WTT कंटेंडर बुडापेस्ट में मनिका बत्रा और साथियान ज्ञानसेखरन ने की जीत से शुरुआत

मुख्य ड्रॉ में बाकी भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ियों मानव ठक्कर, हरमीत देसाई, अर्चना कामथ और श्रीजा अकुला ने भी अपने शुरुआती मैच जीते।

लेखक शिखा राजपूत
फोटो क्रेडिट 2019 Getty Images

मंगलवार को डब्ल्यूटीटी कंटेंडर बुडापेस्ट में भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा (Manika Batra) और साथियान ज्ञानशेखरन (Sathiyan Gnanasekaran) ने अपने-अपने सिंगल इवेंट के दूसरे दौर में प्रवेश कर लिया है।

बुडापेस्ट ओलंपिक स्पोर्ट्स हॉल में टोक्यो 2020 में वापसी करने वाली मनिका बत्रा ने राउंड ऑफ 32 में जर्मनी की सबाइन विंटर (Sabine Winter) को मात देने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ी। छठी वरीयता प्राप्त भारतीय खिलाड़ी ने सेट से वापसी करते हुए जर्मन खिलाड़ी को 3-2 (8-11, 11-7, 11-6, 13-15, 11-5) से हराया।

दुनिया की 60वें नंबर की खिलाड़ी मनिका बत्रा का सामना अब राउंड ऑफ 16 में इटली की जियोर्जिया पिकोलिन (Giorgia Piccolin) से होगा।

बाद में, टोक्यो ओलंपियन जी साथियान ने फ्रांस के कैन अक्कुजू (Can Akkuzu) के खिलाफ पहले दौर का मैच जीतकर भारत के लिए अच्छा प्रदर्शन जारी रखा। यह भारतीय वर्तमान में विश्व में 39वें स्थान पर मौजूद है।

भारतीय खिलाड़ी ने 3-1 (14-12, 11-5, 7-11, 11-4) से जीत के लिए वापसी के करते हुए अक्कुजू के प्रयासों को सफल नहीं होने दिया।

क्वार्टर में जगह बनाने के लिए जी साथियान का सामना इटली के नियागोल स्टोयानोव (Niagol Stoyanov) से होगा।

अन्य मेंस सिंगल खिलाड़ी मानव ठक्कर और हरमीत देसाई (Harmeet Desai) भी राउंड ऑफ16 में पहुंच गए हैं।

मानव ने बेलारूस के पावेल प्लाटोनोव (Pavel Platonov) को सीधे गेम में (12-10, 11-9, 11-6) से बाहर कर दिया, जबकि हरमीत को हंगरी के सीसाबा एंड्रास (Csaba Andras) के खिलाफ 3-2 (6-11, 7-11, 13-11, 11-7, 11-4) से हार झेलनी पड़ी।

वूमेंस सिंगल में मनिका बत्रा अंतिम 16 में अर्चना कामथ (Archana Kamath) और श्रीजा अकुला (Sreeja Akula) के साथ शामिल हुईं।

दुनिया की 134वें नंबर की अर्चना ने दुनिया की 58वें नंबर की और रूस की पांचवीं वरीयता प्राप्त याना नोस्कोवा (Yana Noskova) को 3-2 (11-8, 11-9, 6-11, 5-11, 11-9) से हराया, जबकि श्रीजा (Sreeja ने भी पांचवां स्थान हासिल किया। श्रीजा ने सेट में स्वीडन की लिंडा बर्गस्ट्रॉम (Linda Bergstrom) को 3-2 (11-8, 6-11, 14-12, 2-11, 11-7) के अंतर से हराया।

हालांकि, रीथ टेनिसन (Reeth Tennison) ने टोक्यो ओलंपियन और हंगरी के 76वें स्थान की ज़ांड्रा पेर्गेल (Szandra Pergel) को कड़ी टक्कर दी थी। रीथ ने पहले दो गेम 12-10, 11-6 में बढ़त बनाई, लेकिन अगले तीन गेम 6-11, 8-11, 7-11 से हारकर राउंड ऑफ 32 से बाहर हो गईं।

अखिल भारतीय मेंस डबल मुकाबले में हरमीत देसाई और मानव ठक्कर ने राउंड ऑफ 16 में मानुष शाह (Manush Shah) और जीत चंद्रा (Jeet Chandra) को 3-1 (11-5, 7-11, 7-11, 11-13) से हरा दिया।

स्नेहित सुरवज्जुला (Snehit Suravajjula) ने चेक रिपब्लिक के साइमन बेलिक (Simon Belik) औ टॉमस मार्टिंको (Tomas Martinko) को 3-1 (11-5, 5-11, 2-11, 8-11) से हराकर क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालीफाई किया और भारत की दूसरी मेंस डबल टीम बनने के लिए सानिल शेट्टी (Sanil Shetty) के साथ जोड़ी बनाई।

हालांकि, सेलेना सेल्वाकुमार (Selena Selvakumar) और श्रीजा अकुला के स्वीडन की लिंडा बर्गस्ट्रॉम और क्रिस्टीना कालबर्ग (Christina Kallberg) से हारने के बाद वूमेंस डबल में भारत की सारी उम्मीदें खत्म हो गईं। भारतीय महिलाएं अपने शुरुआती मुकाबले में 3-1 (8-11, 12-10, 5-11, 8-11) से हार गईं।

साथियान ज्ञानशेखरन और मनिका बत्रा ने हमवतन अर्चना कामथ और मानव ठक्कर को 3-0 (11-3, 11-6, 14-12) से हराकर मिक्स्ड डबल्स के अंतिम 8 में जगह पक्की की।