रग्बी सेवन्स: फ़िजी ने जीता लगातार दूसरा स्वर्ण

2016 रियो ओलंपिक्स में प्रशांत द्वीप के इस समूह ने अपना पहला पदक जीता था आज फाइनल में न्यू ज़ीलैंड को हराकर एक और स्वर्ण खाते में जोड़ लिया।

फोटो क्रेडिट 2021 Getty Images

फ़िजी ने न्यू ज़ीलैंड को एक-तरफा मैच में 27-12 से पराजित करके रग्बी सेवन्स का स्वर्ण पदक लगातार दूसरी बार हासिल कर लिया है। रियो 2016 ओलंपिक खेलों में भी फ़िजी ने ग्रेट ब्रिटेन को हराया था।

फ़िजी मैच की शुरुआत से ही आक्रामक रग्बी खेल रहा था।

फिजी के शुरू में ही दो प्रयासों को सफलतापूर्वक पूर्ण कर 12-0 से बद्धतग ले चुके थे। Andrew Knewstubb के लिए यह एक भयानक क्षण था, जब दौड़ लगते वक्त वे गेंद को संभाल नही पाए और फील्ड पर स्लाइड करते समय गेंद Sireli Maqala के हाथों में थमा दी जिन्होंने तुरंत स्कोर कर दिया। हालांकि फ़िजी ने 19-5 की अच्छी बढ़त ले ली थी, लेकिन न्यू ज़ीलैंड ने ब्रेक तक इस स्कोर को 19-12 तक पहुंचा दिया था।

रियो का स्वर्ण फ़िजी के लिए ओलंपिक खेलों का पहला पदक था, अब उनके पास दो हैं।

Jerry Tuwai पांच साल पहले टीम में थे और उन्होंने टोक्यो में अपने खिताब की रक्षा में फ़िजी का नेतृत्व किया, जहां उन्होंने ओलंपिक खेलों में अपनी नाबाद लकीर जारी रखी।

रजत पदक न्यूजीलैंड के लिए एक बड़ा सुधार था, 2016 में अपने शुरुआती गेम में जापान से हारने और फ़िजी से क्वार्टर फाइनल में हार के बाद पोडियम से re to come

अर्जेन्टीना को रजत

अर्जेंटीना ने ओलंपिक खेलों टोक्यो 2020 में रग्बी सेवन्स कांस्य जीतने के लिए ग्रेट ब्रिटेन को 17-12 से हरा दिया है। इस जीत से अर्जेंटीना ने रियो 2016 में ग्रेट ब्रिटेन के हाथों हार का बदला ले लिया है।

Ignacio Mendy’s का आखरी लम्हों में स्कोर करना निर्णायक साबित aur अर्जेन्टीना वहाँ से ग्रेट ब्रिटेन ने नाक के नीचे से कांस्य पदक चुरा ले गया।

ग्रेट ब्रिटेन की नजर पांच साल पहले रियो में रजत के बाद लगातार दूसरे पदक पर थी।

लेकिन ऐसा नहीं होना था क्योंकि Ben Harris के शुरुआती स्कोर को पहले ही Bazan Velez और फिर Marcos Moneta ने ब्रेक से पहले रद्द कर दिया था।

Ollie Lindsay-Hague ने ग्रैंडस्टैंड फिनिश स्थापित करने के लिए चीजों को समतल किया लेकिन यह अर्जेंटीना था जिसने Mendy दौड़ के साथ निर्णायक प्रयास केवल दो मिनट शेष रहते हुए हासिल किया।

यह Tony Roques की टीम के लिए जीतना संभव नही होना था। वे अर्जेंटीना की तीव्रता के साथ संघर्ष करते रहे और शायद कई बार बहुत अधीरता से खेलने के दोषी थे, क्षेत्रीय लड़ाई जीतने में असमर्थ थे। उनका सर्वश्रेष्ठ क्षण Harris के माध्यम से आया, स्कोरिंग और सहायता करते हुए ग्रेट ब्रिटेन ने दो बार स्कोर किया, लेकिन अंत में निराशा हाथ लगी।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स
यहां साइन अप करें यहां साइन अप करें