भारत को AFC अंडर-23 एशियन कप क्वालीफायर में यूएई से मिली हार

अब्दुल्ला इदरीस ने पेनल्टी के जरिए यूएई को भारत पर 1-0 से जीत दिलाई।

लेखक शिखा राजपूत
फोटो क्रेडिट All India Football Federation

भारतीय फुटबॉल टीम बुधवार को फुजैरा स्टेडियम में हो रहे AFC अंडर-23 एशियन कप क्वालीफायर के अपने दूसरे मैच में यूएई से 1-0 से हार गया।

मेजबान टीम भारत के लिए अब्दुल्ला इदरीस ने 82वें मिनट में पेनल्टी शॉट लगाया, जो उनकी टीम को तीनों अंक दिलाने के लिए काफी था।

भारत की हार ने ग्रुप E में शीर्ष पर पहुंचने की दौड़ तेज कर दी है, जिसमें सभी चार टीमों के दो मैचों में तीन अंक और एक शून्य गोल का अंतर है।

AFC अंडर-23 एशियन कप 2022 में केवल ग्रुप विजेता और दूसरे स्थान पर रहने वाली चार सर्वश्रेष्ठ टीमों के साथ ग्रुप E के क्वालीफायर का निर्णय आखिरी मैच के दिन किया जाएगा।

भारत अभी भी अपने ग्रुप में शीर्ष पर रह सकता है और AFC अंडर-23 एशियन कप 2022 के लिए क्वालीफाई कर सकता है। अगर भारतीय टीम 30 अक्टूबर को किर्गिस्तान के खिलाफ मुकाबले में जीत हासिल करती है। इसके अलावा उन्हें यूएई और ओमान के मुकाबले को ड्रॉ कराने की भी जरूरत होगी।

अगर यूएई बनाम ओमान मैच में कोई विजेता है, तो भारत को यह सुनिश्चित करना होगा कि वे विजेता टीम की तुलना में बेहतर गोल के अंतर के साथ मैच को समाप्त करें। यदि भारत ग्रुप E में दूसरे स्थान पर रहता है, तो मुख्य इवेंट के लिए उनका क्वालीफिकेशन अन्य ग्रुप के परिणामों पर निर्भर करेगा।

भारतीय टीम ने अपना पिछला मैच ओमान के खिलाफ जीता था, लेकिन यूएई के खिलाफ जीत की लय को आगे नहीं बढ़ा सके।

शुरुआती 15 मिनट में मेजबान टीम के कब्जे में गेंद थी।

हालांकि, इगोर स्टिमैक के खिलाड़ियों ने UAE को शुरुआती बढ़त से वंचित कर दिया और 4-4-2 के साथ अच्छा बचाव किया।

जैसे-जैसे खेल आगे बढ़ा भारतीय फुटबॉल टीम ने अपने पैर जमा लिए और अपने खेल में भी सुधार किया।

भारत 25वें मिनट में गोल करने के करीब पहुंच गया, लेकिन विक्रम प्रताप का शॉट गोल के करीब नहीं पहुंच सका और उनकी कोशिश बेकार हो गई।

मैदान के दूसरी ओर मेजबान टीम भी मैच में बढ़त बना सकती थी लेकिन भारतीय गोलकीपर धीरज सिंह ने गोल रोकने की अच्छी कोशिश की। 21 वर्षीय खिलाड़ी ने राशिद सलेम की कोशिश को नाकाम कर दिया और गोल होने से रोक लिया।

दोनों टीमों के पास अपने-अपने मौके थे, लेकिन किसी टीम ने गोल नहीं किया और पहला हाफ बिना गोल के खत्म हो गया।

दूसरे हाफ में अमीरात ने खेल पर नियंत्रण हासिल कर लिया और भारतीय डिफेंस पर सवाल खड़े कर दिए।

एक घंटे का खेल होने तक UAE ने दो बड़े मौके गंवा दिए। पहले बॉक्स में मिक्स अप के कारण और दूसरा कुछ मिनट बाद, धीरज सिंह भारतीय टीम को फिर से बचाने के लिए वहां मौजूद थे।

लेकिन UAE ने आखिरकार 82वें मिनट में इस गतिरोध को तोड़ दिया।

सुरेश सिंह ने अली सालेह को बॉक्स के अंदर लाकर मेजबान टीम को पेनल्टी दी। अब्दुल्ला इदरीस ने स्पॉट किक लगाई और आखिर में विजेता टीम साबित हुई।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स