कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 टेबल टेनिस: साथियान गणानाशेखरन एंड टीम ने जीता स्वर्ण पदक

शरत कमल के अपने मैच में हारने के बाद अनुभवी भारतीय टीम ने बेहतरीन वापसी करते हुए देश के लिए 5वां स्वर्ण पदक हासिल किया।

लेखक रितेश जायसवाल
फोटो क्रेडिट 2022 Getty Images

ब्रिटेन के बर्मिंघम में चल रहे कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में मंगलवार को नेशनल एग्जिबीशन सेंटर में मेंस टेबल टेनिस टीम फाइनल मैच में सिगापुर के खिलाफ भारत ने 3-1 से शानदार जीत दर्ज करते हुए स्वर्ण पदक जीता। इसी के साथ भारत की झोली में 11वां पदक आ गया।

कॉमनवेल्थ गेम्स के इतिहास में भारतीय मेंस टीटी टीम का ये तीसरा स्वर्ण पदक है।

पुरुष टेबल टेनिस फाइनल के पहले मैच में हरमीत देसाई और जी साथियान ने सिंगापुर के योंग इजाक क्वेक और यू एन कोएन पैंग को 3-0 (13-11, 11-7, 11-5) से हराया।

इसके बाद पुरुषों के टेबल टेनिस फाइनल के दूसरे गेम में शरत कमल का सामना ज़े यू क्लेरेंस च्यू से हुआ। क्लेरेंस च्यू ने शरत कमल को 11-7, 12-14, 11-3, 11-9 से हराकर 1-1 से बराबरी हासिल कर ली।

शरत कमल की हार के बाद तीसरा मैच यू एन कोएन पैंग और जी साथियान के बीच शुरू हुआ। साथियान ने अपने प्रतिद्वंद्वी को पहले गेम में हराते हुए शानदार शुरुआत की। इसके बाद दूसरा गेम हारने के बाद जी साथियान ने तीसरे मैच में शानदार वापसी की। उन्होंने कोएन पैंग के खिलाफ तीसरे गेम में 11-7 से जीत हासिल की।

अंततः जी साथियान ने कोएन पैंग को 12-10, 7-11, 11-7, 11-4 से हराकर भारत को 2-1 से बढ़त दिला दी।

टेबल टेनिस मेंस टीम फाइनल के चौथे मैच में हरमीत देसाई का सामना क्लेरेंस च्यू से हुआ। देसाई ने पहले गेम में 11-8 से जीत हासिल करते हुए शानदार शुरुआत की। उन्होंने चौथे गेम में क्लेरेंस च्यू को 11-8, 11-5, 11-6 से हराकर भारत को शानदार जीत दिलाई और पुरुषों के टेबल टेनिस टीम फाइनल में सिंगापुर को 3-1 से हराकर देश के लिए स्वर्ण पदक पक्का किया।

इससे पहले प्रतियोगिता में, शीर्ष टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा के नेतृत्व में भारतीय महिला टीम को क्वार्टर-फाइनल में मलेशिया के खिलाफ 2-3 से हार का सामना करना पड़ा था।

बर्मिंघम 2022 में पुरुष एकल और युगल टेबल टेनिस स्पर्धा बुधवार से शुरू होगी।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स