पीवी सिंधु को प्रस्तावित बैडमिंटन अकादमी के लिए जमीन हुई आवंटित

विशाखापत्तनम में बनने वाली पीवी सिंधु की बैडमिंटन अकादमी के साथ एक स्पोर्ट्स स्कूल भी स्थापित किया जाएगा, जिसमें ग्रामीण क्षेत्र की लड़कियों के खेल के विकास पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।

लेखक सतीश त्रिपाठी

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में पीवी सिंधु (PV Sindhu) को अकादमी के लिए दो एकड़ जमीन उपलब्ध कराई गई है। आपको बता दें कि भारत की स्टार शटलर पीवी सिंधु की बैडमिंटन अकादमी शुरू करने की योजना को गुरुवार को तब और बल मिला मिला, जब राज्य सरकार ने इस अकादमी के लिए जमीन देने की घोषणा की।

वहीं, मौजूदा विश्व चैंपियन और 2016 रियो ओलंपिक रजत पदक (2016 Rio Olympics silver medal) विजेता को उम्मीद है कि वो अपनी इस अकादमी से ओलंपिक पदक विजेताओं को तैयार करेगीं। इसके साथ ही पीवी सिंधु का ध्यान खासतौर पर ग्रामीण क्षेत्रों की लड़कियों को खेल में विकसित करने पर होगा।

इसके अलावा पीवी सिंधु की अकादमी के साथ-साथ एक स्पोर्ट्स स्कूल भी स्थापित किया जाएगा, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि प्रशिक्षुओं को एक बेहतरीन शिक्षा भी मिल सके।

स्पोर्टस्टार के अनुसार, ये प्रस्तावित अकादमी चिनगाडिली गांव (Chinagadili village) में विशाखापत्तनम आयुर्विज्ञान संस्थान (Visakhapatnam Institute of Medical Sciences ) के पास स्थित होगा। पीवी सिंधु अपने नाम पर अकादमी स्थापित करने वाली एक नवीनतम भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी होगीं।

पूर्व ऑल इंग्लैंड चैंपियन और ओलंपियन पुलेला गोपीचंद (Pullela Gopichand) के नाम पर पिछले एक दशक से अधिक समय से हैदराबाद में प्रसिद्ध बैडमिंटन अकादमी चल रही है। जहां इस अकादमी ने पीवी सिंधु और साइना नेहवाल जैसे चैंपियन देश को दिए हैं।

इसके साथ ही इस लिस्ट में प्रकाश पादुकोण (Prakash Padukone) और ज्वाला गुट्टा (Jwala Gutta) भी शामिल हैं, जो बैंगलोर और हैदराबाद में इस नाम से अकादमी चल रही है।

बताते चलें कि लंदन 2012 की कांस्य पदक विजेता साइना नेहवाल (Saina Nehwal) की भी अगले कुछ वर्षों में एक अकादमी चलाने की योजना है। उन्हें पिछले साल के अंत में हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में जमीन आवंटित की गई थी।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स
यहां साइन अप करें यहां साइन अप करें