क्लीवलैंड डब्ल्यूटीए चैंपियनशिप: क्वार्टर फाइनल में पहुंची सानिया मिर्जा और क्रिस्टीना मैकहेल की जोड़ी

भारत-अमेरिकी जोड़ी ने ओक्साना कलाश्निकोवा और एंड्रिया मितु को 6-3, 6-2 से हराकर अपने पहले वूमेंस डबल्स मैच में जीत हासिल की।

लेखक अभिषेक गिरी
फोटो क्रेडिट Mark Metcalfe/ Getty Images

क्लीवलैंड डब्ल्यूटीए चैंपियनशिप में भारत की टेनिस स्टार सानिया मिर्जा (Sania Mirza) ने पहले दौर में आसान जीत के साथ वूमेंस डबल्स इवेंट में जीत के साथ शुरुआत की।

सानिया ने संयुक्त राज्य अमेरिका की क्रिस्टीना मैकहेल (Christina McHale) के साथ जोड़ी बनाकर ये जीत हासिल की, अमेरिका के ओहियो में इस जोड़ी ने जॉर्जिया की I ओक्साना कलाश्निकोवा (Oksana Kalashnikova) और रोमानिया की एंड्रिया मितु (Andreea Mitu)  को 6-3, 6-2 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई।

सानिया-ओक्साना की जोड़ी को अब अंतिम चार में जगह बनाने के लिए जापान की मियू काटो और यूएसए की सबरीना संतामारिया या फिर तीसरी वरीयता प्राप्त चेक गणराज्य की लूसी हरडेका और चीन की शुआई झांग के बीच होनेवाले विजेता से सामना करना होगा।

सानिया मिर्जा और क्रिस्टीना मैकहेल ने पहले दौर से ही अपने गेम में आक्रामक रूख अपना रखा था, जिसकी वजह से वो अपने खेल में शीर्ष पर थीं। तो वहीं कलाश्निकोवा और मिटु की जोड़ी को अपनी सर्विस के साथ संघर्ष करना पड़ रहा था, क्योंकि उन्होंने 8 डबल फॉल्ट कर दिए थे, इंडो-अमेरिकन जोड़ी ने दूसरे सर्व में भी अपना दबदबा कायम रखा, दूसरे सर्व रिटर्न पर उन्होंने 83 प्रतिशत अंक हासिल किए।

सानिया मिर्जा ने टोक्यो ओलंपिक में हिस्सा लिया था, टोक्यो के बाद सानिया ने रेगुलर सीजन में सिनसिनाटी मास्टर्स में भाग लिया था, लेकिन वह शुरुआती दौर से बाहर हो गई थी।

जहां, ट्यूनीशिया के ओन्स जाबेउर के साथ भारतीय खिलाड़ी रूस की वेरोनिका कुडरमेतोवा और कजाकिस्तान की एलेना रयबाकिना से 7-5, 6-2 से हार गईं थी।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स