वर्ल्ड डबल स्क्वैश चैंपियनशिप 2022: दीपिका पल्लीकल, जोशना चिनप्पा को पांच सदस्यीय भारतीय टीम में मिली जगह

वर्ल्ड डबल्स को पिछले साल कोविड महामारी के कारण स्थगित कर दिया गया था। टूर्नामेंट की मेजबानी इस साल स्कॉटलैंड करेगा। देखें लाइव!

लेखक रौशन प्रकाश वर्मा
फोटो क्रेडिट Getty Images

5 से 9 अप्रैल तक स्कॉटलैंड के ग्लासगो में स्कॉटस्टन लीजर सेंटर में आयोजित वर्ल्ड डबल स्क्वैश चैंपियनशिप 2022 में कॉमनवेल्थ गेम्स की पूर्व चैंपियन दीपिका पल्लीकल और जोशना चिनप्पा सहित पांच भारतीय खिलाड़ी प्रतिस्पर्धा करेंगे।

ग्लासगो वर्ल्ड स्क्वैश मीट में दुनिया भर के कुल 86 दिग्गज खिलाड़ी हिस्सा लेंगे।

भारत के अलावा, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, स्कॉटलैंड, न्यूजीलैंड, इंग्लैंड, कोलंबिया, हांगकांग, मलेशिया, माल्टा, सिंगापुर, दक्षिण अफ्रीका, स्पेन, श्रीलंका और वेल्स अन्य देश हैं जो ग्लासगो में दर्शकों के आकर्षण का मुख्य केंद्र होंगे।

पांच सदस्यीय भारतीय स्क्वैश टीम में दीपिका पल्लीकल, जोशना चिनप्पा, विक्रम मल्होत्रा, रामित टंडन और सौरव घोषाल शामिल हैं।

वर्ल्ड युगल स्क्वैश चैंपियनशिप में तीन अलग-अलग पदक स्पर्धाएं होती हैं - मेंस डबल्स, वूमेंस डबल्स और मिक्स्ड डबल्स। 

एशियन गेम्स 2018 में कांस्य पदक जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा रहे रामित टंडन मेंस डबल्स प्रतिस्पर्धा में विक्रम मल्होत्रा के साथ खेलेंगे। दोनों को ग्रुप ई में रखा गया है। 

भारतीय क्रिकेटर दिनेश कार्तिक की पत्नी दीपिका पल्लीकल और जोशना चिनप्पा की जोड़ी वूमेंस डबल्स में प्रतिस्पर्धा करेगी। उन्हें ग्रुप बी में रखा गया है।

पल्लीकल और चिनप्पा का एक साथ खेलने का अच्छा रिकॉर्ड है। दोनों की जोड़ी ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2014 में स्वर्ण पदक और 2018 में रजत पदक जीता था। दोनों व्यक्तिगत रूप से सिंगल्स प्रतिस्पर्धा में एशियन गेम्स के पदक विजेता भी हैं।

भारत की ओर से मिक्स्ड डबल्स में, जोशना चिनप्पा-विक्रम मल्होत्रा और दीपिका पल्लीकल-सौरव घोषाल की जोड़ी प्रतिस्पर्धा करेगी। 

एशियन गेम्स में सात बार के पदक विजेता सौरव घोषाल ने गोल्ड कोस्ट में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में पल्लीकल के साथ मिक्स्ड डबल्स का रजत पदक जीता था। घोषाल की शादी दीपिका की बहन दिया से हुई है।

घोषाल के नाम वर्ल्ड डबल्स में भी दो रजत पदक हैं। पहला पदक उन्होंने 2004 में मेंस डबल्स में ऋत्विक भट्टाचार्य के साथ जीता था जबकि दूसरा पदक उन्होंने 2016 में मिक्स्ड डबल्स में दीपिका के साथ जीता था।

पूल मैच 5 अप्रैल से शुरू होंगे, जबकि राउंड ऑफ 16 और अन्य क्लासिफिकेशन मैच 7 अप्रैल से होंगे। फाइनल 9 अप्रैल को होगा।

वर्ल्ड डबल स्क्वैश चैंपियनशिप का आयोजन 1981 से किया जा रहा है। प्रत्येक दो वर्ष के बाद आयोजित होने वाला ये टूर्नामेंट पिछले साल कोविड महामारी के कारण रद्द कर दिया गया था। 

टूर्नामेंट का पिछला संस्करण 2019 में आयोजित किया गया था। ऑस्ट्रेलिया ने टूर्नामेंट की मेजबानी की थी और तीनों पदक भी जीते थे। 2019 संस्करण में भारत की ओर से किसी भी खिलाड़ी ने इस टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं लिया था।

2019 में टूर्नामेंट के सभी पदक जीतने वाली ऑस्ट्रेलिया की टीम के रेयान कस्कली और डोना लोब्बन इस साल अपना खिताब बचाने के लिए प्रतिस्पर्धा करेंगे। 

दुनिया के नंबर 1 पुरुष खिलाड़ी न्यूजीलैंड के पॉल कोल, दुनिया की नंबर 6 महिला खिलाड़ी जोएल किंग, इंग्लैंड की जॉर्जिना कैनेडी और स्कॉटलैंड के एलन क्लेन और ग्रेग लोब्बन कुछ अन्य खिलाड़ी हैं जो टूर्नामेंट में आकर्षण का केंद्र होंगे। 

भारत में वर्ल्ड डबल स्क्वैश चैंपियनशिप 2022 की लाइव स्ट्रीमिंग कहां देखें?

वर्ल्ड डबल स्क्वैश चैंपियनशिप 2022 की लाइव स्ट्रीमिंग भारत में Olympic.com वेबसाइट पर उपलब्ध होगी। भारत में वर्ल्ड डबल्स का कोई सीधा प्रसारण नहीं होगा।

वर्ल्ड डबल स्क्वैश चैंपियनशिप 2022 के लिए भारतीय टीम

मेंस सिंगल्स: विक्रम मल्होत्रा/रामित टंडन

वूमेंस डबल्स: दीपिका पल्लीकल/जोशना चिनप्पा

मिक्स्ड डबल्स: विक्रम मल्होत्रा/जोशना चिनप्पा, सौरव घोषाल/दीपिका पल्लीकल

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स