टेबल टेनिस
  • ओलंपिक डेब्यू
    सियोल 1988
  • सर्वाधिक स्वर्ण पदक
    Wang Nan (CHN)
और अधिक जानकारी

टेबल टेनिस स्पॉटलाइट

Olympic Channel

पिछले इवेंट्स को खोजिए और उनका आनंद लीजिए, ओलंपिक चैनल पर टेबल टेनिस से जुड़े ओरिजिनल फिल्म और सीरीज देखिए

हिस्ट्री ऑफ

टेबल टेनिस

उच्च स्तर के समाज से निकला एक खेल

ऐसा माना जाता है कि इंग्लैंड में उच्च वर्ग के विक्टोरियन्स ने एक कुलीन खेल के रूप में 1880 के दशक में टेबल टेनिस का आविष्कार किया। दरअसल रात के खाने के बाद टेनिस के विकल्प के तौर पर जो भी उपकरण मिलता उसके ही साथ इसे खेला जाता था। आमतौर पर किताबों की एक लाइन को नेट माना जाता था और शैम्पेन की बोतल का गोल कॉर्क गेंद के तौर पर इस्तेमाल किया जाता था और रैकेट के तौर पर अमूमन सिगार के बॉक्स को प्रयोग करते थे।

टेबल टेनिस के खेल का विकास

साल 1926 में बर्लिन और लंदन में बैठकें आयोजित की गईं, जिसके चलते अंतरराष्ट्रीय टेबल टेनिस फेडरेशन का गठन हुआ। पहली विश्व चैंपियनशिप 1926 में लंदन में आयोजित की गई थी, लेकिन इस खेल को 1988 के सियोल ओलंपिक खेलों में अपना डेब्यू करने से पहले काफी लम्बा इंतजार करना पड़ा था।

आधुनिक परिवर्तन

पहली बार अविष्कार किए जाने के बाद से इस खेल ने काफी प्रगति की है। आजकल खिलाड़ी विशेष रूप से विकसित किए गए रबर चढ़े लकड़ी और कार्बन फाइबर के रैकेट और हल्की, खोखली सेल्यूलाइड गेंद का उपयोग करते हैं। ये आज के बेहतरीन रैकेट का ही नतीजा है कि गेंद को 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से मारा जा सकता है।