मीराबाई चानू ने सिंगापुर वेटलिफ्टिंग इंटरनेशनल 2022 में स्वर्ण पदक जीतकर राष्ट्रमंडल खेलों के लिए किया क्वालीफाई

मीराबाई चानू पहली बार 55 किग्रा भार वर्ग में प्रतिस्पर्धा कर रही थीं। उन्होंने स्वर्ण पदक जीतने के लिए कुल 191 किग्रा भार उठाया। वह दूसरे स्थान पर रहीं जेसिका सेवास्टेंको की तुलना में 24 किग्रा अधिक भार उठाने में सफल रहीं।

लेखक रितेश जायसवाल
फोटो क्रेडिट Getty Images

टोक्यो ओलंपिक की रजत पदक विजेता मीराबाई चानू ने शुक्रवार को सिंगापुर वेटलिफ्टिंग इंटरनेशनल 2022 प्रतियोगिता में 55 किग्रा भार वर्ग में स्वर्ण पदक जीतकर बर्मिंघम में होनें वाले राष्ट्रमंडल खेलों के लिए क्वालीफाई कर लिया है।

अपने मूल भार वर्ग 49 किग्रा के बजाय पहली बार 55 किग्रा भार वर्ग में प्रतिस्पर्धा करते हुए, मीराबाई चानू ने स्नैच में 86 किग्रा का सबसे अधिक भार उठाया और इसके बाद क्लीन एंड जर्क में 105 किग्रा भार उठाते हुए कुल 191 किग्रा भार दर्ज किया। इस प्रतियोगिता का आयोजन सिंगापुर के तोआ पायोह स्पोर्ट्स हॉल में हो रहा है।

ऑस्ट्रेलिया की जेसिका सेवेस्टेंको ने कुल 167 किग्रा (77 किग्रा स्नैच + 90 किग्रा क्लीन एंड जर्क) भार उठाते हुए रजत पदक जीता, जबकि मलेशिया की एली कैसेंड्रा एंगेलबर्ट ने कुल 165 किग्रा (75 किग्रा + 90 किग्रा) भार उठाते हुए कांस्य पदक जीता।

राष्ट्रमंडल खेलों में मीराबाई चानू 49 किग्रा की मौजूदा चैंपियन हैं और उन्हें उनकी वर्तमान वर्ल्ड रैंकिंग के आधार पर बर्मिंघम में इस वर्ग में क्वालिफिकेशन की गारंटी दी गई थी। टोक्यो 2020 ओलंपिक में भारतीय वेटलिफ्टर ने सिल्वर मेडल भी उसी भार वर्ग में हासिल किया था।

हालांकि, मणिपुरी की इस दिग्गज एथलीट को इंडियन वेटलिफ्टिंग फेडरेशन (IWLF) द्वारा कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के लिए 55 किग्रा भार वर्ग में स्थानांतरित करने के लिए कहा गया था, जिससे भारत के सभी भार वर्ग में पदक जीतने की संभावना को बढ़ाया जा सके।

बता दें, मीराबाई चानू को CWG 2022 में 55 किग्रा स्पर्धा के लिए क्वालीफाई करने के लिए सिंगापुर मीट में शीर्ष आठ में जगह बनाने की जरूरत थी, जो जुलाई-अगस्त में बर्मिंघम में होगी।

दिसंबर में विश्व चैंपियनशिप से अपना नाम वापस लेने के बाद, टोक्यो ओलंपिक में ऐतिहासिक सिल्वर मेडल जीतने के बाद मीराबाई चानू की यह पहली प्रतिस्पर्धी प्रतियोगिता थी।

अन्य भारतीय भारोत्तोलक जेरेमी लालरिनुंगा, अचिंता शुली, अजय सिंह और पूर्णिमा पांडे पहले ही राष्ट्रमंडल खेल 2022 के लिए क्वालीफाई कर चुके हैं।

मेंस 55 किग्रा में संकेत महादेव और ऋषिकांत सिंह और वूमेंस 59 किग्रा में बिंद्यारानी देवी सिंगापुर मीट में आज के दिन बाद अपनी दावेवारी पेश करेंगी।

कुल मिलाकर आठ भारतीय भारोत्तोलकों ने सिंगापुर में प्रतियोगिता के लिए अपना नाम दर्ज कराया था, जो कि बर्मिंघम 2022 के लिए अंतिम क्वालीफाइंग इवेंट भी है।

पोपी हज़ारिका (वूमेंस 64 किग्रा) और नटेश कुमारा उषा बन्नूर (वूमेंस 87 किग्रा) शनिवार को प्रतिस्पर्धा करेंगे, जबकि विकास ठाकुर और रागला वेंकट राहुल रविवार को मेंस 96 किग्रा भार वर्ग में प्रतिस्पर्धा करेंगे।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स