हॉकी: अर्जेंटीना के दौरे के लिए रवाना हुई भारतीय महिला टीम   

ओलंपिक की तैयारियों को मजबूती देने के लिए करीब एक साल बाद विदेशी जमीन पर अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने जा रही टीम 

लेखक दिनेश चंद शर्मा

भारत की महिला हॉकी टीम ने रविवार को अर्जेंटीना के लिए उड़ान भरी। यहां भारतीय खिलाड़ी जनवरी माह में मेजबान टीम से भिड़ेगी।

पहला मैच 17 जनवरी को अर्जेंटीना जूनियर महिला के खिलाफ खेलेंगे। एक दिन के ब्रेक के बाद वो दूसरे मैच में इसी टीम के खिलाफ मैच खेलने उतरेंगे।

उनके अगले दो मैच 22 और 24 जनवरी को अर्जेंटीना बी के खिलाफ होंगे, जबकि 26, 28, 30 और 31 जनवरी को सीनियर टीम के खिलाफ दौरे के अंतिम चार मैच खेले जाएंगे।

भारतीय समयानुसार सुबह 2:30 पर होंगे सभी मैच

कोरोना वायरस महामारी ने अचानक से ओलंपिक के लिए सभी तैयारियों पर ब्रेक लगा दिया। जनवरी 2020 में न्यूजीलैंड दौरे के बाद भारतीय महिला हॉकी टीम का यह पहला दौरा होगा। रानी रामपाल के नेतृत्व वाली टीम ने उस त्रिकोणीय राष्ट्र प्रतियोगिता में अच्छा प्रदर्शन किया। इसमें टीम ने पांच में से तीन मैचों में जीत हासिल की थी। प्रतियोगिता में ग्रेट ब्रिटेन की टीम भी शामिल थी।

भारत की कप्तान रानी ने कहा, "फिर से दौरा पर जाना बहुत अच्छा लग रहा है। पिछले कुछ महीनों में हमने अपने खेल पर कड़ी मेहनत की है और अब समय आ गया है कि हम अंतरराष्ट्रीय मैचों में अपने कौशल का प्रदर्शन करें। इस समय अंतरराष्ट्रीय मैचों में खेलना थोड़ा अलग होगा क्योंकि हमें जैव सुरक्षित वातावरण (Bio bubble) में रहना होगा। टीम हालांकि मैदान पर लौटने को लेकर उत्साहित है।"

भारतीय टीम ने अपना आखिरी प्रतिस्पर्धी मैच जनवरी 2020 में खेला था।

उप-कप्तान सविता पूनिया के अनुसार, प्रतिस्पर्धात्मक क्षण मिलने से उन्हें बेहतर बनने में मदद मिलेगी और मैचों के स्तर में सुधार होगा जो टोक्यो में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए जरूरी है।

पूनिया ने कहा, "हमें प्रतिस्पर्धी लय में वापस आने की सख्त जरूरत है, क्योंकि ओलंपिक में जाने के लिए ज्यादा समय नहीं बचा है।"

"हमने अभ्यास सत्रों में अच्छा किया था, लेकिन अंतरराष्ट्रीय मैच हमेशा किसी भी खिलाड़ी के लिए असली परीक्षा होती है। इस दौरे की व्यवस्था करने के लिए हम हॉकी इंडिया और SAI के आभारी हैं। यह दौरा शानदार हो और मैं उम्मीद करती हूं कि पहले मैच से ही हम अपनी पूरी क्षमता के साथ खेलना शुरू कर दें।"

अर्जेंटीना हॉकी कंफेडरेशन (CAH) के सहयोग से हॉकी इंडिया ने यह सुनिश्चित किया है कि खिलाडियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए टीम को बायो-बबल में रखा जाएगा।

टीमों के भोजन, मीटिंग और अन्य सत्रों के लिए अलग-अलग कमरों की व्यवस्था की गई है। रवानगी से 72 घंटे पहले उनका RT-PCR टेस्ट भी करवाया गया है।

हॉकी इंडिया की जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है, "अर्जेंटीना पहुंचने पर टीम को पृथकवास पर रहने की जरूरत नहीं पड़ेगी लेकिन टीम तब भी भारत और अर्जेंटीना की सरकारों के सुरक्षा और स्वास्थ्य उपायों का पालन करेगी।"

25 सदस्यीय भारतीय महिला हॉकी टीम: रानी (कप्तान), सविता (उप-कप्तान), रजनी एतिमारपू, बिचु देवी खरिबाम, गुरजीत कौर, दीप ग्रेस एक्का, रश्मिता मिंज, मनप्रीत कौर, रीना खोखर, सलीमा टेटे, निशा, सुशीला चानू पुखरंबम, लिलिमा मिंज, नेहा गोयल, नमिता टोप्पो, मोनिका, निक्की प्रधान, वंदना कटारिया, नवनीत कौर, नवजोत कौर, ज्योति, उदिता, राजविंदर कौर, लालरेमसियामी, शर्मिला देवी

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स
यहां साइन अप करें यहां साइन अप करें