एफसी कप के शुरुआती मैच में एटीके मोहन बागान की शानदार जीत

एटीके मोहन बागान के लिए पहले ग्रुप मैच में रॉय कृष्णा (39वें) और सुभाषिश बोस (46वें) ने गोल दागे। जबकि 68वें मिनट में सुनील छेत्री को गोल का मौका मिला।

लेखक प्रभात दुबे

एटीके मोहन बागान ने मालदीव के माले में नेशनल फुटबॉल स्टेडियम में एशियाई फुटबॉल परिसंघ (एएफसी) कप के ऑल इंडियन ग्रुप डी ओपनर मैच में बेंगलुरु एफसी को 2-0 से हरा दिया।

एटीके मोहन बागान के लिए रॉय कृष्णा (Roy Krishna) ने 39वें मिनट और सुभाषिश बोस (Subhasish Bose) ने 46वें मिनट पर गोल किए।

तकनीकी तौर पर बात की जाए तो 2016 की एफसी कप फाइनलिस्ट बेंगलुरू एफसी ज्यादातर समय (68 प्रतिशत) पोजेशन पर रहती है, साथ ही मैच के शुरूआती दौर में अच्छे एक्स्चेंज भी दिखाई दिए, लेकिन जैसे ही एटीके मोहन बागान को मौका मिला तो टीम ने फिर दोबारा मुड़कर नहीं देखा।

यह बेंगलुरु एफसी के जयेश राणे (Jayesh Rane) थे जिन्होंने चौथे मिनट में अपने पूर्व क्लब के गोल पर लंबी दूरी से वाइड शॉट के साथ गोल करने के लिए पहला बड़ा कदम उठाया।

हालांकि, एटीके मोहन बागान ने धीरे-धीरे मैच पर पकड़ बनाना शुरू कर दिया, खासकर विरोधी टीम के काउंटरों पर।

मुंबई सिटी एफसी से आए हुए ह्यूगो बौमौस (Hugo Boumous) ने अपने डेब्यू मैच में काफी एनर्जी के साथ पकड़ बनाने की कोशिश की।

इधर, 32वें मिनट में एटीके मोहन बागान के पास गोल करने का मौका था क्योंकि रॉय कृष्णा बॉक्स में जगह बनाने में सफल हो गए थे। वहीं दूसरी ओर बचाव में ह्यूगो कृष्णा का क्रॉस हासिल करने के लिए आगे की ओर झुके, लेकिन बेंगलुरु एफसी के गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू (Gurpreet Singh Sandhu) ने अपने दाहिने पैर के साथ एक शानदार गोल की बचत कर ली।

एटीके मोहन बागान की ओर से बेंगलुरू एफसी की तुलना में ज्यादा स्कोर करने की कोशिश में दिख रहे थे, और उन्होंने ऐसा किया भी, क्योंकि जब रॉय कृष्णा ने 39 वें मिनट में ह्यूगो के कॉर्नर पर सुभाषिश बोस के हेडर को डिफ्लेक्ट कर दिया।

बेंगलुरू एफसी के पास हाफ टाइम के स्ट्रोक पर दूर से हेडर करने के लिए एक ही कॉर्नर था।

एटीके मोहन बागान ने पहले हॉफ के ठीक बाद 2-0 की बढ़त बना ली, तो वहीं डेविड विलियम्स (David Williams) ने इस बार एक और सटीक पास किया, इस बार सुभाषिश बोस, जिन्होंने मुड़कर बाएं पैर से गुरप्रीत सिंह संधू को मात दी।

बेंगलुरु एफसी की तरफ से क्लेटन सिल्वा (Cleiton Silva) के पास थोड़ी देर बाद एक मौका आया, जिसे बाद में एटीके मोहन बागान के कस्टोडियन अमरिंदर सिंह (Amrinder Singh) ने असफल कर दिया।

इस बीच मिडल में रहते हुए सुनील छेत्री (Sunil Chhetri) मुश्किल से ही गेंद के आसपास दिखाई दे रहे थे। जब तक कि उन्हें 68 वें मिनट में लियोन ऑगस्टीन (Leon Augustine) द्वारा सब्स्टिट्यूट नहीं किया गया।

वहीं दूसरी ओर ह्यूगो बौमस ने बेंगलुरू एफसी को परेशान करना जारी रखा, और 72वें मिनट पर बिदानंद सिंह की जगह लेने से पहले एक जबरदस्त फ्री-किक फायर किया।

पराग श्रीवास ने मनवीर सिंह को नटमग्गिंग ( खास तरह से गेंद को खिलाड़ी के पास से निकालना) करने के बाद बेंगलुरू एफसी के लिए देरी से शुरुआत की। हालांकि उनकी ये कोशिश अमरिंदर सिंह की वजह से नाकाम रही जो कि बेंगलुरू एफसी के लिए खास मौके की तरह था।

बता दें कि बेंगलुरू एफसी का अगला मुकाबला बांग्लादेश की बशुंधरा किंग्स से होगा जबकि एटीके मोहन बागान का सामना मजिया स्पोर्ट्स एंड रिक्रिएशन क्लब ऑफ मालदीव से होगा। दोनों मैच शनिवार को माले के नेशनल फुटबॉल स्टेडियम में खेले जाएंगे।