अपनी भाषा को सेलेक्ट करें
Loading...

हमने इससे क्या सीखा: टोक्यो 2020 ओलंपिक से आर्टिस्टिक जिमनास्टिक का लेखा-जोखा

खेल के दो इंडिविजुअल ऑल राउंड में यूएस की सुनी ली (Suni Lee) और हाशिमोतो दाइकी (HASHIMOTO Daiki) दुनिया की सर्वश्रेष्ठ जिमनास्ट के रूप में उभर कर सामने आई हैं।

8 मिनट द्वारा olympic-editorialworkflow
Simone Biles
(फोटो क्रेडिट 2021 Getty Images)

सच में टोक्यो 2020 में आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक (Artistic gymnastics) ट्विस्ट और टर्न से भरा हुआ था - यह एक ऐसा इवेंट था जो यूएसए की सिमोन बाइल्स (Simone Biles) के लिए स्वर्ण पदकों के बारे में था, लेकिन टोक्यो में उनका प्रदर्शन जिमनास्टिक से भी बढ़कर था।

पुरुषों की प्रतियोगिता भी रोमांच से भरी हुई थी, जिसमें जिमनास्टिक पर राज करने वाले दुनिया और यूरोपीय ऑल-अराउंड चैंपियन आरओसी के निकिता नागोर्नी (Nikita Nagornyy) को जापान के युवा हाशिमोतो दाइकी (HASHIMOTO Daiki) से करारी हार का सामना करना पड़ा।

यहां सभी एक्शन का लेखा-जोखा है

टोक्यो 2020 ओलंपिक के आर्टिस्टिक जिमनास्टिक के 5 खास लम्हें

यहां 2021 में हुए टोक्यो 2020 ओलंपिक खेलों के कुछ मुख्य अंश दिए गए हैं।

1 - ROC ने मेंस और वूमेंस दोनों टीमों के स्वर्ण पदक जीते।

आर्टिस्टिक जिम्नास्टिक के पहले दो मेडल राउंड में, ROC ने दोनों स्वर्ण पदक जीतकर अच्छे खेलों की शुरुआत की। मेंस की टीम अटलांटा ने 1996 के बाद से जीत हासिल नहीं की थी, जबकि वूमेंस की यूनिफाइड टीम ने 1992 में स्वर्ण जीता था।

मेंस और वूमेंस टीम का फाइनल तक का प्रदर्शन बेहद नाटकीय रहा और इस तरह वह अंतिम पड़ाव तक पहुंच गए। मेंस प्रतियोगिता में, मेजबान जापान और आरओसी के बीच एक टक्कर की लड़ाई थी। जब निकिता नागोर्नी ने फ्लोर एक्सरसाइज की, तो उन्हें अभी तक का सही स्कोर नहीं पता था कि उन्हें स्वर्ण पदक हासिल करने के लिए कितना स्कोर करना होगा। उन्होंने अपने तीसरे टम्बलिंग को गलत तरीके से किया, अपने अंतिम प्रदर्शन को उस एक अंक में बदल दिया जिसकी उन्होंने योजना बनाई थी।

2019 के विश्व ऑल-अराउंड चैंपियन ने तेजी से मौके का फायदा उठाया और अपनी टीम के लिए स्वर्ण सुनिश्चित करने के लिए एक अधिक अंक जोड़ा, बता दें कि उन्होंने 2018 से प्रतिस्पर्धा नहीं की थी।

महिलाओं की ओर से, एंजेलिना मेलनिकोवा (Angelina Melnikova) को स्वर्ण जीतने के लिए सिर्फ 10.500 से अधिक अंक की आवश्यकता थी। फ्लोर एक्सरसाइज से बाहर निकलने से पहले ही वह भावुक हो गई,जबकि उन्होंने काफी कुछ किया था।

उन्होंने बताया, "जब मैं फ्लोर पर गई तो मेरा ध्यान बहुत केंद्रित था। मैंने इसके लिए अपनी पूरी कोशिश की। मुझे पता था कि मैं यह कर सकती हूं, इसलिए मैंने किया। मुझे खुद पर यकीन था।"

2 - बाइल्स ने मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान केंद्रित करने के लिए टीम इवेंट से अपना नाम वापस लिया, लेकिन बैलेंस बीम में कांस्य पदक जीतकर वापसी की।

वुमेन टीम इवेंट से हटने के बाद, टीम यूएसए की सिमोन बाइल्स (Simone Biles) ने मानसिक स्वास्थ्य के बारे पूरी दुनिया में बातचीत शुरू की। हालांकि वह इंडिविजुअल ऑल-अराउंड फाइनल और तीन अपरेटस मेडल राउंड से हट गईं, रियो 2016 की ओलंपिक चैंपियन ने आर्टिस्टिक जिमनास्टिक के आखिरी दिन प्रतियोगिता में जीत के साथ वापसी की। उन्होंने बैलेंस बीम में कांस्य पदक जीता।

"निश्चित रूप से मानसिक स्वास्थ्य के बारे में बातचीत करने के लिए एक विश्वास जरूरी है, यह कुछ ऐसा है जिसमें लोग अंधेरे में घिरने लगते और वह समाज से दूर हो जाते हैं," बाइल्स ने अपने ओलंपिक में सातवें पदक की महत्वपूर्णता के बारे में बताया कि "मुझे लगता है कि हम सिर्फ मनोरंजन नहीं हैं, हम इंसान भी हैं और हमारी भावनाएं भी हैं।"

बाइल्स ने स्वीकार किया कि हालांकि उनकी वापसी आवश्यक थी, लेकिन आसान नहीं थी।

उन्होंने कहा, "पांच साल के सपने को छोड़ना और उसे पूरा नहीं कर पाना आसान नहीं है। यह वास्तव में कठिन था। मैं कभी भी रूकी नहीं, इसलिए मुझे इसकी आदत नहीं थी इसलिए प्रतिस्पर्धा करने का एक और अवसर ने मेरी पूरी दुनिया बदल दी।"

3 - पुरुषों में HASHIMOTO Daiki ने जापानी विरासत को आगे बढ़ाया

युवा हाशिमोतो दाइकी (HASHIMOTO Daiki) ने उचिमुरा कोहेई (UCHIMURA Kohei) के पदचिन्हों पर आगे बढ़ते हुए ओलंपिक खेलों में अपने देश को लगातार तीसरा खिताब जिताया। कुछ दिनों बाद, उन्होंने होरिजोनटल बार में एक स्वर्ण पदक जीता।

1984 के बाद जापान ने पहली बार पुरुषों के जिम्नास्टिक में एक ही खेलों में दो स्वर्ण पदक जीते हैं।

एक नए एथलीट, हाशिमोतो ने 2019 में विश्व चैंपियनशिप में केवल तीन इवेंट्स में भाग लिया। लेकिन उसी समय से, वह अपनी टीम के लीडर के रूप में उभरे हैं। अप्रैल में, उन्होंने जापानी राष्ट्रीय चैंपियनशिप में ऑल अराउंड मुकाबले में जीत हासिल की, जिससे उन्हें ओलंपिक के लिए चुना गया।

हालांकि उनकी तुलना महान उचिमुरा से करना आसान हो सकता है, लेकिन वह अपनी पहचान खुद बनाना चाहते हैं।

हाशिमोतो ने एक विशेष इंटरव्यू में Olympics.com को बताया, "मैं चाहता हूं कि लोग मुझे मेरे रूप में देखें, और उचिमुरा-सान का खेल अभी भी खत्म नहीं हुआ है, इसलिए मुझे आशा है कि लोग अलग –अलग हम दोनों का समर्थन कर सकते हैं।"

4 - ब्राजील की रेबेका एंड्रेड (Rebeca Andrade) ने जीता ऐतिहासिक स्वर्ण पदक 

रेबेका एंड्रेड (Rebeca Andrade) ओलंपिक जिम्नास्टिक प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीतने वाली अपने देश की पहली महिला हैं, और अब तक की दूसरी ब्राजीलियाई महिला एथलीट है, जब उन्होंने महिलाओं के वॉल्ट ताज का दावा किया।

उन्होंने ऑल-अराउंड फाइनल में दक्षिण अमेरिकी की ओर से पहला रजत पदक जीता था।

खेलों में वापसी के लिए एंड्रेड को लंबा रास्ता तय करना पड़ा, उन्होंने पांच साल पहले रियो 2016 में प्रतिस्पर्धा की थी। उन्होंने जून 2019 में अपना तीसरी एसीएल सर्जरी करवाई, जिससे टोक्यो 2020 खतरे में पड़ गया। उन्होंने जून 2021 की शुरुआत तक खेलों के लिए क्वालीफाई भी नहीं किया था।

उनकी चोट और वैश्विक COVID-19 महामारी ने सुपरस्टार को दृढ़ता के बारे में बहुत कुछ सिखाया।

एंड्रेड ने अक्टूबर 2019 में Olympics.com  को बताया, "मैंने बहुत सी चीजों को झेला है और हर बार जब मैंने मुश्किलों पर काबू पाया, तो मैं वापस आने के लिए और अधिक मजबूत थी, मैं और भी अधिक जीतना चाहती थी।"

एंड्रेड समापन समारोह में ब्राजील की ध्वजवाहक बनीं।

5 - मैक्स व्हिटॉक (Max Whitock) ने रियो 2016 के पोमेल हॉर्स टाइटल का बचाव किया

टीम जीबी के मैक्स व्हिटॉक (Max Whitock) ने पांच साल पहले रियो 2016 में खिताब जीतने के बाद पोमेल हॉर्स में दूसरा स्वर्ण पदक जीता था। ओलंपिक खेलों में अपना तीसरा पदक जीता और अब उनके पदकों की संख्या छह हो गई है।

41 वर्षों में 1976 और 1980 में ज़ोल्टन मग्यार (Zoltan Magyar) के जीतने के बाद, व्हिटलॉक ओलंपिक चैंपियन के रूप में इस इतिहास को दोहराने वाले पहले व्यक्ति हैं।

व्हिटलॉक ने बाद में Olympics.com को बताया, " ये बहुत अजीब लगता है।साथ ही यह एक बहुत ही बेहतरीन एहसास है," "ऐसा लगता है जैसे अब मेरे कंधों से एक बोझ उतर गया हो।"

ब्रिट के लिए यह सब आसान नहीं था, जिसने 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक जीता था और 2018 में यूरोपियन में पदक जीतने में वो नाकाम गए थे। इस साल की शुरुआत में, वह यूरोपीय चैंपियनशिप के प्रारंभिक दौर में बाहर हो गया और जगह बनाने में असफल रहे।

व्हिटलॉक ने बताया, " स्वर्ण पदक को जीतने की उम्मीद के साथ, खिताब बरकरार रखने के लिए बहुत सारे बाहरी दबाव थे। मैंने यह सब सुनना बंद नहीं किया, और मैंने अपने दबाव को भी महसूस किया। वास्तव में मैं अपने दबावों की तुलना में इस बार दस गुना अधिक उभरकर सामने आया हूं।’’

व्हिटलॉक ने आगे कहा, "मुझे लगता है कि ऐसा इसलिए है क्योंकि मुझे पता है कि स्वर्ण पदक जीतना कैसा लगता है, इसे फिर से करना 10 गुना कठिन है।"

ओक्साना चुसोविटिना के बारे में भी जानिए

महान ओक्साना चुसोविटिना (Oksana Chusovitina) ने अपने आठवें ओलंपिक खेल में भाग लिया था और कहा कि टोक्यो में उनका यह आखिरी ओलंपिक खेल है। 46 वर्षीय एथलीट 1992 के बार्सिलोना खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली यूनिफाइड टीम का हिस्सा थीं। ये टोक्यो 2020 ओलंपिक ऑल-अराउंड चैंपियन संयुक्त राज्य अमेरिका की सुनी ली (Suni Lee) के जन्म से 11 साल पहले आयोजित किया गया था।

नमस्कार पेरिस

हालांकि ये ओलंपिक उनके लिए वैसा नहीं रहा, जैसा उन्होंने सोचा होगा, ROC की विक्टोरिया लिस्तुनोवा (Viktoria Listunova) आने वाले समय में बेहतर प्रदर्शन करने का वादा करती हैं। 16 वर्षीय एथलीट ने अपने सीनियर अंतरराष्ट्रीय डेब्यू 2021 की शुरुआत में किया, जिसमें उन्होंने यूरोपीय ऑल-अराउंड खिताब जीता।

पुरुषों में जापान के किताजोनो ताकेरू (KITAZONO Takeru) का भी आशाजनक भविष्य है। इन्होंने 2018 में पांच युवा ओलंपिक खेलों में स्वर्ण पदक जीते थे।

Olympics.com पर कलात्मक जिम्नास्टिक रिप्ले कब और कहां देखें?

टोक्यो 2020 में कलात्मक जिम्नास्टिक प्रतियोगिता के एक्शन को फिर से देखना चाहते हैं? इसलिए हमने आपका ध्यान रखा है:

https://olympics.com/hi/olympic-games/tokyo-2020/videos

Simone Biles
Simone Biles (2021 Getty Images)

जानिए Suni Lee और HASHIMOTO Daiki फिर से कब प्रतिस्पर्धा करेंगें ?

पुरुषों में जापान के नए जिम्नास्टिक सुपरस्टार हाशिमोटो डाइकी (HASHIMOTO Daiki) का कहना है कि वह अक्टूबर की World Artistic जिमनास्टिक चैंपियनशिप में हिस्सा ले सकते हैं, जहां उन्हें विश्व स्वर्ण पदक जीतने की उम्मीद है। महिलाओं की ऑल-अराउंड चैंपियन सुनी ली (Suni Lee) ने 2021 चैंपियनशिप में हिस्सा लेने का कोई संकेत नहीं दिया है, लेकिन उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि वह ग्लोबल मीट 2022 या 2023 में वापसी कर सकती हैं। दोनों में से एक ने भी ओलंपिक खेलों में फिर से अपनी जीत के लिए मना नहीं किया।

टोक्यो 2020 में कलात्मक जिम्नास्टिक पदक विजेता लिस्ट

वूमेंस:

टीम:

स्वर्ण: ROC

रजत: USA

कांस्य: GBR

ऑल अराउंड:

स्वर्ण: सुनी ली (USA)

रजत: रेबेका एंड्रेड (BRA)

कांस्य: एंजलिना मेलनिकोवा (ROC)

वॉल्ट:

स्वर्ण: रेबेका एंड्रेड (BRA)

रजत: मायकला स्कीनर

कांस्य: वाईईओ सीओ जेयॉंग (KOR)

अनइवेन बार:

स्वर्ण: नीना डॉरवेइल (BEL)

रजत: अनस्तेशिया इलयानकोवा (ROC)

कांस्य: सुन ली (USA)

बैलेंस बीम:

स्वर्ण: गुआन चेनचेन

रजत: तांग ज़िजिंग

कांस्य: सिमोन बाइल्स

फ्लोर एक्सरसाइज:

स्वर्ण: जेड कैरी (USA)

रजत: वैनेसा फेरारी (ITA)

कांस्य: मुराकामी माई (JPN), एंजेलीना मेलनिकोवा (ROC)

मेंस:

टीम:

स्वर्ण: ROC

रजत: JPN

कांस्य: CHN

ऑल अराउंड:

स्वर्ण: हाशिमोटो डाइकी (JPN)

रजत: जिओ रुओटेंग (CHN)

कांस्य: निकिता नागोर्नी (ROC)

फ्लोर एक्सरसाइज:

स्वर्ण: आर्टेम डोलगोप्यात (ISR)

रजत: रेडरले जैपाटा (ESP)

कांस्य: जिओ रुओटेंग (CHN)

पॉमेल हॉर्स:

स्वर्ण: मैक्स व्हिटलॉक (GBR)

रजत: ली चिह-काई (TPE)

कांस्य: काया काजुमा (JPN)

स्टिल रिंग्स:

स्वर्ण: लियू यांग (CHN)

रजत: यू हाओ (CHN)

कांस्य: एलिफथेरियोस पेट्रोनियास

वॉल्ट:

स्वर्ण: शिन जिया-ह्वान (KOR)

रजत: डेनिस अबलाज़िन (ROC)

कांस्य: अर्तुर दाव्यताना (ARM)

पैरलल बार:

स्वर्ण: ज़ू जिंगयुआन (CHN)

रजत: लुकास दौसर (GIR)

कांस्य: फेरहत एरिकन (TUR)

हॉरिजोनटल बार:

स्वर्ण: हाशिमोटो डाइकी (JPN)

रजत: टिन सर्बिक (CRO)

कांस्य: निकिता नागोर्नी (ROC)

इन्हें पसंदीदा सूची में जोड़ें
Angelina MELNIKOVAAngelina MELNIKOVA
Max WHITLOCKMax WHITLOCK
Daiki HASHIMOTODaiki HASHIMOTO
आर्टिस्टिक जिमनास्टिक्स आर्टिस्टिक जिमनास्टिक्स 
यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ़ अमरीकाUSA
से अधिक

You May Like