नेशनल गेम्स 2022 टेबल टेनिस: ओलंपियन मौमा दास, सुतीर्थ मुखर्जी ने पश्चिम बंगाल को दिलाया स्वर्ण पदक

राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता हरमीत देसाई और एशियाई खेलों के कांस्य पदक विजेता मानव ठक्कर ने पुरुषों की टेबल टेनिस स्पर्धा में गुजरात को स्वर्ण पदक दिलाया।

लेखक रौशन प्रकाश वर्मा
फोटो क्रेडिट 2018 Getty Images

गुजरात में आयोजित नेशनल गेम्स 2022 के महिला टेबल टेनिस टीम के फाइनल में ओलंपियन मौमा दास और सुतीर्थ मुखर्जी की अगुवाई में पश्चिम बंगाल ने बुधवार को महाराष्ट्र को 3-1 से हराकर स्वर्ण पदक जीता।

एशियाई खेल 2018 में भारतीय टीम का हिस्सा रहीं अहिका मुखर्जी ने फाइनल के पहले दौर में स्वास्तिका घोष को 3-0 से हराकर पश्चिम बंगाल को पांच मैचों के मुकाबले में शुरुआती बढ़त दिलाई।

इसके बाद रीथ्रिश्या टेनिसन ने महाराष्ट्र की वापसी में अहम भूमिका निभाई। उन्होंने दूसरे मैच में ओलंपियन और राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता सुतीर्थ मुखर्जी को 3-0 (9-11, 11-13, 9-11) से हराया।

एथेंस 2004 की ओलंपियन 38 वर्षीय मौमा दास पहला गेम हारने के बाद तीसरे दौर में 19 वर्षीय दीया चितले के खिलाफ संघर्ष करती दिखीं। हालांकि, मौमा दास ने अपने अनुभव का इस्तेमाल करते हुए दीया चितले को 3-2 (6-11, 16-14, 10-12, 14-12, 11-6) से हराकर पश्चिम बंगाल को बढ़त दिलाने में मदद की।

राष्ट्रमंडल खेल 2018 में भारत की स्वर्ण पदक विजेता टीम का हिस्सा रहीं सुतीर्थ मुखर्जी ने पश्चिम बंगाल के लिए खिताब सुरक्षित करने के लिए स्वस्तिका घोष के खिलाफ रिवर्स फिक्स्चर में बेहतर प्रदर्शन किया।

पुरुषों की टेबल टेनिस स्पर्धा में नेशनल गेम्स में शीर्ष वरीयता प्राप्त गुजरात की टीम ने पूरी प्रतियोगिता में एक भी मैच नहीं गंवाया और फाइनल में दिल्ली को 3-0 से हराकर खिताब जीता।

एशियाई खेलों के कांस्य पदक विजेता गुजरात के मानव ठक्कर ने शुरूआती गेम में दिल्ली के सुधांशु ग्रोवर पर अपना दबदबा बनाया।

दो बार राष्ट्रमंडल खेलों के पुरुष टीम के स्वर्ण पदक विजेता गुजरात के कप्तान हरमीत देसाई ने दूसरे दौर में पायस जैन को हराया। यशांश मलिक पर मानुष शाह की एकतरफा जीत ने टीम गुजरात के लिए पदक पक्का कर दिया।

महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल ने पुरुषों के कांस्य पदक जीते जबकि तमिलनाडु और तेलंगाना ने महिलाओं का कांस्य पदक हासिल किया। 

नेशनल गेम्स 2022 आधिकारिक तौर पर 27 सितंबर से शुरू होने वाले थे।

लेकिन चीन में 30 सितंबर से होने वाली विश्व टेबल टेनिस चैंपियनशिप के कारण नेशनल गेम्स का आयोजन पहले ही करवा लिया गया ताकि टेबल टेनिस स्पर्धाओं में भारत के शीर्ष खिलाड़ी अचंत शरत कमल, साथियान गणानाशेखरन और मनिका बत्रा की उपस्थिति सुनिश्चित की जा सके।

ये तीनों खिलाड़ी गुरुवार से शुरू होने वाले व्यक्तिगत स्पर्धाओं में भी हिस्सा लेंगे। 

गेम्स 2022 में 7,000 से अधिक एथलीट 30 से अधिक खेलों में प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं। यह इस प्रतियोगिता का 36वां संस्करण है। आपको बता दें कि नेशनल गेम्स का आयोजन पहली बार 1924 में ब्रिटिश भारत के लाहौर में किया गया था। यह प्रतियोगिता प्रत्येक सात साल के बाद आयोजित होती रही है। 

नेशनल गेम्स 2022: टेबल टेनिस का फाइनल रिजल्ट

पुरुष: गुजरात ने दिल्ली को 3-0 से हराया (मानव ठक्कर ने सुधांशु ग्रोवर को 11-3, 13-11, 14-12 से हराया; हरमीत देसाई ने पायस जैन को 11-7, 11-3, 12-10 से हराया; मानुष शाह ने यशांश मलिक को 11-4, 11-9, 11-4 से हराया)।

महिला: पश्चिम बंगाल ने महाराष्ट्र को 3-1 से हराया (अहिका मुखर्जी ने स्वास्तिका घोष को 11-3, 11-5, 11-3 से हराया; सुतीर्थ मुखर्जी को रीथ्रिश्या टेनिसन से 9-11, 11-13, 9-11 के अंतर से हार का सामना करना पड़ा; मौमा दास ने दीय चितले को 6-11, 16-14, 10-12, 14-12, 11-6 से हराया; सुतीर्थ मुखर्जी ने स्वास्तिका घोष को 11-4, 11-13, 11-8, 10-12, 11-6 से हराया)।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स