विश्व तीरंदाजी चैंपियनशिप 2021: वूमेंस और मिक्स्ड टीम इवेंट में भारत ने जीता रजत पदक

भारतीय तीरंदाज ज्योति वेन्नम ने मुस्कान किरार और प्रिया गुर्जर के साथ वूमेंस टीम कंपाउंड का रजत पदक जीता है। उन्होंने मिक्स्ड टीम में भी अभिषेक वर्मा के साथ जोड़ी बनाकर रजत पदक जीता।

लेखक शिखा राजपुत
फोटो क्रेडिट World Archery

भारतीय वूमेंस और मिक्स्ड कंपाउंड टीम में शामिल ज्योति वेन्नम (Jyothi Vennam) ने शुक्रवार को अमेरिका के यांकटन में हो रही विश्व तीरंदाजी चैंपियनशिप 2021 में रजत पदक जीता।

दोपहर में ज्योति वेन्नम, मुस्कान किरार (Muskan Kirar) और प्रिया गुर्जर (Priya Gurjar) की वूमेंस कंपाउंड टीम कोलंबिया की सारा लोपेज (Sara Lopez), एलेजांद्रा उस्कियानो (Alejandra Usquiano) और नोरा वाल्डेज (Nora Valdez) की टीम से फाइनल में 229-224 से हार गई।

भारतीय टीम ने पहले सेट में 58-58 की बराबरी की और फिर दूसरा सेट 55-54 से हार गई, जहां उनके दो 8 अंक, दो 9 अंक और दो 10 अंक (बुल्स-आई) के निशाने की तुलना में कोलंबियाई जोड़ी ने सिर्फ एक 8 अंक का निशाना लगाया।

कोलंबिया के तीरंदाजों ने तीसरे और चौथे सेट में एक बार फिर 9 अंक से नीचे का स्कोर नहीं किया और आसानी से दोनों सेट 58-56 से जीतकर स्वर्ण पदक हासिल किया।

दिन के फाइनल मैच में ज्योति वेन्नम और अभिषेक वर्मा (Abhishek Verma) की एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता जोड़ी सारा लोपेज (Sara Lopez) और डेनियल मुनोज (Daniel Munoz) की कोलम्बियाई जोड़ी से मिक्स्ड टीम कंपाउंड फाइनल में 154-150 से हार गई।

भारतीय जोड़ी ने पहला सेट 39-38 के स्कोर से जीता, जहां उन्होंने कोलंबिया के दो 9 अंक और दो 10 अंक के निशाने की तुलना में तीन 10 अंक और एक 9 अंक के निशाने लगाए। 

जबकि दूसरा सेट लोपेज़-मुनोज की जोड़ी ने 39-36 के स्कोर से जीत लिया। जिसमें उन्होंने तीन 10 अंक और एक 9 अंक के निशाने लगाए। इसके जवाब में भारतीय जोड़ी सिर्फ एक 10 अंक, दो 9 अंक और एक 8 अंक के निशाने ही लगा सकी। इस तरह कोलंबिया ने 77-75 के स्कोर से बढ़त हासिल कर ली।

तीसरे सेट में कोलंबियाई जोड़ी ने शानदार प्रदर्शन करते हुए चार 10 अंक के निशाने लगाए और 40-36 के स्कोर से इसे अपने नाम कर लिया। इस तरह उनकी कुल बढ़त छह अंक की हो गई।

चौथा सेट ज्योति-अभिषेक की जोड़ी के नाम रहा और उन्होंने इसे 39-37 के स्कोर से जीत लिया। इसमें उन्होंने तीन 10 अंक और एक 9 के निशाने लगाए, जबकि कोलंबियाई जोड़ी ने अपनी बढ़त को बनाए रखने के लिए कड़ी टक्कर दी और स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया।

विश्व चैंपियनशिप में कुल मिलाकर यह ज्योति वेन्नम का तीसरा रजत पदक है।

शनिवार को ज्योति वेन्नम और अभिषेक वर्मा दोनों ही तीरंदाज़ इंडिविजुअल कंपाउंड पदक के लिए प्रतिस्पर्धा करेंगे।

वूमेंस इंडिविजुअल कंपाउंड क्वार्टर फाइनल में ज्योति वेन्नम का सामना क्रोएशिया की अमांडा मलिनारिक (Amanda Mlinaric) से होगा, वहीं पुरुषों की इंडिविजुअल कंपाउंड इवेंट के अंतिम आठ में अभिषेक वर्मा का सामना डचमैन माइक श्लोसेर (Mike Schloesser) से होगा।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स