थॉमस और उबेर कप 2022: भारत ने डेनमार्क को हराकर पहली बार फाइनल में बनाई जगह, रिजल्ट देखें 

किदांबी श्रीकांत और एच एस प्रणॉय ने मेंस सिंगल्स में शानदार जीत दर्ज की। वहीं, मेंस डबल्स में सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने भी अपना मैच जीता।

लेखक रौशन प्रकाश वर्मा
फोटो क्रेडिट Badmintonphoto | Courtesy of BWF

बैंकॉक में चल रहे थॉमस और उबेर कप 2022 के सेमीफाइनल में शुक्रवार को भारतीय मेंस टीम ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए डेनमार्क को 3-2 से हराकर फाइनल में जगह बनाई।

थॉमस कप के सेमीफाइनल में भारतीय मेंस टीम की ओर से किदांबी श्रीकांत और एचएस प्रणॉय ने अपने सिंगल्स मुकाबले में जीत दर्ज की। वहीं, मेंस डबल्स मुकाबले में सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की भारतीय जोड़ी ने भी जीत दर्ज करते हुए मेंस टीम को फाइनल तक पहुंचा दिया।

भारत के पूर्व नंबर-1 बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत ने बेहद शानदार शुरुआत की और अपने बेहतरीन शॉट्स के साथ डेनमार्क के एंडर्स एंटोनसेन को पहले गेम में 21-18 से मात दी। हालांकि एंटोनसेन ने दूसरे गेम में अच्छी वापसी की और भारतीय खिलाड़ी को गेम में बड़ी बढ़त बनाने का कोई मौका नहीं दिया। डेनिश शटलर ने दूसरा गेम 12-21 से जीत लिया।

तीसरे और निर्णायक गेम में दोनों ही खिलाड़ी जीत दर्ज करते हुए अपनी टीम को मुकाबले में बढ़त दिलाने के लिए काफी मेहनत करते हुए नजर आए। दोनों ही ओर से कई बेहतरीन शॉट्स खेले गए लेकिन, किदांबी श्रीकांत ने अपना दबदबा बरकरार रखा और 21-18 से तीसरे गेम में जीत हासिल करते हुए एक घंटे 20 मिनट तक चले मुकाबले को अपने नाम कर लिया। इसके साथ ही 5 मैचों के मुकाबले में भारतीय टीम ने 2-1 से बढ़त हासिल कर ली।

एचएस प्रणॉय ने भी अपने मुकाबले में जीत दर्ज की। एचएस प्रणॉय ने अच्छी शुरुआत की लेकिन पहले गेम में उन्हें जीत नहीं मिल सकी। हालांकि, दूसरे गेम में एचएस प्रणॉय ने शानदार वापसी की और पूरे गेम में डेनमार्क के खिलाड़ी रासमुस जेमके पर हावी रहते हुए 21-9 से जीत दर्ज की। वहीं, तीसरे गेम में डेनिश खिलाड़ी ने थोड़ी चुनौती पेश की लेकिन, प्रणॉय ने अपना दबदबा बनाए रखा। उन्होंने तीसरे गेम को 21-12 से जीतकर मुकाबला अपने नाम कर लिया।

एचएस प्रणॉय ने एक घंटे 13 मिनट तक चले मुकाबले में रासमुस जेमके को 13-21, 21-9, 21-12 से हराया।

सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की भारतीय जोड़ी ने किम एस्ट्रप और मैथियास क्रिश्चियन्सेन की जोड़ी को एक घंटे 18 मिनट तक चले मैच में 21-18, 21-23, 22-20 से हराया।

दोनों ही बैडमिंटन जोड़ियों के बीच बेहद रोमांचक मुकाबला देखने को मिला। एक-दूसरे से आगे निकपलने की होड़ में दोनों ही टीमें एक-दूसरे को कड़ी चुनौती देते हुई दिखीं। हालांकि, भारतीय जोड़ी ने पहला गेम 21-18 से जीत लिया।

दूसरे गेम में भी दोनों टीमों के बीच कांटे की टक्कर जारी रही। लेकिन, अंततः एस्ट्रप और क्रिश्चियन्सेन ने दो गेम प्वाइंट बचाते हुए 21-23 से जीत दर्ज की। इसके बाद तीसरे और निर्णायक मैच में दुनिया के आठवें नंबर की भारतीय जोड़ी ने दुनिया की नौवें नंबर की डेनिश जोड़ी पर दबाव बनाए रखा और 22-20 से गेम जीतकर मैच को भी अपने नाम किया।

हालांकि, थॉमस कप के सेमीफाइनल मुकाबले में भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी। शुक्रवार को दुनिया के 9वें नंबर के शटलर लक्ष्य सेन को बैडमिंटन के वर्ल्ड रैंकिंग में पहले पायदान पर काबिज डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसन के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। इस टूर्नामेंट में लक्ष्य सेन की ये लगातार तीसरी हार है। बता दें, दोनों खिलाड़ियों के बीच ये सातवां मुकाबला था जिसमें छह बार डेनमार्क के शटलर ने जीत दर्ज की है।

लक्ष्य सेन और विक्टर एक्सेलसन के बीच मुकाबला काफी रोमांचक रहा। हालांकि, लक्ष्य अपनी लय को बरकरार नहीं रख सके और उन्हें हार का सामना करना पड़ा। पहले गेम में लक्ष्य ने डेन शटलर को कड़ी चुनौती देने का प्रयास किया लेकिन विक्टर भारतीय शटलर पर हावी रहे और 21-13 से पहला गेम अपने नाम कर लिया।

दूसरे गेम में लक्ष्य सेन, मेंस सिंगल्स में दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी के सामने संघर्ष करते हुए नज़र आए। इस बीच विक्टर ने दूसरा गेम भी 21-13 से जीतकर 49 मिनट तक चले मुकाबले को अपने नाम कर लिया।

वहीं, कृष्णा प्रसाद गारगा और विष्णुवर्धन गौड़ पंजाला की जोड़ी को भी एंडर्स स्कारप रासमुसेन और फ्रेडरिक सोगार्ड के खिलाफ 14-21, 13-21 से हार का सामना करना पड़ा।

इस तरह से भारतीय मेंस टीम ने सेमीफाइनल मुकाबले में डेनमार्क को 3-2 से हराकर फाइनल में जगह बना ली है। रविवार (15 मई) को होने वाले फाइनल में भारतीय टीम का मुकाबला इंडोनेशिया से होगा। यह पहली बार है जब भारत ने थॉमस कप के फाइनल में जगह बनाई है।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स