थॉमस और उबेर कप बैडमिंटन: भारत की पुरुष और महिला टीम ने क्वार्टर-फाइनल में बनाई जगह

भारत की महिला टीम ने उबेर कप में स्कॉटलैंड को हराया, जबकि पुरुष टीम ने थॉमस कप में ताहिती को हराकर क्वार्टर-फाइनल के लिए क्वालीफाई किया।

लेखक रितेश जायसवाल
फोटो क्रेडिट Badmintonphoto | Courtesy of BWF

पुरुष और महिला भारतीय बैडमिंटन टीमों ने मंगलवार को अपने-अपने ग्रुप-स्टेज मैचों में जीत दर्ज करते हुए थॉमस और उबेर कप के क्वार्टर-फाइनल में जगह बना ली है।

भारतीय मेंस टीम ने थॉमस कप में ताहिती पर 5-0 से जीत दर्ज की, जबकि महिला टीम ने उबेर कप में स्कॉटलैंड पर 4-1 से जीत दर्ज की।

दिन का पहला मुकाबला महिला टीम का देखने को मिला, जिसमें ओलंपिक पदक विजेता साइना नेहवाल की मौजूदगी के बिना ही महिला टीम की भिड़ंत स्कॉटलैंड की टीम से हुई।

लंदन 2012 की कांस्य पदक विजेता साइना नेहवाल (Saina Nehwal) को रविवार को स्पेन के खिलाफ उबेर कप मुकाबले से मजबूरन बाहर होना पड़ा। लेकिन भारतीय शटलरों ने अपनी सबसे सीनियर खिलाड़ी की अनुपस्थिति को कोर्ट पर नज़रअंदाज़ करते हुए मुकाबले के परिणाम को प्रभावित नहीं होने दिया।

स्कॉटलैंड के खिलाफ युवा भारतीय टीम की शुरुआत खराब रही, जिसमें मालविका बंसोद (Malvika Bansod) एकल मैच में दुनिया की 26वें नंबर की किर्स्टी गिल्मर (Kirsty Gilmour) से हार गईं। 20 वर्षीय भारतीय को सीधे गेम में 21-13, 21-9 से हार का सामना करना पड़ा।

हालांकि, भारत ने अच्छी वापसी की, क्योंकि अदिति भट्ट (Aditi Bhatt) ने रेचल सुगडेन (Rachel Sugden) को 21-14, 21-8 से हराकर स्कोर बराबर कर लिया।

तनीषा क्रैस्टो (Tanisha Crasto) और रुतपर्णा पांडा (Rutaparna Panda) की युगल जोड़ी ने जूली मैकफेरसन (Julie Macpherson) और सियारा टॉरेंस (Ciara Torrance) को 21-11, 21-8 से हराकर 2-1 से बढ़त हासिल कर ली।

हालांकि, यह 16 वर्षीय बैडमिंटन खिलाड़ी तसनीम मीर (Tasnim Mir) थीं, जिन्होंने सभी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया और भारत के लिए आगे बढ़ने की राह को साफ कर दिया। चोटिल साइना नेहवाल (Saina Nehwal) की जगह आई युवा खिलाड़ी ने लॉरेन मिडलटन को 21-15, 21-6 से शिकस्त दी।

विश्व जूनियर नंबर 4 तसनीम ने कहा, “मैंने इतने बड़े इवेंट में कभी नहीं खेला... अपने पहले मैच मैं थोड़ा नर्वस थी, लेकिन यह अच्छा रहा। मैं एक अच्छा मुकाबला खेलने में कामयाब रही।”

भारत ने एक और जीत के साथ स्कॉटलैंड पर 4-1 से जीत दर्ज की।

ट्रीसा जॉली और गायत्री गोपीचंद पुलेला की जोड़ी को कर्स्टी गिल्मर और एलेनोर ओ'डोनेल की अनुभवी जोड़ी से थोड़ी कड़ी टक्कर जरूर मिली, लेकिन अंततः इस जोड़ी ने 21-8, 19-21, 21-10 से जीत दर्ज की।

ग्रुप-बी की शीर्ष दो टीमें - भारत और थाईलैंड फाइनल पोज़ीशन हासिल करने के लिए बुधवार को आमने-सामने होंगी।

थॉमस कप क्वार्टर-फाइनल में पहुंची भारतीय टीम

दिन के बाद में भारत की पुरुष टीम ने ताहिती को 5-0 से हराकर शानदार अंदाज़ में क्वार्टर-फाइनल के लिए क्वालीफाई किया।

टोक्यो ओलंपियन बी साई प्रणीत (B Sai Praneeth) ने लुइस ब्यूबोइस (Louis Beaubois) पर 21-5, 21-6 से जीत के साथ शुरुआत की और समीर वर्मा (Sameer Verma) ने रेमी रॉसी (Remi Rossi) को 21-12, 21-12 से हराकर बढ़त को दोगुना कर दिया।

इसके बाद किदांबी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) की जगह आए किरण जॉर्ज ने थॉमस कप के नॉकआउट राउंड में भारत की जगह पक्की की और इलायस मौब्लांक (Elias Maublanc) को महज 15 मिनट में 21-4, 21-2 से हरा दिया।

युगल जोड़ी को भी ताहिती से थोड़ी कड़ी टक्कर मिली, जिसमें टोक्यो ओलंपियन चिराग शेट्टी (Chirag Shetty) और सात्विकसाइराज रंकीरेड्डी (Satwiksairaj Rankireddy), और कृष्णा गारागा (Krishna Garaga) और विष्णु वर्धन (Vishnu Vardhan) की दूसरी भारतीय जोड़ी ने 5-0 से जीत दर्ज की।

इस जीत ने भारत को ग्रुप सी में दूसरे स्थान पर पहुंचा दिया। अब उनका सामना गुरुवार को ग्रुप की शीर्ष टीम और मौजूदा चैंपियन चीन से होगा।