एक मुलाक़ात क्लेरिसे एग्बेग्ननौ के साथ - जन्म से ही हैं एक सच्ची फ़ाइटर

तीन बार की जूडो विश्व चैंपियन हमें बताती है कि कैसे उन्होंने अपने जीवन के लिए संघर्ष किया। वह समय से पहले पैदा होने की वजह से कोमा में थीं। जानें उनके हमेशा फ़ाइट करते रहने के गुणों ने कैसे उन्हें ओलंपिक खेलों में रैंकिंग को बेहतर करने में मदद की, जहां उन्होंने फ्रांस के लिए सिल्वर मेडल जीता।

एक मुलाक़ात क्लेरिसे एग्बेग्ननौ के साथ - जन्म से ही हैं एक सच्ची फ़ाइटर

तीन बार की जूडो विश्व चैंपियन हमें बताती है कि कैसे उन्होंने अपने जीवन के लिए संघर्ष किया। वह समय से पहले पैदा होने की वजह से कोमा में थीं। जानें उनके हमेशा फ़ाइट करते रहने के गुणों ने कैसे उन्हें ओलंपिक खेलों में रैंकिंग को बेहतर करने में मदद की, जहां उन्होंने फ्रांस के लिए सिल्वर मेडल जीता।