वर्ल्ड डबल स्क्वैश चैंपियनशिप 2022: दीपिका पल्लीकल और जोशना चिनप्पा की जोड़ी को मिली दूसरी जीत

भारतीय वूमेंस डबल्स जोड़ी फिलहाल ग्रुप-बी में दो मैच खेलने के साथ तीसरे स्थान पर हैं।

लेखक शिखा राजपूत
फोटो क्रेडिट 2018 Getty Images

शीर्ष भारतीय स्क्वैश खिलाड़ी दीपिका पल्लीकल और जोशना चिनप्पा ने बुधवार को स्कॉटलैंड के ग्लासगो में वर्ल्ड डबल स्क्वैश चैंपियनशिप 2022 में अपने वूमेंस डबल्स के अभियान में बढ़त बना ली है।

तीसरी वरीयता प्राप्त भारतीय स्क्वैश जोड़ी ने स्कॉट्स्टन लीजर सेंटर में हांगकांग की त्ज़-विंग टोंग और हो त्ज़े-लोक को 23 मिनट तक चले मुकाबले में 11-9, 11-8 से हराया।

दीपिका पल्लीकल और जोशना चिनप्पा वर्तमान में ग्रुप बी में तीसरे स्थान पर हैं। प्रत्येक ग्रुप (ए-बी) से शीर्ष दो टीमें सेमीफाइनल में पहुंचेंगी, जबकि बाकी टीमें क्लासिफिकेशन मैच खेलेंगी।

इससे पहले मंगलवार को दीपिका और जोशना ने मलेशियाई जोड़ी आइना अमपांडी और यिवेन चान के खिलाफ अपना पहला मैच जीता था। हालांकि, उन्हें ऑस्ट्रेलिया की राचेल ग्रिन्हम और डोना लोब्बन ने हरा दिया था, जो 2019 में अंतिम संस्करण में स्वर्ण जीतने वाली ऑस्ट्रेलियाई वूमेंस टीम का हिस्सा थीं।

कॉमनवेल्थ गेम्स में दो बार की पदक विजेता भारतीय जोड़ी का सामना गुरुवार को न्यूजीलैंड की 11वीं वरीयता प्राप्त एबी पामर और कैटलिन वाट्स की जोड़ी तथा दूसरी वरीयता प्राप्त इंग्लैंड की सारा-जेन पेरी और एलिसन वाटर्स की जोड़ी से होगा।

मिक्स्ड टीम इवेंट में दूसरी वरीयता प्राप्त सौरव घोषाल और दीपिका पल्लीकल ने ग्रुप बी में स्थानीय पसंदीदा ग्रेग लोब्बन और लिसा एटकेन को 6-11, 4-11 से हराकर अच्छा प्रदर्शन किया था।

2018 में कॉमनवेल्थ गेम्स में रजत पदक जीतने वाली भारतीय जोड़ी ने मलेशिया के मोहम्मद सियाफीक कमाल और आइफा अजमान को 11-9, 7-11, 11-9 से हराकर फिर से दावेदारी पेश की। सौरव घोषाल और दीपिका पल्लीकल दो ग्रुप मैच खेलकर दूसरे स्थान पर हैं।

मिक्स्ड टीम इवेंट में पांच टीमों के चार ग्रुप होते हैं, जिनमें शीर्ष दो टीमें क्वार्टर-फाइनल में पहुंचती हैं।

मिक्स्ड डबल्स में दूसरी भारतीय स्क्वैश जोड़ी, विक्रम मल्होत्रा ​​और जोशना चिनप्पा ने दक्षिण अफ्रीका के जीन-पियरे ब्रिट्स और एलेक्जेंड्रा फुलर पर 11-6, 11-8 से जीत के साथ अपने ग्रुप-ए अभियान की शुरुआत की।

मेंस डबल्स में विक्रम मल्होत्रा ​​और रामित टंडन ग्रुप-ई में तीसरे स्थान पर रहे। यह जोड़ी शुक्रवार से शुरू होने वाले क्वालिफिकेशन मैच खेलेगी। ये एशियन गेम्स 2018 में कांस्य पदक विजेता भारतीय स्क्वैश टीम का हिस्सा भी थे। 

वर्ल्ड डबल स्क्वाश चैंपियनशिप 2022 का फाइनल 9 अप्रैल को उसी स्थान पर होगा।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स