कॉमनवेल्थ गेम्स: रवि दहिया और बजरंग पुनिया ने भारतीय कुश्ती टीम में बनाई जगह

टोक्यो ओलंपियन दीपक पूनिया ने भी 86 किग्रा फाइनल में पुरुषों के फ्रीस्टाइल ट्रायल में जगह बनाई है।

लेखक रौशन कुमार
फोटो क्रेडिट 2021 Getty Images

टोक्यो 2020 पदक विजेता बजरंग पुनिया और रवि कुमार दहिया ने मंगलवार को नई दिल्ली में आयोजित राष्ट्रीय चयन ट्रायल में अपने-अपने भार वर्ग जीतकर कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के लिए भारतीय पुरुष कुश्ती टीम में जगह बना ली है।

मार्च में आयोजित हुई एशियाई चैंपियनशिप के ट्रायल की तरह भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) ने दीपक पूनिया सहित टोक्यो ओलंपियन को सीधे फाइनल से शुरुआत करने की अनुमति दी। जिसके बाद शीर्ष भारतीय पहलवानों को मंगलवार को सेमीफाइनल में अपनी दावेदारी पेश करनी थी।

फ्रीस्टाइल 65 किग्रा वर्ग में प्रतिस्पर्धा कर रहे टोक्यो ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता बजरंग पुनिया ने सेमीफाइनल में सुजीत को और फिर फाइनल में विशाल को 2-1 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया।

बजरंग ने एएनआई से बात करते हुए कहा, “यह मेरा तीसरा कॉमनवेल्थ गेम्स है। मैं देश के लिए गोल्ड मेडल जीतने की कोशिश करूंगा। मैं इसके लिए कड़ी मेहनत करूंगा। सभी एथलीटों ने अच्छी तैयारी की है, मुझे उम्मीद है कि हम सभी अच्छा प्रदर्शन करेंगे क्योंकि हमारा प्रदर्शन अच्छा रहा है।”

इस बीच, टोक्यो के रजत पदक विजेता रवि कुमार दहिया ने 57 किग्रा के एकतरफा फाइनल में अमन को 10-0 से मात दी। इससे पहले टोक्यो ओलंपिक रजत पदक विजेता ने सेमीफाइनल में विजय पाटिल को हराया था।

दीपक पूनिया ने भी सेमीफाइनल में विक्की को हराया, वहीं 86 किग्रा फाइनल में संजीत पर 6-0 की जीत दर्ज की थी।

अन्य पहलवान नवीन (74 किग्रा), दीपक (97 किग्रा) और मोहित ग्रेवाल (125 किग्रा) ने कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के लिए भारतीय पुरुष फ्रीस्टाइल कुश्ती टीम में जगह बनाई।

नवीन ने फाइनल में एशियाई रजत पदक विजेता गौरव बलियान को 12-2 से हराकर 74 किग्रा भार वर्ग का स्थान हासिल किया। इससे पहले उन्होंने एशियाई रजत पदक विजेता जितेंद्र कुमार और अंडर-17 विश्व चैंपियन सागर जगलान को भी हराया था।

इस बीच, विश्व जूनियर कांस्य पदक विजेता दीपक ने सेमीफाइनल में कॉमनवेल्थ गेम्स के रजत पदक विजेता और रियो 2016 की कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक के पति सत्यव्रत कादियान को हराया और फिर उन्होंने फाइनल में साहिल को 10-0 से हराकर 97 किग्रा ट्रायल को अपने नाम किया।

मोहित ग्रेवाल ने 125 किग्रा के फाइनल में अंतिम अंक हासिल करते हुए सत्येंद्र मलिक को 3-3 से हराया।

भारतीय महिला कुश्ती टीम के लिए सोमवार को ट्रायल हुए, जहां साक्षी मलिक और विनेश फोगाट ने कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए जगह बनाई।

साल 2018 में आयोजित हुए कॉमनवेल्थ के पिछले संस्करण में भारतीय पहलवानों ने पांच स्वर्ण, तीन रजत और चार कांस्य पदक जीते थे। यह संख्या किसी भी देश के पहलवानों के जीते गए पदकों से अधिक है।

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के लिए भारतीय पुरुष कुश्ती टीम

फ्रीस्टाइल: रवि कुमार दहिया (57 किग्रा), बजरंग पुनिया (65 किग्रा), नवीन (74 किग्रा), दीपक पूनिया (86 किग्रा), दीपक (97 किग्रा), मोहित ग्रेवाल (125 किग्रा)

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के लिए भारतीय महिला कुश्ती टीम की जानकारी के लिए यहां दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स