IFSC क्लाइम्बिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप: स्पीड इवेंट फाइनल में जगह बनाने से चूके कुमार गौरव

कुमार गौरव मॉस्को वर्ल्ड क्वालिफायर में शीर्ष 16 में जगह नहीं बना सके, जबकि उनके साथी भारतीय क्लाइम्बर ऋतिक मार्ने ने इसमें प्रतिस्पर्धा नहीं की।

लेखक रितेश जायसवाल
फोटो क्रेडिट Cameron Spencer/ Getty Images

भारतीय क्लाइम्बर कुमार गौरव (Kumar Gaurav) गुरुवार को मॉस्को में IFSC क्लाइम्बिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप 2021 में मेंस स्पीड इवेंट के क्वालिफिकेशन राउंड में 46वें स्थान पर रहे।

इरिना विनर-उस्मानोवा जिमनास्टिक पैलेस में 26 वर्षीय कुमार गौरव ने लेन 'ए' पर अपनी पहली रेस में 12.531 सेकंड का समय लिया और बाद में लेन 'बी' पर 9.979 सेकंड का समय दर्ज करते हुए अपने प्रदर्शन में सुधार किया।

हालांकि, यह समय उन्हें फाइनल में यानी शीर्ष-16 में पहुंचाने के लिए काफी नहीं था। फाइनल में नॉक-आउट सिस्टम को फॉलो किया जाएगा, जिसकी शुरुआत राउंड ऑफ 16 की रेसों से होगी।

इंटरनेशनल फेडरेशन फॉर स्पोर्ट क्लाइम्बिंग (IFSC) द्वारा निश्चित किए गए इवेंट में स्पीड क्लाइम्बिंग में जितनी जल्दी हो सके 15 मीटर लंबे आर्टिफिशियल सतह पर चढ़ना होता है।

इस बीच, ऋतिक मार्ने (Hritik Marne) जो इस टूर्नामेंट में एक अन्य भारतीय क्लाइम्बर के तौर पर मौजूद हैं, उन्होंने इस इवेंट में हिस्सा नहीं लिया।

मेंस स्पीड इवेंट में पोलैंड के पूर्व विश्व चैंपियन मार्सिन डिज़िएन्स्की (Marcin Dzienski) ने 5.714 सेकंड के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ क्वालिफिकेशन स्टेज में शीर्ष स्थान हासिल किया।

रूस के क्लाइम्बिंग फेडरेशन (CFR) का प्रतिनिधित्व करने वाले दिमित्री टिमोफीव (Dmitrii Timofeev) 5.726 सेकेंड में चढ़ाई करके दूसरे स्थान पर रहे।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स
यहां साइन अप करें यहां साइन अप करें