कोरिया ओपन बैडमिंटन: भारत की पीवी सिंधु को एन सेयॉन्ग ने किया बाहर

दो बार की ओलंपिक पदक विजेता सेमीफाइनल में दुनिया की चौथे नंबर की दक्षिण कोरियाई खिलाड़ी से हार गईं।

लेखक रितेश जायसवाल
फोटो क्रेडिट Getty Images

भारत की बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु का कोरिया ओपन 2022 का अभियान शनिवार को घरेलू पसंदीदा खिलाड़ी एन सेयॉन्ग से सेमीफाइनल में हार के बाद समाप्त हो गया।

संचियॉन के पाल्मा स्टेडियम में पीवी सिंधु अपने महिला एकल सेमीफाइनल में 21-14, 21-17 से हार गईं।

इस मुकाबले में बैडमिंटन रैंकिंग में सातवें स्थान पर काबिज पीवी सिंधु का सामना दुनिया की चौथे नंबर की दक्षिण कोरियाई खिलाड़ी से हुआ।

शुक्रवार के क्वार्टर-फाइनल में सीधे गेम में थाईलैंड की बुसानन ओंगबामरुंगफान को हराकर आगे बढ़ने वाली पीवी सिंधु ने सेमीफाइनल मैच में आक्रामक शुरुआत की कोशिश की, लेकिन एन सेयॉन्ग से कुछ आश्चर्यजनक शॉट लगाकर हैरान करते हुए 7-1 की बढ़त बना ली।

इसके बाद सिंधु लगातार कई अंक हासिल करते हुए इस शुरुआती झटके से उबरने में कामयाब रहीं, लेकिन इस मैच के पहले गेम के मध्य अंतराल में एन सेयॉन्ग ने फिर 11-6 की बढ़त हासिल कर ली।

सिंधु के पूरा जोर लगाने के बावजूद एन सेयॉन्ग ने खेल पर अपना नियंत्रण बनाए रखा और पहला गेम 21-14 से जीत लिया।

दूसरे गेम में कड़ी टक्कर देने के प्रयास में पीवी सिंधु ने 3-0 की बढ़त हासिल कर ली, लेकिन एन सेयॉन्ग ने फिर वापसी की और ब्रेक से पहले दो अंकों की बढ़त हासिल कर ली।

एन सेयॉन्ग का कोर्ट कवरेज बेहतरीन रहा और उन्होंने मैच में आगे बढ़ने के साथ-साथ अपने शॉट्स से भारतीय स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी को हैरान करना जारी रखा।

14-9 से पीछे चल रही पीवी सिंधु ने कुछ शानदार क्रॉस कोर्ट लगाते हुए इस अंतराल को सिर्फ एक अंक के अंतर पर लाने में कामयाबी हासिल की। हालांकि, फॉर्म में चल रही दक्षिण कोरियाई खिलाड़ी को पीछे छोड़ने के लिए यह काफी नहीं था। सेयॉन्ग ने इस मैच को 47 मिनट में समाप्त करते हुए अपने नाम कर लिया।

किदांबी श्रीकांत भी हुए टूर्नामेंट से बाहर

बाद के मैच में भारतीय शटलर किदांबी श्रीकांत को इंडोनेशिया के दूसरी वरीयता प्राप्त जोनाथन क्रिस्टी ने मेंस सिंग्लस इवेंट के सेमीफाइनल में 21-19, 21-16 से हराया।

पांचवीं वरीयता प्राप्त श्रीकांत ने मैच की अच्छी शुरुआत की और पहले गेम में विपक्षी खिलाड़ी पर दबाव बनाए रखा, लेकिन दुनिया के 8वें नंबर के क्रिस्टी ने गेम के अंत में पलटवार करते हुए पहले गेम को अपने नाम कर लिया।

दूसरे गेम की शुरुआत काफी रोमांचक रही, दोनों शटलरों ने एक दूसरे का बेहतरीन मुकाबला किया और स्कोर 14-14 की बराबरी पर पहुंच गया। एक बार फिर यहां से क्रिस्टी ने श्रीकांत पर दबाव बनाना शुरू किया और 49 मिनट तक चले इस मुकाबले को जीत कर टूर्नामेंट के फाइनल में प्रवेश कर लिया।

किदांबी श्रीकांत के इस हार से कोरिया ओपन में भारत का अभियान भी समाप्त हो गया।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स