साइकिलिंग माउंटेन बाइक
  • ओलंपिक डेब्यू
    अटलांटा 1996
और अधिक जानकारी

साइकिलिंग माउंटेन बाइक स्पॉटलाइट

टोक्यो 2020 के बेहतरीन पल

Olympic Channel

पिछले इवेंट्स को खोजिए और उनका आनंद लीजिए, ओलंपिक चैनल पर साइकिलिंग माउंटेन बाइक से जुड़े ओरिजिनल फिल्म और सीरीज देखिए

हिस्ट्री ऑफ

साइकिलिंग माउंटेन बाइक

जब हुआ खेल का जन्म

1970 में नई बाइक तीव्र जगह पर दौड़ती थीं और ऐसे जन्म हुआ माउंटेन बाइकिंग का जन्म। यह खेल शुरू तो कैलीफिर्निया में हुआ था लेकिन देखते ही देखते यह पूरे विश्व में छा गया। उस से यह खेल कैलिफोर्निया में मस्ती के लिए खेला जाता था। बाइक उठाकर सड़कों पर घूमना उस शहर में आम बात थी और उस समय लोगों को कुछ अलग करना था। उस समय नई बाइकें भी आ चुकी थी जिनके टायर पतले, गियर तेज़ था और साथ ही ड्रम ब्रेक और सस्पेंशन भी मौजूद थे। इन बाइक की वजह से चालकों को ज़्यादा मज़ा और रोमांच आने लगा और इस तरीके से माउंटेन बाइकिंग का जन्म हुआ।

रीपैक डाउनहिल रेस

माउंटेन बाइकिंग का सबसे बड़ा श्रेय वेलो क्लब माउंट तमलपैस को जाता है। उन्होंने रीपैक डाउनहिल रेस का इजाद किया और वह 1976 से 1979 तक चलता रहा। यह रेस सैन फ्रांसिस्को के गेट ब्रिज पर हुआ करती थी। उस रेस की बदौलत बहुत से राइडर इस खेल से और जुड़ गए और साथ ही मीडिया की नज़र भी इस पर पड़।

ओलंपिक का इतिहास

पहली नेशनल माउंटेन बाइक चैंपियनशिप 1983 में आयोजित की गई थी और यह यूएस में खेली गई थी। इसके बाद इस खेल ने यूरोप और ऑस्ट्रेलिया में अपने पैर पसारने शुरू कर दिए। पहली माउंटेन बीके वर्ल्ड चैंपियनशिप इंटरनेशनल साइक्लिंग यूनियन के अंतर्गत खेली गई थी और इसे 1990 में आयोजित किया गया था। ओलंपिक गेम्स में इस खेल ने अटलांटा गेम्स 1996 में डेब्यू किया था जिसें क्रॉस-कंट्री इवेंट को शामिल किया गया था। इसमें मेंस और वुमेंस दोनों ने ही प्रतिस्पर्धा की थी। यह प्रोग्राम आज तक ऐसा ही चलता आ रहा है।