टोक्यो ओलंपियन भवानी देवी ने कॉमनवेल्थ फेंसिंग चैंपियनशिप 2022 में हासिल किया गोल्ड मेडल

भारतीय फेंसर ने फाइनल में ऑस्ट्रेलियाई फेंसर वेरोनिका वासिलेवा को 15-10 से हराकर लंदन में अपने महिला सीनियर इंडिविजुअल साबरे खिताब को डिफेंड किया।

लेखक सतीश त्रिपाठी
फोटो क्रेडिट Fencing Association of India

भारतीय फेंसर सीए भवानी देवी ने बुधवार को लंदन में कॉमनवेल्थ फेंसिंग चैंपियनशिप 2022 में महिला सीनियर इंडिविजुअल साबरे कैटेगरी में स्वर्ण पदक को अपने नाम किया है।

भवानी देवी, पिछले साल टोक्यो 2020 के लिए कट बनाने के बाद ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली पहली भारतीय फेंसर थीं। वहीं, इस इवेंट की कैटेगरी में वह शीर्ष वरीयता प्राप्त और मौजूदा चैंपियन थीं। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के कैनबरा में आयोजित 2018 संस्करण में भी स्वर्ण पदक जीता था।

विश्व में 42वें स्थान पर काबिज भारतीय फेंसर ने फाइनल में दूसरी वरीयता प्राप्त ऑस्ट्रेलियाई फेंसर वेरोनिका वासिलेवा को 15-10 से हराकर कॉमनवेल्थ फेंसिंग खिताब को डिफेंड किया।

बता दें कि लंदन में कॉमनवेल्थ फेंसिंग चैंपियनशिप 2022 उनका इस साल का 10वां अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट था।

भवानी देवी ने खिताब को डिफेंड करने के बाद कहा, “अपने खिताब को डिफेंड करना एक बहुत बड़ी बात है। यह एक मुश्किल फाइनल था और मुझे खुशी है कि मैं इस साल भारत के लिए एक और स्वर्ण पदक जोड़ने में सफल रही हूं। 

इस साल मेरे लिए यह एक शानदार सफर रहा है और मैं आगामी टूर्नामेंट के लिए इस गति को जारी रखना चाहूंगी। मुझे घर से काफी सपोर्ट मिला है।"

तमिलनाडु की रहने वाली भवानी देवी पिछले साल टोक्यो 2020 में राउंड ऑफ 32 में पहुंची थीं और उनके मौजूदा प्रदर्शन को देखकर ये कहा जा सकता है कि वह साल 2022 में अच्छी फॉर्म में हैं।

वर्ष की शुरुआत इस्तांबुल में फेंसिंग वर्ल्ड कप से हुई, जहां वह 23वें स्थान पर रहीं। इसके बाद, इस साल जुलाई में काहिरा में भवानी देवी का विश्व चैंपियनशिप अभियान सेकेंड राउंड में समाप्त हुआ।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स