थॉमस और उबेर कप बैडमिंटन: भारतीय वूमेंस टीम क्वार्टरफाइनल में थाईलैंड से भिड़ेगी

भारतीय मेंस और वूमेंस टीम बुधवार को अपना अंतिम ग्रुप टाई मैच हार गए। वूमेंस टीम को दक्षिण कोरिया 5-0 से हार मिली, जबकि मेंस टीम चीनी ताइपे के खिलाफ 3-2 से हार गई।

लेखक रितेश जायसवाल
फोटो क्रेडिट Badmintonphoto | Courtesy of BWF

भारतीय वूमेंस और मेंस बैडमिंटन टीम को बुधवार को बैंकॉक में आयोजित थॉमस और उबेर कप 2022 में हार का सामना करना पड़ा। वूमेंस टीम को दक्षिण कोरिया के खिलाफ 5-0 से हार का सामना करना पड़ा। जबकि मेंस टीम को चीनी ताइपे के खिलाफ 3-2 से हार मिली।

उबेर कप में पीवी सिंधु ने एन सेयॉन्ग के खिलाफ शानदार अंदाज में मैच की शुरुआत की। उन्होंने काफी बेहतरीन शॉट खेले और एक अच्छी बढ़त बनाई, लेकिन कोरियाई सुपरस्टार ने 8-13 से पीछे रहने के बाद लगातार 8 अंक हासिल करते हुए पहला गेम 21-15 से जीत लिया।

इसके बाद सिंधु ने दूसरे गेम में भी बढ़त हासिल की, लेकिन कोरिया को 1-0 से बढ़त दिलाने के लिए एन सेयॉन्ग एक बार फिर आगे निकलने में कामयाब रहीं।

फिर ली/शिन ने सिमरन सिंघी/श्रुति मिश्रा को सीधे गेम में हराया। वहीं, आकर्षी कश्यप को वर्ल्ड नंबर 19 किम गाउन से हार का सामना करना पड़ा। इसी के साथ कोरिया ने 3-0 जीत हासिल करते हुए ग्रुप-डी में शीर्ष पर अपना स्थान पक्का कर लिया।

तनीषा क्रास्टो/ट्रीसा जॉली ने भी दूसरे युगल मैच में अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन उन्हें भी सीधे गेम में हार का सामना करना पड़ा।

इसके बाद अश्मिता चालिहा ने निश्चित रूप से भारतीय दल की ओर से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया, लेकिन भारत को क्लीन स्वीप वाली हार से रोकने में नाकामयाब रहीं।

अब उबेर कप क्वार्टर-फाइनल मुकाबले में पीवी सिंधु के नेतृत्व वाला भारत रतचानोक इंतानोन के नेतृत्व में मेजबान थाईलैंड से भिड़ेगा।

भारतीय मेंस टीम को थॉमस कप में चीनी ताइपे 3-2 से हार मिली

थॉमस कप में लक्ष्य सेन एक शानदार मुकाबले में चाउ तिएन चेन के खिलाफ हार गए। इसके बाद चिराग शेट्टी और सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी की जोड़ी को शुरुआती गेम में ही ओलंपिक चैंपियन ली/वांग की जोड़ी से हार का सामना करना पड़ा। दूसरे गेम में भारतीय जोड़ी ने कड़ी टक्कर दी, लेकिन इसके बावजूद यह प्रयास काफी नहीं रहा।

वांग त्जु वेई के खिलाफ श्रीकांत ने शानादार प्रदर्शन करते हुए मैच जीता। पूर्व विश्व नंबर-1 ने मैच को सीधे गेम में जीतने के लिए कुछ अच्छे शॉट खेले और एक कड़े मुकाबले में बेहतर प्रदर्शन करके दिखाया। 

अर्जुन एमआर और ध्रुव कपिला की जोड़ी ने भी अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन अंत में अपने युगल मैच में हार गए। इसी के साथ भारत को एचएस प्रणॉय के अंतिम एकल मुकाबले में जाने से पहले 1-3 से हार का सामना करना पड़ा। 

अंतिम मुकाबले में प्रणॉय का मैच निर्णायक गेम तक गया लेकिन वह अपने खेल के स्तर को बेहतर करने में सफल रहे और भारत को एक शानदार जीत के साथ इस मुकाबले का अंत करने में मदद मिली।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स