फीफा ने AIFF से हटाया बैन, अंडर-17 महिला वर्ल्ड कप भारत में योजना के अनुसार आयोजित होगा

फीफा ने पूरी तरह से आश्वस्त होने के बाद AIFF प्रशासन से तीसरे पक्ष के हस्तक्षेप को हटा दिया है, नतीजतन भारत पर लगा प्रतिबंध हट गया है।

लेखक शिखा राजपूत
फोटो क्रेडिट 2020 Getty Images

फुटबॉल की अंतरराष्ट्रीय शासी निकाय फीफा ने शुक्रवार को ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन (AIFF) से प्रतिबंध हटा लिया और अब भारत में योजना के अनुसार फीफा अंडर-17 महिला विश्व कप आयोजित किया जा सकता है।

18 मई से कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर (CoA) के "गलत तरीके से तीसरे पक्ष के हस्तक्षेप के कारण" फीफा द्वारा पिछले हफ्ते भारतीय फुटबॉल को प्रतिबंधित कर दिया गया था। CoA को सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त किया गया था।

फीफा को इस बात की पुष्टि मिलने के बाद कि CoA भंग कर दिया गया है और AIFF प्रशासन ने AIFF के दैनिक मामलों पर पूर्ण नियंत्रण हासिल कर लिया है, यह फैसला लिया गया।

इसके परिणामस्वरुप 11-30 अक्टूबर 2022 के बीच होने वाला फीफा अंडर -17 महिला विश्व कप 2022 भारत में अपनी योजना के अनुसार आयोजित किया जाएगा। एशियन फुटबॉल कॉन्फेडरेशन (AFC) द्वारा आयोजित टूर्नामेंट में भारतीय फुटबॉल क्लब भी हिस्सा ले सकते हैं।

फीफा ने एक बयान में कहा, "फीफा और AFC स्थिति की निगरानी करना जारी रखेंगे और समय पर चुनाव कराने में AIFF का समर्थन करेंगे।"

सुप्रीम कोर्ट ने इससे पहले AIFF प्रेसिडेंट प्रफुल्ल पटेल और उनकी एग्जक्यूटिव कमेटी को सभी जिम्मेदारियों से मुक्त कर दिया था। प्रफुल्ल पटेल 12 साल तक एआईएफएफ अध्यक्ष रहे हैं। उन्होंने तीन, चार साल का टर्म पूरा किया और वह भारत के नेशनल स्पोर्ट कोड में निर्धारित कानूनों के तहत किसी भी अधिक शर्तों के लिए योग्य नहीं थे।

हालांकि, एआईएफएफ अध्यक्ष के पद के लिए कोई नया चुनाव नहीं हुआ, जिससे सुप्रीम कोर्ट को सीओए की नियुक्ति के लिए कदम उठाना पड़ा।

बाद में, फीफा ने सीओए को भारतीय फुटबॉल के संचालन में तीसरे पक्ष के रूप में हस्तक्षेप करने वाला माना, जिसके परिणामस्वरूप बैन लगाया गया था।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स