे सफल भारतीय एथलीट थीं।

इसके अलावा, कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में भारत के लिए कई अन्य एथलीटों ने मेडल हासिल किया था।

ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा ने कॉमनवेल्थ गेम्स में 86.47 मीटर जैवलिन थ्रो करते हुए भारत के लिए इस खेल में पहला गोल्ड मेडल जीता था, जबकि भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों की मिक्स्ड डबल्स की टीम ने देश के लिए शीर्ष स्थान हासिल किया था।

ओलंपिक पदक विजेता साइना नेहवाल कॉमनवेल्थ गेम्स के सिंगल्स इवेंट में दो गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी हैं,उन्होंने हमवतन पीवी सिंधु को फाइनल में हराकर यह उपलब्धि हासिल की थी। साइना ने साल 2010 में भी गोल्ड अपने नाम किया था।

इस बीच, भारतीय महिला टेबल टेनिस टीम ने कॉमनवेल्थ गेम्स में इतिहास रचते हुए पहली बार गोल्ड मेडल जीता था।

28 जुलाई से 8 अगस्त के बीच बर्मिंघम में आयोजित होने वाले कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारतीय एथलीटों की नज़र फिर से एक उम्दा प्रदर्शन करने पर होगी।

कॉमनवेल्थ गेम्स 2018: भारत की पदक सूची

रैंक देश गोल्ड सिल्वर ब्रांज कुल मेडल
1 ऑस्ट्रेलिया 80 59 59 198
2 इंग्लैंड 45 45 46 136
3 भारत 26 20 20 66
4 कनाडा 15 40 27 82
5 न्यूजीलैंड 15 16 15 46
6 दक्षिण अफ्रीका 13 11 13 37
7 वेल्स 10 12 14 36
8 स्कॉटलैंड 9 13 22 44
9 नाइजीरिया 9 9 6 24
10 साइप्रस 8 1 5 14

गोल्ड कोस्ट 2018 में प्रत्येक खेल में भारत के जीते गए मेडल

स्पोर्ट गोल्ड सिल्वर ब्रांज कुल मेडल
एथलेटिक्स 1 1 1 3
बैडमिंटन 2 3 1 6
मुक्केबाजी 3 3 3 9
पैरास्पोर्ट्स 0 0 1 1
शूटिंग 7 4 5 16
स्क्वाश 0 2 0 2
टेबल टेनिस 3 2 3 8
वेटलिफ्टिंग 5 2 2 9
कुश्ती 5 3 4 12

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स