अपनी भाषा को सेलेक्ट करें
Loading...

#StrongerTogether ओकाला रोलर रिंक्स से लेकर ग्लोबल आइस तक का सफर: टीम USA स्पीड स्केटर्स की तीकड़ी ने एक मामूली स्केटर से ओलंपियन बनने का सफर तय किया

हमें साथ में शक्तिशाली बने रहने के लिए काफी संघर्षो का समना करना पड़ता है। USA के शीर्ष रैंक की स्पीड स्केटर्स की ऐसी तीकड़ी (ब्रिटनी बोवे, जॉय मेंटिया और एरिन जैक्सन) के बारे में पढ़ें, जिन्होंने कम उम्र से ही ओकाला और फ्लोरिडा में एक स्थानीय रोलर स्केटिंग कोच के साथ अभ्यास करना शुरु कर दिया था। यह भी पढ़ें कि कैसे उन्होंने ओलंपिक तक का गौरव हासिल किया।

7 मिनट द्वारा रौशन कुमार
USA speed skaters Erin Jackson (L) and Brittany Bowe
(फोटो क्रेडिट 2022 Getty Images)

बीजिंग ओलंपिक विंटर गेम्स के लिए टीम USA स्पीड स्केटिंग ने रोस्टर जारी किया है जिसमें कुछ रहस्य भी छुपा है।

USA के तीन स्केटर्स न केवल खुशबूदार राज्य फ्लोरिडा से आते हैं बल्कि वह ओरलांडो और जैक्सनविले के बीच का शहर ओकाला से भी तालुक रखते हैं, जो एकमात्र जगह हैं जहां आपको स्केटिंग करने के लिए बर्फ मिलती है

Olympics.com से बात करते हुए सात बार के स्पीड स्केटिंग विश्व चैंपियन ब्रिटनी बोवे ने कहा, "मुझे लगता है कि फ्लोरिडा की पानी में कुछ खास है," साल्ट लेक सिटी में रहने के बावजूद बोवे दिल से अभी भी "फ्लोरिडा गर्ल" ही हैं।

सात बार की विश्व चैंपियन और 1000 मीटर में विश्व रिकॉर्ड धारक 33 वर्षीय बोवे अपनी तीसरी विंटर ओलंपिक में दावेदारी पेश करने के लिए तैयार हैं। इनके अलावा 35 वर्षीय जॉय मंटिया जो अपने पसंदीदा 1500 मीटर की रेस में अपना पहला पदक जीतने की चाह में आइस पर स्केटिंग करते नज़र आएंगे। महिलाओं की 500 मीटर की रेस में USA की रिकॉर्ड धारक 29 वर्षीय एरिन जैक्सन भी बीजिंग में ओलंपिक स्वर्ण पदक जीतने की एक दावेदार हैं। वह दूसरी बार ओलंपिक में हिस्सा लेने जा रही है।

एक बेहतरीन कोच और रोलर रिंक: ओकाला के गुप्त हथियार

USA के दक्षिण में सब-ट्रॉपिकल वातावरण के साथ एक छोटा शहर जहां कोई आइस रिंक भी नहीं है, उसने दुनिया के तीन ऐसे सबसे तेज स्केटर्स को दिया जो अपने-अपने इवेंट में महारत हासिल कर चुके हैं।

चाहे आप किसी भी छेत्र से आते हों आपकी शुरुआत रेनी हिल्डेब्रांड के साथ ही शुरू होती है।

एरिन जैक्सन ने कहा “मेरी मां शहर [ओकाला] की एक रेस्टोरेंट में एक महिला से मिली और भाग्य से पता चला कि वह एक विश्व प्रसिद्ध इनलाइन स्पीड स्केटिंग कोच थी। वह बचपन से रिंक को खूब पसंद करती थी और ओकाला में स्थित दो रोलर रिंक पर अभ्यास करती थीं। उसी समय मेरी मां ने मुझे ओलंपिक गेम्स के लिए तैयार करने का मन बना लिया।”

जैक्सन 47 बार की इनलाइन राष्ट्रीय चैंपियन और पैन-एम गेम्स की रजत पदक विजेता है। उन्होंने कहा, “मेरी मां ने उनसे कहा कि मेरी एक बेटी है जो आइस स्केटिंग करती है। उन्होंने जबाव देते हुए कहा, आप उसे रिंक पर अभ्यास करने के लिए लेकर आइए। और तब से मेरी इस सफर की शुरुआत हुई।”

वह महिला हिल्डेब्रांड थी, जो इनलाइन स्पीड स्केटिंग के खेल में दुनिया की शीर्ष कोचों में से एक थी। क्षमता, शारिरिक ताकत, भौतिक समझ और खेल संभावनाओं पर अपनी मजबूत पकड़ रखती थी। वह हमेशा साल साल 1990 के दशक की शुरुआत में ओकाला में रिंक पर हमेशा नजर बनाए रखती थी। और उन्होंने बीजिंग में प्रतिस्पर्धा करने वाले ओकला के सभी तीन मूल निवासियों - मंटिया, बोवे और जैक्सन - को इनलाइन स्पीड स्केटिंग के खेल में चैंपियन बनाने में मदद की।

Renee Hildebrand and Erin Jackson (photo courtesy of Renee Hildebrand)

1000 मीटर इवेंट की दुनिया की सबसे फास्ट महिला स्केटर बोवे ने हिल्डेब्रांड के साथ अपनी पहली मुलाकात के बारे बताते हुए कहा, "मैं एक स्थानीय रोलर रिंक में एक जन्मदिन की पार्टी में थी और वहां मुझे उन्होंने स्केटिंग करते हुए देखा। वह दुनिया की सर्वश्रेष्ठ इनलाइन स्केटिंग कोच हैं और उन्होंने मुझे अभ्यास के लिए आमंत्रित किया और यहीं से मेरी सफर की शुरुआत हुई। "

पेशे से फिजिकल थेरेपिस्ट और फ्लोरिडा की निवासी हिल्डेब्रांड अपने खेल में जितनी तेज थी उतना तेजी से वह बात भी करती थी। इनलाइन रेसिंग के खेल के लिए उनका जुनून एक अलग स्तर का था।

डच और बेल्जियम की पूर्व राष्ट्रीय इनलइन स्पीड स्केटिंग टीम की कोच हिल्डेब्रांड ने कहा, उन्होंने आठ वर्षीय बोवे को प्लास्टिक स्केट्स के साथ पहली बार देखा था। उन्होंने कहा बोवे ने एक लैप रेस फिनिश किया और मुझे याद है कि उन्होंने रॉकेट की तरह ट्रैक पर स्केट्स को दौड़ाया।" हिल्डेब्रांड ने अपनी शुरुआती दिनों का ज्यादातर हिस्सा रोलर रिंक पर ही बिताया था और वह डर्बी क्वाड-स्केट्स यानि चार-पहियों वाली स्केट पर महारत हासिल कर चुकी थीं।

हिल्डब्रांड ने आगे कहा, बोवे के पास शानदार प्रतिभा है। वह छोटी सी उम्र में रिंक की कॉर्नर को पार नहीं कर पाती थी लेकिन उनकी गती और खेल के प्रती चाह अविश्वसनीय था।

मंटिया की जिम्नास्टिक शुरुआत

ओकला तिकड़ी के तीसरे सदस्य मंटिया जो 1500 मीटर रेस में पदक जीतने के दावेदार माने जा रहे हैं उन्हें पहली बार जिम्नेजियम में देखा गया था।

हिल्डेब्रांड ने पहली बार दो बार के ओलंपियन मंटिया से मुलाकात को याद करते हुए कहा, "वह मेरी बेटी के साथ एक जिमनास्टिक टीम में था और मुझे वह तब पसंद आया जब मैंने उसे कोच के साथ एकाग्रता से अभ्यास करते हुए देखा था।"आपको बता दें कि हाल में ही मांटिया 1500 मीटर इवेंट में विश्व कप रेस जीतने वाले सबसे अधिक उम्र के स्केटर्स बने थे।

हिल्डेब्रांड ने आगे कहा, "मैंने तब उन्हें कुछ नहीं कहा, लेकिन अगले हफ्ते मैंने उसे रोलर रिंक में देखा और मैंने कहा, यह तो वही छोटा लड़का है जो उस रस्सी पर चढ़ रहा था और मुझे पहले से ही पता चल गया था कि वह शारिरिक रुप से कितना मजबूत था।"

हिलडेब्रांड लगभग हर दिन ऐसे बच्चों से मिलती थी जिनमें काफी झमता होती है। लेकिन इसके बावजूत सबसे महत्वपूर्ण बात यह थी कि कौन अपने खेल को लेकर ज्यादा दृढ़ है। हिल्डेब्रांड एक सख्त कोच थी जो अपने युवा इनलाइनर्स से बहुत उम्मीद करती थीं।

मंटिया ने कहा, मुझे नहीं पता कि मैने कब सोचा कि मैं ओलंपिक में प्रतिस्पर्धा करुंगा। मेरे सोचने से पहले ही मेरी कोच हिलडेब्रांड ने मेरे ऊपर विश्वास जताया और उन्होंने कहा कि तुम ओलंपिक चैंपियन बन सके हो।

विश्व चैंपियन स्पीड स्केटर बनने से पहले एक शीर्ष कॉलेजिएट बास्केटबॉल खिलाड़ी रही बोवे ने अपने कोच हिलडेब्रांड के बारे में कहा "वह बहुत आक्रमक थी। वह हमेशा जीतना चाहती थी। "उन्होंने हमे सर्वश्रेष्ठ  प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित किया था। जब हम छोटे थे तो हमारा एक नारा था, 'अभ्यास परिपूर्ण नहीं बनाता, पूर्ण अभ्यास परिपूर्ण बनाता है।”

बोवे ने अपने पहले कोच के बारे में कहा,"मैं उनकी हमेशा आभारी हूं," जब मैं 13 साल की थी मेरी कोच ने मुझे साल्ट लेक सिटी में साल 2002 की विंटर ओलंपिक में साथी फ्लोरिडियन और एक बार की इनलाइन चैंपियन जेनिफर रोड्रिगेज और US के हीरो अपोलो ओह्नो जिन्होंने 1500 मीटर रेस इवेंट में स्वर्ण पदक जीता था उनका खेल दिखाने के लिए ले कर गई थी । "और वह इतनी कम उम्र में मुझमें वो उम्मीदें जगा दी थीं।"

हिल्डेब्रांड ने ओकाला के बीजिंग-बाउंड तीनों स्केटर्स को इनलाइन स्पीड स्केटिंग के शीर्ष पर पहुंचाया था हालांकि बाद में तीनों स्केटर्स ने इनलाइन से आइस पर स्केटिंग करने का रुख किया। कोच हिलडेब्रांड ने कहा "ऐसे  खिलाड़ी पाना काफी दुर्लभ है। वह एक गहना की तरह है। आप वास्तव में उनकी रक्षा करना चाहते हैं और खेल में उन्हें विकास करते हुए देखना चाहते हैं ।"

व्हील्स को अलविदा; हेलो आइस

हिल्डेब्रांड अपने इनलाइनर्स को इतनी ही सफलता दी दिला सकती थी। इसके बावजूद उनके बंपर पर लगी स्टीकर जो उनके पास साल 1980 से है उस पर लिखा था, रोलर स्केटिंग, नेक्स्ट स्टॉप: द ओलिंपिक। 'अब आइस पर स्पीड स्केटिंग सबसे प्रतिभाशाली और संचालित इनलाइन रेसर्स के लिए एकमात्र ओलंपिक आउटलेट बना हुआ है। किसी भी स्तर पर अगर उनके स्केटर्स की ओलंपिक महत्वाकांक्षाएं हैं तो उन्हें अपने दम पर आइस ट्रैक पर स्विच करना होगा।

बोवे ने कहा हमरे लिए इनलाइन रेसिंग से आइस की ओर रुख करना यह कभी आसान नहीं था। "मैंने अपने जीवन में कभी इतना भयभीत महसूस नहीं किया," "यह मेरे लिए एक डरावना क्षण था।"

हिल्डेब्रांड के लिए भी यह आसान नहीं है, जिनहोंने अपने जीवन में कभी भी बर्फ पर स्पीड-स्केट नहीं किया था। अब उन्हें अलविदा कहना होगा और आशा है कि वह अपने स्पीडस्टर्स को पूरी तरह से तैयार कर चुकी है।

कोच के लिए मिलाजुला अनुभव

हिल्डेब्रांड ने कहा, "मैं उनके करीब रहती हूं क्योंकि वह सभी मेरे परिवार की तरह हैं। और हमारे बीच इतने लंबे समय से एक रिश्ता है और वह सभी अद्भुत इंसान बन चुके हैं।" ओलंपियन को ऊंचाईयों तक पहुंचाने में बहुत कुछ लगता है। "लेकिन जहां तक ​इस ​​​ओलंपिक की बात है, मैं सिर्फ एक दर्शक की तरह रहूंगी।"

Team USA speed skater Joey Mantia
Team USA speed skater Joey Mantia (Getty Images)

इन्हें पसंदीदा सूची में जोड़ें
Brittany BOWEBrittany BOWE
Erin JACKSONErin JACKSON
Joey MANTIAJoey MANTIA
स्पीड स्केटिंगस्पीड स्केटिंग
यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ़ अमरीकाUSA
से अधिक

You May Like