अपनी भाषा को सेलेक्ट करें
Loading...

हमने क्या सीखा: टोक्यो 2020 ओलंपिक खेलों से आधुनिक पेंटाथलॉन के खास पल

ग्रेट ब्रिटेन की ऐतिहासिक जीत से लेकर प्रतिस्पर्धा करने वाली सुपर मम्स तक, हम 2021 में आयोजित हुए टोक्यो 2020 आधुनिक पेंटाथलॉन के सबसे खास पलों पर नज़र डालेंगे और पदक विजेताओं को जानेंगे साथ ही हाइलाइट्स देखने की जानकारी और पेरिस 2024 की संभावनाओं पर एक नज़र।

5 मिनट द्वारा olympic-editorialworkflow
GettyImages-1332673580
(फोटो क्रेडिट 2021 Getty Images)

आधुनिक पेंटाथलॉन टोक्यो 2020 ओलंपिक खेलों में आयोजित होने वाले आखिरी खेलों में से एक था - और ये ऐसा इवेंट है जिसका सबको इंतज़ार होता है।

ग्रेट ब्रिटेन को दोहरी खुशी मिली, जहां पुरुषों और महिलाओं प्रतियोगिताओं में जीत हासिल की, तो चोंग ने इतिहास की किताबों में अपना नाम दर्ज करा लिया।

वहीं जून वूंग-ताए ने दक्षिण कोरिया के लिए पहला आधुनिक पेंटाथलॉन पदक जीता, जबकि मिस्र के उभरते सितारे अहमद एलगेंडी ने दिखाया कि उनके देश में भी इस खेल का भविष्य उज्ज्वल है।

चलिए हम सबसे यादगार पलों पर एक नज़र डालते हैं, पदक विजेताओं के संक्षिप्त विवरण के साथ पेरिस 2024 ओलंपिक की संभावनाओं के बारे में बताते हैं।

2021 में आयोजित टोक्यो 2020 आधुनिक पेंटाथलॉन के सबसे खास पल

चलिए कुछ यादगार पलों पर एक नज़र डालते हैं:

1: केट फ्रेंच ग्रेट ब्रिटेन की दूसरी आधुनिक पेंटाथलॉन ओलंपिक चैंपियन बनीं

रियो 2016 में 5वें स्थान पर रहने के बाद फ्रेंच ने टोक्यो 2020 में पदक जीतने की पूरी तैयारी कर ली थी।

30 वर्षीय ने उस लक्ष्य को अपने ही अंदाज में हासिल किया, महिलाओं की प्रतियोगिता में उनका वर्चस्व दिखा और उन्होंने स्वर्ण अपने नाम कर लिया।

लेज़र रन में अपने 22 में से सिर्फ दो शॉट चूकने के बाद फ्रेंच अपने और अन्य एथलीटों के साथ फिनिश लाइन पर पहुंच गईं।

स्टेफ़नी कुक के बाद ये खिताब जीतने वाली फ्रेंच पहली ब्रिटिश महिला हैं, स्टेफ़नी कुक ने सिडनी 2020 में जीत हासिल की थी।

GettyImages-1332667095
GettyImages-1332667095 (2021 Getty Images)

2: कोरिया के लिए पदक जीतने वाले पहले पेंटाथलीट

जून वूंग-ताए की बदौलत दक्षिण कोरिया के लिए एक ऐतिहासिक पल बन गया।

26 वर्षीय पुरुषों की दौड़ में तीसरे स्थान पर रहे और इस खेल में अपने देश के लिए पहला ओलंपिक पदक जीता।

जून के साथी जंग जिन-ह्वा चौथे स्थान पर रहे और पदक की दौड़ से बाहर हो गए, लेकिन दक्षिण कोरिया का आधुनिक पेंटाथलॉन में पदक की उम्मीद बरकरार रही।

3: आधुनिक पेंटाथलॉन की सुपर मॉम्स

आधुनिक पेंटाथलॉन जापान में कई खेलों में से एक ऐसा इवेंट था जहां एथलीट मां बनने के बाद मौदान पर लौट रही थीं, जिन्होंने हाल ही में बच्चे को जन्म दिया था।

बेलारूस की अनास्तासिया प्रोकोपेंको ऐसी ही एक प्रतियोगी थीं, जो काहिरा में आयोजित हुए 2021 विश्व चैम्पियनशिप खिताब जीतने के बाद अच्छी फॉर्म में थीं - लेकिन टोक्यो में पदक नहीं जीत सकीं।

लिथुआनिया की लौरा असदौस्काइट ने मैदान पर वापसी की, वो अपने उस फॉर्म को दोहराने की उम्मीद कर रही थीं जिसने उन्हें लंदन 2012 में ओलंपिक चैंपियन बनाया था।

हालांकि वो केट फ्रेंच को रोक नहीं पाई और दूसरे स्थान पर रहते हुए अपनी झोली में रजत पदक डाला।

GettyImages-1332666069
GettyImages-1332666069 (2021 Getty Images)

4: मिस्र का उभरता हुआ सितारा

21 साल की उम्र में अहमद एलगेंडी का आधुनिक पेंटाथलॉन में भविष्य उज्ज्वल दिख रहा है।

2021 विश्व चैंपियनशिप में कांस्य जीतने के बाद, टोक्यो 2020 में पोडियम फिनिश करने में सफल रहे। जहां उन्होंने दूसरा स्थान हासिल किया।

वो टोक्यो ओलंपिक चैंपियन जो चोंग के साथ साथ चल रहे थे, उन्होंने फिनिश लाइन तक चुनौती दी लेकिन जब रेस खत्म हुई तो उनकी झोली में रजत पदक था।

ऐसा करते हुए इस युवा खिलाड़ी ने इस आयोजन में अपना एकमात्र पदक जीता, साथ ही टोक्यो 2020 में देश का पहला रजत पदक जीता और मिस्र के लिए इतिहास रच दिया।

ये भविष्य के लिए अच्छा संकेत है और एलगेंडी से आगे पूरे देश को उम्मीद होगी।

5: जो चोंग ने टीम जीबी के लिए इतिहास रचा

महिलाओं के आयोजन में केट फ्रेंच की सफलता के बाद, जो चोंग के लिए इतिहास की किताब में खुद का नाम लिखवाने का समय आ गया था।

26 वर्षीय ने अपनी फाइनल दौड़ एक चैंपियन की तरह दौड़ी, और एलगेंडी की चुनौती को पार करते ही स्वर्ण पर अपने नाम की मुहर लगा दी।

वो आधुनिक पेंटाथलॉन में ओलंपिक खिताब जीतने वाले पहले ब्रिटिश पुरुष एथलीट बन गए।

रियो में वो 10वें स्थान पर रहे थे, उसे देखते हुए उनके लिए ये एक बड़ी उपलब्धि थी। इस तरह ब्रिटेन ने एक आधुनिक पेंटाथलॉन में दूसरा खिताब हासिल किया।

GettyImages-1332834793
GettyImages-1332834793 (2021 Getty Images)

ये भी जानिए

इस खेल में निस्संदेह फ्रेंच और चोंग ने सबका ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया, जो आधुनिक पेंटाथलॉन में ओलंपिक खिताब जीतने वाले सिर्फ दूसरे और तीसरे जीबी के एथलीट बने।

आधुनिक पेंटाथलॉन में दक्षिण कोरिया भी उभर रहा है।

जून और जंग ने कई प्रतियोगिताओं में अपनी क्षमता दिखाई है, और भले ही सिर्फ जून पदक जीतने में सफल रहे हों, लेकिन जिस तरह से दोनों का पिछला प्रदर्शन रहा है उसे देखते हुए उनके देख के खेल प्रेमियों की नज़र आने वाले सालों में उन पर रहने वाली है।

GettyImages-1332828340 (1)
GettyImages-1332828340 (1) (2021 Getty Images)

नमस्ते पेरिस 2024

तीन साल बाद निगाहें ब्रिटेन पर होंगी, जो मौजूदा चैंपियन के रूप में पेरिस 2024 में हिस्सा लेंगे।

लेकिन ऑस्ट्रेलिया की क्लो एस्पोसिटो पर भी नज़र रहने वाली है, जिन्होंने पिछले साल मां बनने के बाद टोक्यो में प्रतिस्पर्धा नहीं की थी। रियो 2016 की स्वर्ण पदक विजेता एक्शन में लौटने और अपना खिताब हासिल करने के लिए बेकरार होंगी।

दूसरी ओर मिस्र के अहमद एलगेंडी के पास और अनुभव हो जाएगा और वो पेरिस में जो चोंग की तरह अंतिम समय में जीत हासिल करने का अनुभव हासिल कर लेंगे और एक कदम आगे जाना चाहेंगे।

GettyImages-1332842005
GettyImages-1332842005 (2021 Getty Images)

Olympics.com पर आधुनिक पेंटाथलॉन का रिप्ले कब और कहाँ देख सकते हैं?

ऐसे सभी सवालों के जवाब आपको Olympics.com पर मिलेंगे।

आधुनिक पेंटाथलीट कब प्रतिस्पर्धा करेंगे?

इनमें से कई एथलीट 2022 विश्व चैंपियनशिप में भाग लेंगे।

चीन के ज़ियामेन में आयोजित होने वाले इस इवेंट में ये भी देखने को मिलेगा कि पेरिस में पोडियम के लिए संभावित रूप से कौन ज्यादा बेहतर फॉर्म में है।

टोक्यो 2020 आधुनिक पेंटाथलॉन की पूरी पदक सूची

वूमेंस पेंटाथलॉन

स्वर्ण - केट फ्रेंच

सिल्वर - लौरा असदौस्काइट

कांस्य - सरोल्टा कोवाक्स

मेंस पेंटाथलॉन

स्वर्ण - जोसेफ चोंग

रजत - अहमद एलगेंडी

कांस्य - वूंगटे जून

इन्हें पसंदीदा सूची में जोड़ें
Kate FRENCHKate FRENCH
Ahmed ELGENDYAhmed ELGENDY
Joseph CHOONGJoseph CHOONG
मॉडर्न पेंटाथलानमॉडर्न पेंटाथलान
रिपब्लिक ऑफ़ कोरियाKOR
से अधिक

You May Like