अल्पाइन स्कीइंग
  • ओलंपिक डेब्यू
    गार्मिश पाट 1936
  • सर्वाधिक स्वर्ण पदक
    Kjetil André Aamodt (NOR)
और अधिक जानकारी

अल्पाइन स्कीइंग स्पॉटलाइट

Olympic Channel

पिछले इवेंट्स को खोजिए और उनका आनंद लीजिए, ओलंपिक चैनल पर अल्पाइन स्कीइंग से जुड़े ओरिजिनल फिल्म और सीरीज देखिए

हिस्ट्री ऑफ

अल्पाइन स्कीइंग

स्कीइंग का इतिहास अपने आप में दिलचस्प है। कहा जाता है कि मॉडर्न डाउनहिल स्कीइंग का जन्म 1850 में हुआ था। इसे तब एक खेल बनाया गया था जब दिग्गज सोंडरे नोरहीम (Sondre Norheim) ने टेढ़े मेधे रास्तों पर स्कीइंग की थी और साथ ही हील बैंड्स का भी इस्तेमाल किया था और साथ ही उन्होंने क्रिसटीनिया स्लैलम टर्न को भी बखूबी निभाया था।

प्राचीन समय

स्कीइंग का इतिहास बहुत पुराना रहा है और कई बार अलग-अलग तरह के लकड़ियों के प्लैंक्स को रूस, फ़िनलैंड, स्वीडन और नॉर्वे में पीट बॉग्स में सुरक्षित रखा गया है। रूस में जो स्की फ़्रेगमेंट्स पाए गए हैं उनके बारे में कहा जाता है कि वे सभी कार्बन-डेट के हिसाब से 8000-7000 BC के हैं। ठंडे देशों अमिन स्कीइंग को लगभग 1000 सालों से खेला जा रहा है।

पहली प्रतियोगिता और चैंपियन

19वीं सदी में स्कीइंग के तरीकों में बदलाव किए गए थे। पहली नॉन-मिलिट्री प्रतियोगिता को 1840 में नॉर्वे में आयोजित किया गया था। पहली नेशनल प्रतियोगिता को राजधानी क्रिसटीनिया (अब ओस्लो) में खेला गया था और इसे सोंडरे नोरहीम ने जीता था। वहीं से स्कीइंग के एक नए दौर की शुरुआत हो गई थी। इसके कुछ सालों बाद इस खेल ने पूरे यूरोप और यूएस में अपनी पकड़ बना ली थी जहां बच्चे भी इसका हिस्सा हुआ करते थे। साथ ही सर्दियों में यह मस्ती का एक बहुत बड़ा साधन भी था। पहली स्लैलम प्रतियोगिता का आयोजन सर अर्नाल्ड लुन (Sir Arnold Lunn) ने 1922 में स्विट्ज़रलैंड में किया था।