2022 एशियाई खेलों के लिए क्वालीफाई करने की तैयारी में 'शौकिया शो-जम्पर' जहान सीतलवाड़

मुंबई के शो जम्पर ने 2022 एशियाई खेलों के लिए क्वालीफाई करने के लिए तीन न्यूनतम पात्रता आवश्यकता (MER) में से दो हासिल कर लिए हैं।

लेखक दिनेश चंद शर्मा

भारतीय शो जम्पर जहान सीतलवाड़ (Zahan Setalvad) 2022 एशियाई खेलों के लिए क्वालीफाई करने के लिए कोर्स में हैं। उन्होंने इस सप्ताह की शुरुआत में 0 (शून्य) पेनल्टी के साथ और 77.76 सेकंड के समय के साथ दूसरे ट्रायल में शीर्ष पर रहने के बाद 1.40 मीटर टीम इवेंट राउंड में अपनी दूसरी न्यूनतम पात्रता आवश्यकता (MER) हासिल की।

पहले मुंबई के शो जम्पर अपने मुख्य घोड़े क्विंटस जेड (Quintus Z) पर सवारी करते हुए पहले ट्रायल में तीसरे स्थान पर रहे थे और उन्हें एशियाई खेलों में अपनी दूसरी उपस्थिति के लिए कम से कम दो घोड़ों के क्वालीफाई करने का विश्वास है। उनका दूसरा घोड़ा एल कैप्रोन (El Capron) होगा, जिसे उन्होंने कोविड-19 लॉकडाउन के दूसरे चरण के दौरान हंगरी से हासिल किया था।

महाद्वीपीय शोपीस इवेंट में उनकी पहली उपस्थिति 2018 में थी, जहां वह फाइनल 1 में 30वें स्थान पर रहे थे।

सीतलवाड़ ने Olympics.com को बताया, "अब तक (2022 एशियाई खेलों का ट्रायल) अच्छा चल रहा है। मैं दो घोड़ों के साथ टीम स्पर्धा में क्वालीफाई करना चाहता हूं।"

लेकिन इस समय ज़हान के लिए पढ़ाई और शो-जंपिंग के बीच जीवन को संतुलित बनाए रखना है। वो शो-जंपिंग को केवल अपना शौक मानते हैं। 

22 वर्षीय, मुंबई के रिज़वी लॉ स्कूल से लॉ में स्नातक की डिग्री हासिल कर रहे हैं और कोर्स में अभ्यास शुरू करने के बाद वो अपना ध्यान अपने पेशे में बढ़ने पर केन्द्रित करेंगे।

जहान सीतलवाड़

जहान ने कहा, "यह (शो-जंपिंग) ऐसा कुछ नहीं है, जिसमें मैं अपना करियर बनाना चाहता हूं। मैं लॉ का छात्र हूं और इसके चौथे वर्ष में हूं। यह मेरा पेशा है। मैं इसे भी गंभीरता से लेता हूं, क्योंकि मुझे बहुत ऊंचाई पर जंप करना है, लेकिन यह मेरा पेशा नहीं होगा।" 

उन्होंने कहा, "यह दूसरे के लिए कुछ त्याग करने और एक-दूसरे के बीच संतुलन बनाने को लेकर है। यह कोविड-19 के दौरान भी आसान है, जब सब कुछ ऑनलाइन है। मैं एक वकील बनने जा रहा हूं। लेकिन, जब मैं प्रेक्टिस (लॉ) शुरू करता हूं, तो मेरी घुड़सवारी इतनी तेज नहीं होगी। मैं इसे मजे के लिए करता रहूंगा।"

दो बार के राष्ट्रीय चैंपियन 2018 और 2019 बहुत छोटी उम्र में इस खेल में आने के साथ अपनी पहली सफलता के बाद से शो-जंपिंग में अपनी उपलब्धियों से संतुष्ट हैं।

उनके दादा भारत में KSB पंप मैन्यूफेक्चरर्स के चेयरमैन थे और पिता ने बॉम्बे उच्च न्यायालय में अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल के रूप में कार्य किया। हालांकि, दोनों पीढ़ियां दौड़ के घोड़ों से जुड़े हुए थे और इससे ज़हान और उनके बड़े भाई कावन को इस खेल को अपनाने में मदद मिली।

ज़हान ने याद करते हुए कहा, "मेरे दादा और पिता के पास रेस के घोड़े थे। इसलिए, हम हर रविवार को दोपहर में जाते थे और मुंबई में रेसिंग देखते थे।"

वह अगली बार 2022 एशियाई खेलों के लिए तीसरे शो-जंपिंग ट्रायल में दिखाई देंगे, जो 12 से 17 जनवरी, 2022 तक चलेगा।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स