अपनी भाषा को सेलेक्ट करें
Loading...

थॉमस कप बैडमिंटन: भारतीय पुरुष टीम ने इंडोनेशिया को हराकर जीता पहला खिताब 

लक्ष्य सेन, किदांबी श्रीकांत, चिराग शेट्टी और सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी की युगल जोड़ी ने अपने-अपने मैच जीतकर भारत को थॉमस कप खिताब दिलाया।

3 मिनट द्वारा रितेश जायसवाल
20220515_1544_ThomasUberCupFinals2022_BPES0545
(फोटो क्रेडिट Badmintonphoto)

भारतीय पुरुष बैडमिंटन टीम ने थॉमस कप का खिताब जीत लिया है। रविवार को थाईलैंड के बैंकॉक में फाइनल में भारतीय टीम ने इंडोनेशिया पर 3-0 से शानदार जीत दर्ज की। 14 बार की चैंपियन इंडोनेशिया ने भारत को कड़ी टक्कर दी लेकिन जीत हासिल करने में नाकामयाब रही। वहीं, भारत 1952, 1955 और 1979 में कांस्य पदक विजेता रहा है।

लक्ष्य सेन ने एंथोनी सिनिसुका गिनटिंग को 8-21, 21-17, 21-16 से हराते हुए शानदार शुरुआत की। डबल्स में सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी-चिराग शेट्टी ने मोहम्मद अहसन-केविन संजया सुकामुलजो को 18-21, 23-21, 21-19 से हराया। तीसरे मैच में श्रीकांत ने जोनाथन को 21-15, 23-21 से हराकर भारत को पहली बार चैंपियन बनाने में अपना अहम योगदान दिया।

भारत ने सेमीफाइनल मुकाबले में डेनमार्क और क्वार्टर-फाइनल में मलेशिया को हराया था। इन दोनों ही मुकाबलों में एच एस प्रणॉय ने निर्णायक मुकाबला जीतकर भारत को अगले राउंड में पहुंचाया था।

फाइनल के पहले मेंस सिंगल्स मुकाबले में लक्ष्य सेन ने हासिल की जीत

पहले मुकाबले में वर्ल्ड चैंपियनशिप के मेडल विजेता लक्ष्य सेन का सामना इंडोनेशिया के एंथोनी सिनिसुका गिनटिंग से हुआ। पहले गेम में लक्ष्य सेन को हार का सामना करना पड़ा। गिनटिंग ने शानदार शॉट्स लगाते हुए यह गेम 21-8 से जीत लिया।

लक्ष्य सेन ने वापसी करते हुए दूसरा गेम 21-17 से अपने नाम कर लिया। तीसरे गेम में लक्ष्य सेन ने अपनी लय को बरकरार रखते हुए पहले मुकाबले का तीसरा और निर्णायक गेम जीत लिया। उन्होंने 1 घंटे 5 मिनट तक चले इस मुकाबले में एंथोनी सिनिसुका गिनटिंग को 8-21, 21-17, 21-16 से हराया। इस जीत के साथ ही भारतीय टीम ने फाइनल मुकाबले में 1-0 की बढ़त बना ली।

सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने जीता दूसरा मुकाबला

फाइनल के दूसरे मुकाबले के पहले गेम में सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी और मोहम्मद अहसन-केविन संजया सुकामुलजो के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिली। इंडोनेशिया की जोड़ी ने 21-18 से इसे अपने नाम कर लिया।

दूसरे गेम में भारतीय जोड़ी ने शानदार वापसी की। एक समय जब इंडोनेशिया की जोड़ी 19-15 से आगे चल रही थी तब भारतीय जोड़ी ने अपने प्रदर्शन में सुधार करते हुए गेम को 23-21 से अपने नाम कर लिया। देखते ही देखते यह मुकाबला भी निर्णायक गेम में पहुंच गया।

सात्विक और चिराग की जोड़ी ने लक्ष्य सेन की तरह ही पहला गेम हारने के बाद शानदार वापसी करते हुए मुकाबले का तीसरा और निर्णायक गेम अपने नाम कर लिया। भारतीय जोड़ी ने इस गेम को 18-21, 23-21, 21-19 से जीत लिया।

कांटे की टक्कर का यह मुकाबला एक समय 19-19 की बराबरी पर पहुंच गया। इसके बाद भारतीय जोड़ी ने लगातार दो प्वाइंट हासिल करते हुए गेम जीत लिया। इस जीत के साथ ही भारत ने फाइनल में 2-0 की बढ़त बना ली।

श्रीकांत ने सिंगल्स का दूसरा मुकाबला जीतकर भारत को बनाया चैंपियन

सिंगल्स के दूसरे और फाइनल के तीसरे मुकाबले में भारत के किदांबी श्रीकांत ने जबरदस्त शुरुआत की। वर्ल्ड चैंपियनशिप के सिल्वर मेडलिस्ट श्रीकांत ने इंडोनेशिया के जोनाथन क्रिस्टी को 19 मिनट तक चले मुकाबले में 21-15 से जीत हासिल की।

दूसरे गेम में भी श्रीकांत अपने प्रतिद्वंद्वी खिलाड़ी पर हावी नजर आए और उन्होंने इस गेम को 23-21 से अपने नाम कर लिया। इस जीत के साथ ही श्रीकांत ने भारत को चैंपियन बना दिया।

डेनमार्क और जापान थॉमस कप 2022 के कांस्य पदक विजेता रहे।

इससे पहले शुक्रवार को भारतीय महिला बैडमिंटन टीम उबेर कप के क्वार्टर-फाइनल में बाहर हो गई थी।

पसंदीदा सूची में जोड़ें
भारतIND

You May Like