छलांग लगाने से उड़ान भरने तक, कैसे सीखते हैं फ्रीस्टाइल स्कीयर नए पैंतरे?

शीतकालीन खेलों में दर्शकों को बहुत सारे पैंतरे देखने को मिलते हैं लेकिन क्या वह जानते हैं कि खिलाड़ी यह कैसे सीखते हैं? शीतकालीन ओलंपिक खेल बीजिंग 2022 से पहले Olympics.com आपको इन खिलाड़ियों और उनकी मेहनत के बारे में बताएगा। 

लेखक Jo Gunston
फोटो क्रेडिट 2021 Getty Images

क्या आपने किसी भी व्यक्ति को झील पर जाने से पहले स्विमिंग सूट के साथ स्की पहनते हुए देखा है? शायद नही, लेकिन फ्रीस्टाइल स्कीयर ऐसा करते हैं और इसके पीछे एक बहुत बड़ा कारण है।

उलटी छलांगे और कलाबाज़ियां करने वाले फ्रीस्टाइल स्कीयर एरियल्स, बिग एयर, स्लोपस्टाइल, मोगल्स या हाफपाइप जैसे वर्गों में भाग लेते हैं और जो भी वह करते हैं उसे सीखने अथवा कुशलता पाने में बहुत समय लगता है। 

स्लोप पर जाने से पहले झील एक ऐसा स्थान है जहां खिलाड़ी लैंड करने का अभ्यास करते हैं और बर्फ से अलग होने के बाद भी उनकी सहायता करता है। कैसे सीखते हैं फ्रीस्टाइल खिलाड़ी यह सारे पैंतरे?

ऐसे होती है शुरुआत

इससे पहले की आप यह जानें कि खिलाड़ी कैसे सीखते हैं इतने खतरनाक और मुश्किल पैंतरे, ज़रा देख लीजिये कि वह अंत में क्या करना चाहते हैं और कैसा होता है विश्व स्तर के खिलाड़ियों का प्रदर्शन। नीचे के वीडियो में देखिये 2021/2022 सीज़न के बिग एयर विश्व कप की पुरुष प्रतियोगिता की तीन सर्वश्रेष्ठ छलांगें।

इतनी बड़ी छलांग लगाने के लिए सिर्फ कूदने की हिम्मत रखना ही काफी नहीं है। कैसे करते हैं खिलाड़ी अभ्यास की शुरुआत।

हवा में घूमना एक महत्वपूर्ण पहलु है और इससे खिलाड़ियों को अपनी शारीरिक स्थिति के बारे में पता चलता है। यह पता लगाने के लिए वह जिम्नास्टिक्स के जिम में अभ्यास करते हैं जहां कलात्मक जिम्नास्टिक्स के खिलाड़ी उनकी सहायता करते हैं और फोम पिट, ट्रैम्पोलीन और क्रैश मैट से सहयोग मिलता है। शीतकालीन खेलों के खिलाड़ियों को जिम्नास्टिक्स का थोड़ा ज्ञान होता है और इससे उन्हें बहुत सहायता मिलती है।

एक चीज़ को कई बार करना खिलाड़ियों के लिए अनिवार्य होता है और इसका अभ्यास करने के लिए वह ट्रैम्पोलीन का प्रयोग करते हैं क्योंकि एक ढलान में उन्हें कई बार ऊपर नीचे जाना होता है।

हर खेल के लिए अलग तकनीक का प्रयोग होता है और नीचे दिए गए वीडियो में ओलंपिक खिलाड़ी Ashley Caldwell इसके बारे में बात करती हैं। वह इस वीडियो में बताती हैं कि ट्रैम्पोलीन की सहायता से कैसे एरियल्स से जुड़ी अलग तकनीकों अभ्यास होता है क्योंकि इस वर्ग में शरीर को बिलकुल सीधा रखना होता है।

ट्रैम्पोलीन के अलावा कुछ खिलाड़ी तैराकी पूल के डाइविंग बोर्ड का भी प्रयोग करते हैं और लैंडिंग को सुधारने का प्रयास करते हैं। पूल और लेक दोनों में अभ्यास समान होता है लेकिन पूल में खिलाड़ी स्की नहीं पहनता क्योंकि लक्ष्य सिर्फ हवा में घूमना और मुड़ना होता है। 

एक बार जब खिलाड़ी हवा में मुड़ना और घूमना सीख लेते हैं तो अगला कदम स्की के साथ अभ्यास करने का होता है। एक ढलान से झील में कूदने से खिलाड़ी कलाबाज़ी का अभ्यास करते हैं, चाहे स्की या स्नोबोर्ड के साथ। ऐसा करते समय वह स्की सूट के स्थान पर वेट सूट पहनते हैं क्योंकि पानी में जाने के लिए वह बेहतर है।

ब्रिटेन के लिए मोगल्स प्रतियोगिता में भाग लेने वाली Leonie Gerken Schofield अपने भाई Tom और छोटी बहन Kayla के साथ खेलती हैं और तीनों ओलंपिक शीतकालीन खेल बीजिंग 2022 में भाग लेने की आशा रखते हैं।

Olympics.com से बात करते हुए अक्टूबर में Gerken Schofield ने मोगल्स प्रतियोगिता की बारीकियों को बताया और यह भी समझाया कि वह एक पैंतरे को सफल कैसे बनाती हैं। मोगल्स एक ऐसा वर्ग है जिसमे गतिशील होने के साथ एक खिलाड़ी को उच्च श्रेणी की छलांग लगाना आना चाहिए। 

उन्होंने कहा, "एक से ज़्यादा छलांग होती है और उसके बाद लैंड भी करना होता है। लैंड करने के बाद 40 टकराव होते हैं और इसलिए आपको पैंतरा सफलता पूर्वक करना होता है।"

अपने पैंतरे के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, "एक बार जब हम ट्रैम्पोलीन को अच्छे से समझ लेते हैं तो हम उसे एक वाटर रैंप पर रखते हैं और उस दिन को ढूढंते हैं जब पाउडर जैसी बर्फ होती है। जब हम एक दम संतुष्ट हो जाते हैं तो उन्हें मोगल्स रन में रखते हैं।"

मोगल्स जगत के राजा कहे जाने वाले कनाडा के सितारे Mikael Kingsbury की कुशलता नीचे के वीडियो में देखिये।

इस खेल की प्रगति को देखें तो साल 1992 के ओलंपिक खेलों में पहली बार इस प्रतियोगिता के आयोजन के बाद कई अभ्यास केंद्र बने हैं। यूटाह ओलंपिक पार्क को खास साल्ट लेक सिटी 2002 खेलों के पहले बनाया गया और अब संयुक्त राज्य ओलंपिक समिति इसे खिलाड़ियों की सहायता के लिए प्रयोग करता है।

खेल शुरू होने का समय आ गया है 

अब आप जब बीजिंग 2022 खेलों में फ्रीस्टाइल खिलाड़ियों को छलांग लगाते हुए और हवा में घूमते दिखेंगे तो आपको पता होगा कि इसके पीछे क्या अभ्यास रहा है। आपको यह भी पता होगा कि यह कितना कठिन है।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स