'एक युग का अंत' - भारत के स्पोर्ट्स स्टार्स ने दी महान गायिका लता मंगेशकर को श्रद्धांजलि

महान भारतीय गायिका के निधन पर भारतीय एथलीटों ने शोक व्यक्त किया।

लेखक शिखा राजपूत
फोटो क्रेडिट 2003 Getty Images

भारतीय स्पोर्ट्स कम्यूनिटी ने रविवार की सुबह महान भारतीय गायिका लता मंगेशकर के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। वह 92 वर्ष की थीं।

लता मंगेशकर को भारत की कोकिला के रूप में भी जाना जाता है। पिछले महीने कोविड-19 से उबरने के बाद उनका निमोनिया का इलाज किया जा रहा था। वह मुंबई के एक अस्पताल में वेंटिलेटर पर थीं।

लता मंगेशकर भारत की मशहूर गायिकाओं में से एक थीं। उनका करियर सात दशकों से अधिक समय तक चला। उन्होंने 36 से अधिक भाषाओं में अपनी आवाज का जादू चलाया और उनकी डिस्कोग्राफी में 30,000 से अधिक गाने हैं।

मेलोडी क्वीन के नाम से मशहूर लता मंगेशकर को 2001 में भारत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान, भारत रत्न से सम्मानित किया गया था। दर्जनों राष्ट्रीय सम्मान के साथ उन्हें 2007 में फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार, नेशनल ऑर्डर ऑफ द लीजन ऑफ ऑनर से भी सम्मानित किया जा चुका है।

सभी क्षेत्रों के भारतीय खेल आइकन ने सोशल मीडिया पर प्रतिष्ठित गायिका को श्रद्धांजलि दी।

"एक युग का अंत," टोक्यो ओलंपिक की रजत पदक विजेता मीराबाई चानू ने अपने ट्विटर पेज पर लिखा।

ओलंपिक पदक विजेता पहलवान बजरंग पुनिया ने भी श्रद्धांजलि दी। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, “भारत रत्न लता मंगेशकर की सुरीली आवाज देश की पहचान थी और हमेशा रहेगी। उनके निधन से देश और संगीत जगत को कभी पूरी न होने वाली क्षति हुई है।”

भारत के पहले व्यक्तिगत ओलंपिक चैंपियन अभिनव बिंद्रा ने भी अपना दुख व्यक्त किया। “भारत की सबसे प्रिय आवाज और क्वीन ऑफ मेलोडी लता मंगेशकर जी के निधन के बारे में जानकर गहरा दुख हुआ। उनके परिवार और मेरे जैसे अरबों प्रशंसकों के प्रति संवेदना। उनका संगीत हमेशा जीवित रहेगा और हमारे दिलों को छूता रहेगा !"

वहीं, टोक्यो 2020 में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले युवा बैडमिंटन खिलाड़ी चिराग शेट्टी ने साझा किया कि वह लता मंगेशकर के गाने सुनकर बड़े हुए हैं।

भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार विराट कोहली और ओलंपिक पदक विजेता लिएंडर पेस, साइना नेहवाल, साक्षी मलिक, लवलीना बोरगोहेन और रवि दहिया ने भी गायिका को श्रद्धांजलि दी।

बॉक्सर और टोक्यो ओलंपियन सिमरनजीत कौर ने कहा, "लता मंगेशकर जी की आवाज एक ऐसी धुन है जो भारत की आजादी से पहले से लेकर आने वाली सदियों तक सुनाई देती रहेगी, क्योंकि वह अपने गीतों के जरिए एक अरब दिलों को छूती रहेंगी।"

भारत सरकार 6 और 7 फरवरी को दो दिन का शोक मनाएगी, जिसके दौरान पूरे देश में राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा।“

लता मंगेशकर का मुंबई में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया जाएगा।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स