नीरज चोपड़ा की डाइट: जानिए गोलगप्पे के दीवाने टोक्यो चैंपियन की फिटनेस का राज़

भारतीय जैवलिन थ्रोअर अपनी डाइट के साथ कभी-कभार चुरमा और गोलगप्पे खाकर चीट करते हैं, लेकिन ज्यादातर वह अपनी दिनचर्या में प्रोटीन युक्त भोजन का सेवन करके अपनी फिटनेस पर ध्यान देते हैं।

लेखक सतीश त्रिपाठी
फोटो क्रेडिट Getty Images

विश्व के शीर्ष एथलीटों की तरह, भारत के टोक्यो ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा भी अपनी फिटनेस का पूरी तरह से ध्यान रखते हैं।

उन्होंने अपने बचपन में मोटापे से निपटने के लिए खेल को अपनाया। टोक्यो ओलंपिक चैंपियन जैवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा अपनी फिटनेस को बनाए रखने के लिए एक अच्छी डाइट और डिसिप्लिन लाइफ को फॉलो करते हैं। 

आइए नीरज चोपड़ा की डाइट और फिटनेस रूटीन पर एक नजर डालते हैं।

नीरज चोपड़ा की डाइट

आज की मॉडर्न जिंदगी में किसी भी इंसान के लिए फिट रहना काफी मायने रखता है। हालांकि अलग-अलग प्रकार के स्पोर्ट्स के लिए शरीर में एक आइडियल फैट का प्रतिशत विभिन्न हो सकता है।  

उदाहरण के लिए, बॉडी बिल्डर प्रतियोगिताओं के दौरान शरीर के फैट प्रतिशत को लगभग 3 से 5% तक बनाए रखने की कोशिश करते हैं क्योंकि इसे उनकी मांसपेशियों और शरीर के अन्य हिस्सों के लिए आइडियल माना जाता है। 

भाला फेंकने वाले पुरुष एथलीटों के लिए शरीर में एक आइडियल फैट का प्रतिशत 10-10.5% होता है।

नीरज चोपड़ा अपने शरीर में फैट को 10% तक बनाए रखने की कोशिश करते हैं। जिसके लिए वह प्रतिदिन एक डिसिप्लिन डाइट को फॉलो करते हैं। 

नीरज चोपड़ा अपनी डाइट को बहुत ही साधारण रखने की कोशिश करते हैं। जिसमें एक पौष्टिक ब्रेकफास्ट, जो उनकी ट्रेनिंग सेशन के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है। 

नीरज चोपड़ा कहते हैं, “मैं अपने दिन की शुरुआत जूस या नारियल पानी से करता हूं। इसके अलावा नाश्ते में मेरे पास तीन-चार सफेद अंडे, दो ब्रेड, एक कटोरी दलिया और फल शामिल रहता है।"

भाला फेंक चैंपियन ने कहा कि उनका सबसे पसंदीदा नाश्ता ब्रेड आँमलेट है, जो सप्ताह के किसी भी दिन इन्हें खा सकते हैं।

इसके अलावा लंच में आमतौर पर दही और चावल के साथ दाल, ग्रिल्ड चिकन और सलाद शामिल होता है।

ट्रेनिंग सेशन और जिम के बीच, वह सूखे मेवों, विशेष रूप से बादाम और फ्रेश जूस का सेवन करते हैं। 

नीरज अपने डिनर में ज्यादातर सूप, उबली सब्जियां और फलों का इस्तेमाल करते हैं। उन्होंने कहा, "मैं ज्यादातर फल और सब्जियां खाने की कोशिश करता हूं।" 

इस तरह नीरज चोपड़ा अपने नाश्ते और खाने में फलों और प्रोटीन का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं, जो उनके शरीर में एक आइडियल फैट प्रतिशत को बनाए रखने में काफी मदद करता है। 

साथ ही वह अपनी डाइट को पूरा करने के लिए प्रोटीन सप्लीमेंट का भी उपयोग करते हैं।

वहीं, नीरज चोपड़ा के डाइट चार्ट में हाल ही में साल्मन फिश को शामिल किया गया है, जिसमें प्रोटीन की भरपूर मात्रा पाई जाती है।

चोपड़ा ने ईएसपीएन से बात करते हुए कहा, "यह आपके लिए प्रोटीन का अच्छा सोर्स है। मैंने हाल ही में इसे खाना शुरू किया है। अगर मुझे मांसाहारी (नॉन-वेज) खाना लेना है, तो मैं कुछ ग्रिल्ड साल्मन खाना पसंद करूंगा।”

क्या नीरज चोपड़ा शाकाहारी हैं?

नीरज चोपड़ा के डाइट चार्ट से साफ पता चलता है कि वह मांसाहारी यानी नॉन-वेजिटेरियन भी हैं।

दिलचस्प बात यह है कि नीरज चोपड़ा 2016 तक शाकाहारी (वेजिटेरियन) थे। लेकिन यूएसए के पोर्टलैंड में एक ट्रेनिंग कैंप के दौरान चीजें बदल गईं।

बाद में नीरज चोपड़ा ने जरूरतों के मुताबिक अपने डाइट चार्ट में नॉन-वेज को शामिल करने का फैसला किया। 

नीरज चोपड़ा का चीट मील: चूरमा, मिठाई और गोलगप्पे

नीरज अपनी डाइट के साथ कभी-कभी चीट भी करते हैं।    

दरअसल, एक डिसिप्लिन डाइट को बनाए रखना काफी मुश्किल होता है और वह कभी-कभी इसके साथ चीट भी करते हैं। 

नीरज चोपड़ा अपने ब्रेक के दौरान चीट मील में चूरमा, हरियाणवी कुचली हुई रोटी (भारतीय रोटी), चीनी और घी या कुछ मिठाइयां, विशेष रूप से खीर (दूध के साथ मीठा चावल) जैसे व्यंजन का ज़ायका लेना पसंद करते हैं। नीरज कहते हैं कि उन्हें जो एक भारतीय स्ट्रीट फूड काफी पसंद है वह गोलगप्पा है जिसे पानीपुरी या पुचका भी कहा जाता है।

चोपड़ा ने आगे कहा, “मुझे लगता है कि गोलगप्पे खाने में कोई बुराई नहीं है। इसमें ज्यादातर पानी होता है और आपका ज्यादातर पेट पानी से भर जाता है। पापड़ी काफी बड़ी होती है लेकिन आटे की मात्रा बहुत कम होती है। इसमें सिर्फ पानी होता है, जो आपके पेट में जा रहा है। हालांकि कुछ मात्रा में मसाला भी होता है लेकिन यह दूसरी बात है।”

नीरज चोपड़ा घर का भोजन करना काफी पसंद करते हैं। हालांकि वह प्रशिक्षण और प्रतियोगिताओं के कारण घर से बहुत दूर रहते हैं।

इसके अलावा, नीरज खुद को एक अच्छा शेफ भी मानते हैं और वह अपने लिए 'नमकीन चावल' बनाते हैं, जिसे कुछ लोग इसे वेज बिरयानी भी कहते हैं।

टोक्यो 2020 के बाद नीरज चोपड़ा का वजन घटाने का सफर

नीरज चोपड़ा टोक्यो ओलंपिक में अपना ऐतिहासिक स्वर्ण पदक जीतने के बाद अपना वजन घटाने पर जोर देने लगे। इस दौरान उन्हें अपने डाइट चार्ट में काफी फेरबदल करना पड़ा।   

टोक्यो 2020 के बाद, नीरज चोपड़ा कुछ महीनों के लिए एक्शन से बाहर थे, जो उनके लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण ब्रेक था। इससे उन्हें चोट से उबरने में भी मदद मिली।

नीरज चोपड़ा ने जब दिसंबर में फिर से ट्रेनिंग शुरू की तो उन्होंने लगभग 12-14 किलो वजन बढ़ा लिया था और उनका वजन 97 किलो हो गया था। 

उनके शरीर में फैट का प्रतिशत भी लगभग 16% तक पहुंच गया था, जो उनके एक आइडियल फैट से लगभग 60% अधिक था। 

दरअसल, टोक्यो में यादगार प्रदर्शन के बाद ढेर सारे रात्रिभोज और दोपहर के भोजन से उनके वजन पर काफी प्रभाव पड़ा।

नीरज ने अपनी पुरानी फिटनेस में वापस आने के लिए, अपने कोचिंग स्टाफ के साथ यूएसए की यात्रा की और कैलिफोर्निया की चुला विस्टा में ट्रेनिंग ली।

नीरज चोपड़ा के लंबे समय के फिजियो ईशान मारवाह ने न्यू इंडियन एक्सप्रेस को बताया, "यह लगभग शून्य से शुरू होने जैसा था क्योंकि चार महीने का अंतर था।"

24 वर्षीय इस भारतीय स्टार एथलीट ने तेजी से वजन घटाने के लिए अपने डाइट में कुछ बदलाव किए, जहां उन्होंने सबसे पहले शुगर को पूरी तरह से हटा दिया।

नीरज चोपड़ा की डायटीशियन मिहिरा खोपकर ने भी पांच हफ्ते तक प्रोटीन की मात्रा बढ़ाते हुए कार्बोहाइड्रेट का सेवन कम कर दिया।

चिकन, साल्मन, अंडे और ढेर सारा सलाद भारतीय एथलीट के लिए प्रोटीन के मूल स्रोत थे और इसके अलावा कार्बोहाइड्रेट के लिए आलू को शामिल किया गया। 

नीरज ने अपनी एक्सरसाइड में विशेष रूप में कार्डियो का ज्यादा इस्तेमाल करना शुरू किया, जो चोपड़ा के वजन घटाने में काफी मददगार साबित हुआ, लेकिन यह सफर इतना भी आसान नहीं था। 

मारवाहा ने कहा, "यह उनके लिए भी मुश्किल था क्योंकि वह उस तरह के वजन के साथ नहीं दौड़े थे…शुरुआत में उनके लिए लंबी दूरी की दौड़ शुरू करना काफी मुश्किल था। फिर हम उनके रनों की दूरी 5K तक बढ़ाते रहे।”

नीरज चोपड़ा ने पहले कुछ हफ्तों में लगभग दो किलो वजन कम किया और वेट ट्रेनिंग फिर से शुरू करने के बाद उनका वजन कम होना शुरू हो गया।

बता दें कि रेजिमेंट ने नीरज चोपड़ा को मजबूत और बेहतर थ्रोअर बनाया है। 

जून में फिनलैंड में पावो नुरमी खेलों में नीरज चोपड़ा ने अपने खुद के राष्ट्रीय रिकॉर्ड को बेहतर बनाने के लिए 89.30 मीटर का रिकॉर्ड थ्रो किया।

सिर्फ 16 दिनों के बाद, नीरज चोपड़ा ने स्टॉकहोम डायमंड लीग में अपने सर्वश्रेष्ठ रिकॉर्ड में सुधार करते हुए 89.94 मीटर का थ्रो किया। 

इसके साथ ही उन्होंने जुलाई में ओरेगन में आयोजित हुई विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2022 में ऐतिहासिक रजत पदक भी जीता था।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स