नेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप के फाइनल में पहुंचे शिवा थापा

मौजूदा एशियाई चैंपियन संजीत और कॉमनवेल्थ खेलों के कांस्य पदक विजेता मोहम्मद हुसामुद्दीन ने भी अपने सेमीफाइनल मुकाबले जीते।

लेखक प्रभात दुबे
फोटो क्रेडिट BFI

विश्व कांस्य पदक विजेता शिव थापा (Shiva Thapa) ने सोमवार को पुरुषों की राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैंपियनशिप के फाइनल में प्रवेश कर लिया है।

असम का प्रतिनिधित्व करते हुए, पांच बार के एशियाई चैंपियनशिप पदक विजेता शिव थापा ने 63.5 किग्रा वर्ग के सेमीफाइनल में सर्वसम्मत निर्णय से जीत हासिल करते हुए उत्तर प्रदेश के अभिषेक यादव (Abhishek Yadav) को शानदार तरीके से पछाड़ दिया।

बता दें कि थापा मौजूदा राष्ट्रीय चैंपियन भी हैं, और साल 2021 के खिताब के लिए सेवा खेल नियंत्रण बोर्ड (एसएससीबी) के दलवीर सिंह तोमर ( Dalveer Singh Tomar) से भिड़ेंगे।

मौजूदा एशियाई चैंपियन एसएससीबी के संजीत (Sanjeet) ने भी 92 किग्रा में दिल्ली के हर्ष कौशिक (Harsh Kaushik) पर 5-0 से जीत के साथ फाइनल में प्रवेश किया।

दिन के सबसे जबरदस्त मुकाबलों में से एक 57 किग्रा वर्ग में हुआ, जब गत चैंपियन मोहम्मद हुसामुद्दीन (Mohammad Hussamuddin) का सामना हरियाणा के तेज तर्रार युवा विश्व चैंपियन सचिन सिवाच (Sachin Sivach) से हुआ।

एसएससीबी का प्रतिनिधित्व करने वाले कॉमनवेल्थ खेलों के कांस्य पदक विजेता हुसामुद्दीन को हरियाणा के मुक्केबाज के खिलाफ काफी पसीना बहाना पड़ा, और आखिर में 4-1 के फैसले से जीत हासिल की।

फाइनल मुकाबले में हुसामुद्दीन को दिल्ली के रोहित मोर (Rohit Mor) से चुनौती मिलेगी।

13 भार वर्ग के सभी फाइनल मैच मंगलवार को कर्नाटक के बेल्लारी में इंस्पायर इंस्टीट्यूट ऑफ स्पोर्ट्स (IIS) में होंगे।

बता दें कि मुक्केबाजी में कोई कांस्य पदक प्रतियोगिता नहीं है, क्योंकि सेमीफाइनल में हारने वाले दोनों को कांस्य से सम्मानित किया जाता है।

नेशनल में जीतने वाला मुक्केबाज अगले महीने सर्बिया में होने वाली विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगा, और राष्ट्रीय शिविर में प्रशिक्षण भी लेगा।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स