FIH हॉकी प्रो लीग: आत्मविश्वास से भरी भारतीय टीम ने अर्जेंटीना को पछाड़ा, जीत का सिलसिला रखा जारी

Harmanpreet Singh (Photo by Charles McQuillan/Getty Images for FIH)
Harmanpreet Singh (Photo by Charles McQuillan/Getty Images for FIH)

इस भारतीय मेंस हॉकी टीम के लिए कुछ भी असंभव नहीं है। इस साल की शुरुआत में जर्मनी और ग्रेट ब्रिटेन पर अपनी शानदार जीत के बाद, इस टीम ने अब ओलिंपिक पदक विजेता, अर्जेटीना को उन्हीं के घर में पछाड़ कर FIH हॉकी प्रो लीग में अपना डंका बजाया।

ऐसा ही प्रदर्शन जारी रख यह टीम ओलंपिक में पदक जीतने के अपने मकसद के और करीब पहुंच रही है।

हाल ही अर्जेंटीना के ख़िलाफ़ दो मैच की श्रृंख्ला में भारतीय टीम ने दोनी मैचों में जीत दर्ज की। जहां पहला मैच 2-2 के स्कोर के बाद पेनल्टी शूटआउट में पहुंचा, जहां भारत 3-2 से विजयी रहा, तो वहीं दूसरा मुकाबला उन्होंने 3-0 के स्कोर के साथ बहुत आसानी से जीता।

पहले मैच में दो गोल दागने वाले भारतीय डिफेंडर Harmanpreet Singh ने दूसरा मैच भी उसी फॉर्म के साथ शुरू किया, 11वें मिनट में मैच का पहला गोल करके उन्होंने भारत को शुरआती बढ़त दिलाई।

इसे पहले की मेजबान टीम स्कोर को बराबर करने की कोशिश करती, अन्य भारतीय मिड-फील्डर, Lalit Kumar Upadhyay ने 25वें मिनट में एक गोल करके अर्जेंटीना को और दबाव में डाल दिया।

अब वहां से उनके लिए मैच में वापसी करना और भी मुश्किल हो गया। 

आत्मविश्वास से भरी भारतीय टीम ने फिर उन्हें गोल करने का मौका नहीं दिया। 

आखिरखार भारतीय स्ट्राइकर, Mandeep Singh द्वारा 58वें के गोल ने भारत को 3-0 से मैच जीतने में मदद की।

पहले मैच में भी भारतीय टीम रही थी विजेता

यह पूरा दौरा भारत के लिए काफ़ी शानदार रहा।

इसी टीम के ख़िलाफ़ अभ्यास मैचों में बेहतरीन प्रदर्शन दिखाने के बाद, FIH हॉकी प्रो लीग के पहले गेम में भारत ने अर्जेंटीना को कड़ी चुनौती दी।

ब्यूनस आयर्स में आयोजित इस गेम में, भारत ने Harmanpreet Singh के 21वें मिनट के पेनल्टी कार्नर गोल की बदौलत लीड ले ली थी। लेकिन सात मिनट बाद ही, Martin Ferreiro के गोल ने अर्जेंटीना को स्कोर (1-1) बराबर करने में मदद की।

इसे पहले की भारत मैच में वापसी करने के बारे में सोचता, अर्जेंटीना के उसी फॉरवर्ड खिलाड़ी ने 2 मिनट बाद गेंद को नेट के पार दोबारा पहुंचा दिया।

अब दबाव भारतीय टीम पर था।

लेकिन वो कहते हैं न जहाँ चाह वहाँ राह - भारतीय टीम ने हार नहीं मानी और अपना शानदार खेल जारी रखा।

मैच के 60वें मिनट में Harmanpreet Singh ने एक और गोल करके स्कोर 2-2 पर ला खड़ा किया।

अब क्योंकि दोनों टीम मैच में एक और गोल करने में विफल रहीं, मैच चला गया पेनल्टी शूटआउट में, जहाँ भारत 3-2 के स्कोर के साथ विजयी रहा।

उस मैच में दो गोल करने वाले Harmanpreet Singh ने मैच के बाद टीम की सहराना करते हुए कहा, “हमने हार नहीं मानी, हम आखिरी पल तक लड़ते रहे और शायद यही कारण है की हम मैच नहीं हारे।”